सीएम को रक्षाबंधन के दिन जैसलमेर में महिला विधायकों ने बांधी थी राखी, एक सप्ताह बाद बड़ी बहन से लेने पहुंचे आशीर्वाद

- सीएम गहलोत राखी पर नहीं आ पाए बहन के घर

By: Avinash Kewaliya

Published: 12 Aug 2020, 09:16 PM IST

जोधपुर.
हर रक्षाबंधन मुख्यमंत्री अशोक गहलोत अपनी बड़ी बहन विमला कंवर से राखी बंधवान आते हैं। लेकिन इस बार सियासी घटनाक्रम और कोरोना के चलते व्यस्तता के कारण वे जोधपुर नहीं आ पाए थे। उस दिन जैसलमेर के सूर्यागढ़ में कांग्रेस की महिला विधायकों ने सीएम को राखी बांधी थी। सोशल मीडिया वे फोटो और वीडियो काफी शेयर किए गए। उस दिन दोपहर बाद सीएम गहलोत के जोधपुर दौरे के कयास लगाए गए। लेकिन अंत में वह दौरान निरस्त हो गया। बुधवार को जब वह जोधपुर में पाक विस्थापितों को श्रद्धांजलि देने व कोविड समीक्षा करने आए थे तो अपनी बहन का आशीर्वाद लेने से नहीं रुक पाए। बैठक समाप्त करने के बाद सीधे लालसागर स्थित बहन के निवास पहुंचे। यहां राखी बंधवाई और आशीर्वाद लिया। कुछ देर बहन की कुशलक्षेम पूछी और बातें की। सोशल मीडिया पर उन्होंने खुद इसका वीडियो भी शेयर किया। जब भी राखी का त्योहार होता है तो सीएम अपनी बड़ी बहन से राखी बंधवाने जरूर आते हैं। इस मौके पर उनके भांजे जसवंतसिंह कच्छवाह सहित उनके परिवारजन भी थे। यहां कुछ देर रुकने के बाद सीएम एयरपोर्ट के लिए रवाना हो गए।

Avinash Kewaliya
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned