बर्ड फ्लू की आशंका के चलते पक्षी गणना स्थगित

-जोधपुर शहर व जिले में 110 से अधिक प्रजातियों के पक्षियों का जमावड़ा
-विशाल जलीय पक्षी पेलिकन्स के समूहों को रास आने लगी मारवाड़़ की आबोहवा

By: Jay Kumar

Updated: 14 Jan 2021, 08:06 PM IST

जोधपुर. वनविभाग की ओर से प्रतिवर्ष शीतकाल में आने वाले प्रवासी पक्षियों की जनवरी में की जाने वाली गणना इस बार बर्ड फ्लू की आशंका के कारण स्थगित कर दी गई है।

बर्ड फ्लू की आशंका के बावजूद प्रवासी पक्षियों को जोधपुर व मारवाड़ की आबोहवा और यहां का सुरक्षित माहौल रास आने लगा है। प्रवासी मेहमान पक्षी कुरजां सहित इन दिनों 1१0 से अधिक प्रजातियों के पक्षियों का आगमन हो चुका है। तापमान में गिरावट के साथ ही जोधपुर में पेलिकन के अलग-अलग समूह भी कायलाना, अखेराजजी का तालाब, सरदार समंद, ओळवी तालाब, कोरना तालाब, माचिया रपट, बड़ली तालाब पर विचरण करते नजर आने लगे हैं। पक्षी विशेषज्ञों का मानना है कि अनुकूल जलवायु व सर्दी विलंब से शुरू होने के कारण प्रवासी परिन्दे इस बार ज्यादा समय तक जोधपुर व आसपास के जलाशयों पर ठहराव करने की उम्मीद है।

संभाग के मुख्य वन संरक्षक (वन्यजीव ) हनमानराम चौधरी ने बताया कि वन मुख्यालय से पक्षियों की गणना संबंधी कोई निर्देश अभी तक प्राप्त नहीं हुए है। माचिया जैविक उद्यान के सहायक वन संरक्षक केके व्यास ने बताया कि शीतकाल में जनवरी माह के मध्य में प्रवासी पक्षियों की संख्या पीक पर होने से विभाग की ओर से प्रतिवर्ष शीतकालीन गणना कराई जाती है।

Jay Kumar
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned