छह माह बाद जागा विभाग, हाइवे से हटने लगा मलबा

छह माह बाद जागा विभाग, हाइवे से हटने लगा मलबा

Manish Panwar | Publish: Sep, 06 2018 11:33:05 PM (IST) Jodhpur, Rajasthan, India

लोहावट. जोधपुर-फलोदी स्टेट हाइवे के घुमावदार मोड़ पर रेलवे ओवर ब्रिज के निर्माण कार्य के दौरान डाला गया अब छह माह बाद हटाने का कार्य प्रारंभ हुआ है।

लोहावट. जोधपुर-फलोदी स्टेट हाइवे के घुमावदार मोड़ पर रेलवे ओवर ब्रिज के निर्माण कार्य के दौरान डाला गया अब छह माह बाद हटाने का कार्य प्रारंभ हुआ है। बाबा रामदेव मंदिर के सामने सहित करीब आधा किलोमीटर क्षेत्र में मलबा डाला गया था। मलबा हटाने से बाबा रामदेव की समाधि के दर्शनाथ जाने वाले जातरुओं को भी राहत मिल सकेगी। राजस्थान पत्रिका ने इस मुद्दें को उठाया था और 10 जुलाई के अंक में हाइवे के मोड़ पर मलबा डालकर भूले के शीर्षक से खबर प्रकाशित की थी। इसके बाद अब सार्वजनिक निर्माण हरकत में आया तथा स्टेट हाइवे से मलबा हटाने के कार्य प्रारम्भ किया। मलबे से हटने से अब लोगों को कम परेशानी का सामना करना पड़ेगा तथा रामदेवरा जा रहे जातरुओं को भी काफी राहत मिलेगी।

सार्वजनिक निर्माण विभाग के कार्यवाहक सहायक अभियंता नवीन आचार्य ने बताया कि बाबा रामदेव मंदिर के सामने एवं आस-पास के इलाके में जेसीबी लगाकर मलबा को हटाने का कार्य प्रारंभ कर दिया गया है। गौरतबल है कि लोहावट में रेलवे ओवर ब्रिज के निर्माण कार्य के दौरान स्टेट हाइवे को जोडऩे वाले स्थान पर जंक्शन बनाने किया गया था। इस दौरान वहां पर खुदाई के दौरान निकली मिट्टी, पत्थर आदि मलबे को ठेकेदार ने बाबा रामदेव मंदिर के सामने तथा आस-पास के क्षेत्र में करीब आधा किलोमीटर क्षेत्र में डाल दिया था।

इस कारण हाइवे पर घुमावदार मोड़ होने से हर समय हादसे की आशंका बनी हुई थी। स्टेट हाइवे से प्रतिदिन सैकडों की संख्या में वाहनों की आवाजाही बनी रहती है। वही लोकदेवता बाबा रामदेव की समाधि के दर्शनार्थ जाने वाले पैदल यात्री मंदिर परिसर में विश्राम करते तथा वाहनों से आने वाले यात्री मंदिर के सामने वाहनों को खड़ा करते है। अब मलबा हटने से यात्रियों को भी राहत मिल सकेगी। पूर्व में ग्रामीणों द्वारा विभाग से कई बार मलबा हटाने की मांग की गई थी, लेकिन नहीं हटाया गया था।

 

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

Ad Block is Banned