स्कूल के ऊपर हाईटेंशन लाइन, हर पल नौनिहालों की जान को खतरा

हाइवे पर स्थित राजकीय उच्च प्राथमिक विद्यालय बीनावास के ऊपर से गुजर रही उच्च क्षमता की हाईटेंशन विद्युत लाइन शिक्षकों, अभिभावकों व पढऩे वाले बच्चों के लिए परेशानी बनी हुई है।

By: pawan pareek

Updated: 17 Sep 2019, 04:44 PM IST

खारिया मीठापुर (जोधपुर). हाइवे पर स्थित राजकीय उच्च प्राथमिक विद्यालय बीनावास के ऊपर से गुजर रही उच्च क्षमता की हाईटेंशन विद्युत लाइन शिक्षकों,अभिभावकों व पढऩे वाले बच्चों के लिए परेशानी बनी हुई है। इससे हर पल नौनिहालों की जान जाने का खतरा बना हुआ है।

बीनावास स्कूल की प्रधानाध्यापिका सरोज चौधरी व पंचायत समिति सदस्य कमलेश चौधरी ने कई बार विद्युत निगम के अधिकारियों, शिक्षा विभाग के अधिकारियों व जनप्रतिनिधियों को इस मामले की शिकायत की तथा लिखित में हाईटेंशन लाइन हटाने की कार्रवाई करने की मांग की। साथ ही स्थानीय विद्यालय प्रबंधन ने सम्पर्क पोर्टल पर भी इसकी शिकायत दर्ज करवाई, लेकिन वर्षों बीत जाने के बाद भी कोई कार्रवाई नहीं हुई।

प्रधानाध्यापिका चौधरी ने बताया कि स्कूल के ऊपर से हाईटेंशन लाइन गुजर रही है, जिससे पढऩे वाले विद्यार्थियों की जान जोखिम में है । शासन की गाइडलाइन के मुताबिक किसी भी स्कूल का संचालन इस परिस्थिति में नहीं किया जा सकता है।

यदि किसी दिन हाईटेंशन लाइन गिरी या बच्चे आते-जाते इसकी चपेट में आ गए तो गंभीर हादसा हो सकता है। इस विद्यालय में पढऩे वाले बच्चों को प्रतिदिन पीने के पानी के लिए ,पेशाब व शौच के लिए हाईवोल्टेज लाइन के नीचे से होकर गुजरना पड़ता है।

प्रार्थना के समय भी बच्चे इसी हाईटेंशन लाइन के नीचे खड़े रहते हैं। भोजनावकाश के समय बच्चे इसी हाइटेंशन लाइन के नीचे खेलते हैं ,जिससे हर पल हादसे की आशंका बनी रहती हैं। बारिश के दिनों में कई बार विद्यालय परिसर में करंट फ ैल चुका है । तेज हवा के समय पेड़ की डालियों के टकराने से आए दिन स्पार्किगं होती रहती है। विद्यालय में 126 विद्यार्थी अध्ययनरत हैं।


अभिभावक चिंतित
हाईटेंशन लाइन गुजरने से पढऩे वाले बच्चों के अभिभावकों क ो हर पल असुरक्षा का भय सताता है। इस संबंध में अभिभावकों द्वारा प्रधानाध्यापिका को कई बार अवगत करवाया जा चुका है। कई अभिभावक तो इस बार सत्र शुरू होने के समय अपने बच्चों की टीसी लेने के लिए आ गए। पास में बने घरों में रहने वाले लोग भी हाईटेंशन तार हटाने की मांग कर रहे हैं।


इन्होंने कहा

विद्युत निगम द्वारा बीनावास के सरकारी विद्यालय से गुजर रही हाईटेंशन लाइन को हटाने के लिए विभाग द्वारा एस्टीमेट बना लिया गया है। इसको रिवाइज कराने के प्रयास जारी हैं। गलती से इस लाइन को निकाला गया है। जल्द ही इसको हटाने के प्रयास किए जाएंगे।
-रमेश मेघवाल, एईएन डिस्कॉम पीपाड़ शहर

pawan pareek Desk
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned