धातु के हार को सोने का बता ज्वैलर से 13 लाख रुपए ऐंठे

- दिवंगत मां का हार बताया और बेचकर भाइयों में बंटवारा करने का झांसा दिया
- मण्डोर थाना पुलिस ने एफआइआर दर्ज नहीं की
- आरोपियों के सुराग मिलने पर चौहाबो थाने में मामला दर्ज

By: Jay Kumar

Published: 17 Jan 2021, 05:51 PM IST

जोधपुर. आमजन से धोखाधड़ी करने वाले दो व्यक्तियों ने इस बार ज्वैलर को झांसे में लेकर धातु के हार को सोने का बताकर डीपीएस चौराहे के पास तेरह लाख रुपए ऐंठ लिए। जांच में हार नकली निकलने पर पीडि़त ज्वैलर मण्डोर थाने पहुंचा, लेकिन एफआइआर दर्ज नहीं की गई। सूरसागर थाने में पकड़ में आए एक आरोपी से दोनों ठगों के सुराग मिलने पर चौहाबो थाना पुलिस ने मामला दर्ज किया।

पुलिस के अनुसार मूलत: देवातड़ा हाल मगरा पूंजला में भाटी चौराहा निवासी रणजीत पुत्र किरताराम की भाटी चौराहे के पास ज्वैलरी की दुकान है। गत सात जनवरी को वह किसी कार्यवश पालड़ी राणावता गया था। दुकान में ***** जितेन्द्र बैठा था। तब दो व्यक्ति वहां आए। एक व्यक्ति ने खुद को राहुल प्रजापत बताया और जितेन्द्र से कहा कि उसकी मां का निधन हो गया है। मां का सोने का हार बेचकर चारों भाइयों में बंटवारा करना है। दोनों व्यक्तियों ने उसे सोने का नकली हार दिखाया और उसमें से दो मोती निकालकर जांच कराने के लिए जितेन्द्र को दिए।
शाम को रणजीत दुकान लौटा तो साले ने पूरी बात बताई। उसने दोनों मोती दिए। जिनकी जांच कराई गई तो वे सोने के निकले। दूसरे दिन दोनों लोगों से बात होने पर ज्वैलर हार देखने के लिए न्यू हाईकोर्ट के पास पहुंचा, जहां दोनों व्यक्तियों ने पूरा हार ६०७ ग्राम सोने का बताया। फिर उसने जांच कराने के लिए हार में से एक मोती और लिया। जांच में वह भी सोने का निकला।

गत ८ जनवरी की दोपहर ज्वैलर के पास ठगों का फोन आया। सौदा होने पर वह १३ लाख रुपए लेकर डीपीएस चौराहा पहुंचा, जहां दोनों को उसने रुपए दिए और बदले में सोने का नकली हार लिया। जिसे लेकर वह घर आ गया। दूसरे दिन जांच कराने पर हार पूरा नकली निकला।

गिरफ्तार ठग से मिले दोनों ठगों के सुराग
धोखाधड़ी होने पर पीडि़त ज्वैलर मण्डोर थाने पहुंचा, लेकिन पुलिस ने मामला दर्ज नहीं किया और चौहाबो थाने जाने की नसीहत दे डाली। इस बीच, गत चौदह जनवरी को सूरसागर थाने में एेसे ही एक ठग पकड़े जाने का पता लगा। वह थाने पहुंचा और गिरफ्तार जितेन्द्र को दोनों ठगों के फोटो दिखाए। तब उसने दोनों के नाम गोविंद व जगदीश बावरी होने की जानकारी दी।

Jay Kumar
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned