हिरण का शिकार, पुलिस के पहुंचने तक शिकारी फरार

चाखु थाना क्षेत्र के चिमाणा गांव की रोही में बुधवार रात्रि तीन शिकारियों हिरण का शिकार कर लिया। चाकू व छर्रों से शिकारियों ने शिकार की वारदात को अंजाम दिया।

By: pawan pareek

Published: 07 Jun 2018, 06:39 PM IST

बाप (जोधपुर). चाखु थाना क्षेत्र के चिमाणा गांव की रोही में बुधवार रात्रि तीन शिकारियों हिरण का शिकार कर लिया। चाकू व छर्रों से शिकारियों ने शिकार की वारदात को अंजाम दिया।

 

इस मामले को लेकर भोजासर निवासी मनफूल पुत्र फूसाराम विश्नोई व चाखू जयप्रकाश पुत्र बीरूराम विश्नोई ने क्षेत्रीय वन अधिकारी कार्यालय बाप में प्राथमिकी दर्ज कराई कि गुरुवार सुबह 6 बजे वे दोनों चाखु गांव की तरफ जा रहे थे।

इसी दौरान बीच रास्ते चिमाणा गांव में बीरबलराम के घर के पास से चिमाणा निवासी सलीम पुत्र नेकु खान व पीरू पुत्र मेहरदीन खान हिरण का शिकार कर अपने घर की तरफ जा रहे थे। इन दोनों के पीछे नेकु खान पुत्र हाजी खान हाथ में हथियार व लाठी लेकर चल रहा था।

 

प्रार्थी दो होने के कारण चाखु चले गए तथा पुलिस को सूचना दी। पुलिसकर्मी व प्रार्थी मौके पर पहुंचे, तब तक शिकारी वहां से भाग गए। शिकारियों के पद चिह्न देखकर उनका पीछा किया तथा नेकु खान के घर पहुंचे। यहां पर हिरण की खाल व भ्रूण मिला। क्षेत्रीय वन अधिकारी ने बताया कि प्राथमिकी दर्ज कर मामले की जांच प्रारंभ कर दी है।

सूचना मिलने पर गुरुवार को क्षेत्रीय वन अधिकारी जेठमालसिंह सोढा़, वनरक्षक राजुराम विश्नोई, भाजयुमो जांबा मण्डल महामंत्री मूलाराम पूनिया सहित वन्यजीव प्रेमी मौके पर पहुंचे। वन्यजीव प्रेमियों ने रोष जाहिर करते हुए बताया कि चाखु थाना क्षेत्र में आए दिन हिरण शिकार की घटनाएं हो रही है। शिकार की बढती घटनाओं पर अंकुश लगाने के लिए प्रभावी कदम उठाने की मांग की गई।

 

3 जून को भोपालगढ़ क्षेत्र में भी किया था शिकार

भोपालगढ़ क्षेत्र के खेड़ी ढाणी-आमलियावास गांव के बीच रेलवे फाटक संख्या 145 और 146 के बीच रेलवे लाइन बदलने का काम करने वाले श्रमिकों ने रविवार सुबह हिरण का शिकार किया। सूचना मिलने पर वन विभाग की टीम ने मौके पर पहुंचकर पांचों आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया।

आरोपी मृत हिरण की खाल उतारकर श्रमिक उसका मांस पकाने की तैयारी में थे, तभी वहां से गुजर रहे वन्यजीव प्रेमियों ने इन शिकारियों को देख लिया और वन विभाग की भोपालगढ़ रेंज को सूचित कर दिया। रेंजर जसवंतसिंह की टीम ने मौके पर पहुंचकर उत्तरप्रदेश निवासी पांच मजदूरों को गिरफ्तार करते हुए उनके कब्जे से मृत हिरण को भी बरामद कर लिया।

pawan pareek Desk
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned