कोरोना से 8 दिनों के अंतराल में पहले पति और फिर पत्नी की मौत

- पत्नी की अंतिम रिपोर्ट नेगेटिव, इसलिए रिकॉर्ड में नहीं
- बुधवार को कोरोना के 350 नए रोगी और 3 की मौत

By: Jay Kumar

Published: 08 Oct 2020, 05:43 PM IST

जोधपुर. कोरोना का चेहरा कितना खतरनाक है, इसी का उदाहरण कई परिवारों पर देखा जा सकता है। कहीं घर में भाइयों की तो कहीं दंपती की कोरोना के कारण सांसें उखड़ रही है। कबूतरों का चौक के समीप पुरा मोहल्ला निवासी लक्ष्मीनारायण व्यास की गत ३० सितंबर को मौत हुई थी,्र वहीं गुरुवार को कोरोना के कारण एमडीएम अस्पताल में भर्ती रही व्यास की पत्नी मानता का निधन हो गया। मानता की अंतिम रिपोर्ट नेगेटिव रही। इस कारण वे कोरोना मृतक रिकॉर्ड में शामिल नहीं की गई।

गांधी अस्पताल के सीनियर नर्सेज की भी मौत
महात्मा गांधी अस्पताल के सीनियर नर्सेज मुरली मनोहर जोशी की भी मौत हो गई। जोशी की भी लास्ट रिपोर्ट नेगेटिव थी, उन्हें कोविड के बाद यहां तबीयत बिगडऩे के कारण अहमदाबाद ले जाया गया, जहां कई दिन उनका इलाज चला। आखिर उनकी मौत हो गई।

बीकानेर मेडिकल कॉलेज प्रिंसिपल और जोधपुर निवासी डॉ. राठौड़ पॉजिटिव
जोधपुर डॉ. एसएन मेडिकल कॉलेज के पूर्व प्रिंसिपल व बीकानेर मेडिकल कॉलेज के प्रिंसिपल जोधपुर निवासी डॉ. एसएस राठौड़ भी कोरोना पॉजिटिव आए है। वे जोधपुर में ही अपना इलाज ले रहे है।

अब 350 नए संक्रमित और 3 की मौत
शहर में बुधवार को ३५० नए रोगी सामने आए और ३ की मौत हो गई। जोधपुर में अब तक ४०८ से ज्यादा मौतें हो चुकी है। एम्स में भर्ती प्रकाश (७४ ) की मौत हो गई। मानसरोवर डीपीएस स्कूल के सामने पाल रोड निवासी नवनीत कौर की मौत हो गई। एमजीएच में मेघवालों का बास बिलाड़ा निवासी कैलाश (४५ ) की मौत हो गई। शहर में कई एेसे कई पॉजिटिव मरीज है, जिनकी रिपोर्ट मौत से कुछ समय पहले नेगेटिव आ रही है, ये रोगी कोरोना मृतक रिकॉर्ड में नहीं जोडे़ जा रहे है।

Jay Kumar
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned