शराब लाइसेंस के आवेदन शुल्क से 49 करोड़ की आय

-आवेदन जमा कराने का आज अंतिम दिन, अब तक 22637 आवेदन जमा, 16340 आवेदन वैरीफाइड

By: Vikas Choudhary

Published: 07 Mar 2020, 12:28 AM IST

जोधपुर.

नए वित्तीय वर्ष में शराब दुकानों के लाइसेंस के लिए जोधपुर जिले में आवेदन शुल्क से आबकारी विभाग को ४९ करोड़ से अधिक की आय हो चुकी है। अब तक २२६३७ आवेदन पत्र जमा हुए हैं और इनमें से १६३४० आवेदन पत्र वैरीफाइड किए जा चुके हैं। राज्य सरकार ने आवेदन पत्र जमा कराने के दो दिन की और छूट दी है। अब शनिवार रात ११.५९ बजे तक आवेदन पत्र जमा कराए जा सकेंगे।

जिला आबकारी अधिकारी उदयभानू चारण के अनुसार अंग्रेजी व देसी शराब दुकानों के लाइसेंस के लिए आवेदन पत्र २७ फरवरी तक जमा कराए जाने थे, लेकिन सरकार ने अंतिम तिथि पांच मार्च रात ११.५९ बजे तक बढ़ा दी थी। अब एक बार फिर अंतिम तिथि दो दिन के लिए और बढ़ाई गई है। अब सात मार्च यानि शनिवार रात ११.५९ बजे तक ऑनलाइन अथवा ई-मित्र के जरिए आवेदन पत्र जमा कराए जा सकेंगे। १२ मार्च को टाउन हॉल में लॉटरी निकाली जाएगी।
८० करोड़ रुपए का टारगेट

गत वर्ष करीब २८ हजार आवेदन पत्र जमा कराए गए थे। इनमें से २४ हजार आवेदन पत्र वैरीफाइड को सके थे। इस बार आबकारी विभाग ने सिर्फ जोधपुर जिले में ८० करोड़ रुपए सिर्फ आवेदन शुल्क से आय का लक्ष्य निर्धारित किया है। अब तक १६३४० आवेदन पत्र तस्दीक हो चुके हैं। इनसे ४९ करोड़ दो लाख रुपए आय हो चुकी है। ६२९७ आवेदन पत्रों की जांच की जा रही है। जोधपुर जिले में देसी शराब के २३८ समूह हैं। वहीं, भारत निर्मित विदेशी मदिरा की जोधपुर में ६६, बिलाड़ा व फलोदी में तीन-तीन और पीपाड़ में दो समूह के लिए आवेदन जमा होने हैं। इन सभी समूहों के लिए आवेदन पत्र प्राप्त हो चुके हैं।

Vikas Choudhary Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned