GOLD--शादी वाले घरों में लौटी रौनक, ज्वैलरी बाजार मुस्कुराया

- सोना रिकॉर्ड स्तर से 11 हजार रुपए हुआ सस्ता

- 3-4 दिन में तेजी आई, फिर भी निवेश का अच्छा मौका

By: Amit Dave

Published: 24 Feb 2021, 10:33 PM IST

जोधपुर।

आगामी एक-दो माह में जिन लोगों के घरों में शादियां है, वहां रौनक लौटी है, और ज्वैलरी बाजार लंबे अर्से बाद मुस्कुराया है। इसकी वजह सोना अपने रिकॉर्ड स्तर से 11 हजार रुपए सस्ता हुआ है। पिछले महिने में सोने में भारी गिरावट आइ, मगर गत 3-4 दिन में 1500 रुपए की तेजी लौटी है लेकिन अभी भी सोने में निवेश फ ायदे का सौदा होगा। सोना अभी भी 50 हजार रुपये से नीचे है। ज्वैलरी कारोबारियों के अनुसार हफ्ते की शुरुआत में सोना 47400 रुपए प्रति 10 ग्राम के स्तर पर था, जो अब 48500 रुपए प्रति 10 ग्राम के स्तर पर पहुंच गया है। वहीं पिछले कुछ दिनों में चांदी करीब 4 हजार रुपए महंगी हुई है। सोने में भारी गिरावट की वजह भारत सरकार द्वारा कस्टम ड्यूटी में कमी करना व कोविड वैक्सीन से विश्व में अनिचिश्तता कम होना है।

-

पिछले साल वैश्विक तनाव के कारण जमकर निवेश हुआ

पिछले साल वैश्विक तनाव की वजह से लोगों ने सोने में जमकर निवेश किया था। अगस्त 2020 में एमसीएक्स पर 10 ग्राम सोने का भाव 58000 रुपए के उच्चतम स्तर पर पहुंच गया था। पिछले साल सोने ने 40 प्रतिशत का रिटर्न दिया था, अगर उच्चतम स्तर से तुलना करे तो सोना 20 से ज्यादा प्रतिशत तक टूट चुका है। सोना में पिछले दिनों में एमसीएक्स पर 45995 रुपए प्रति 10 ग्राम के लेवल पर ट्रेंड हुआ। वहीं फि जिकल बाजारों में 47300 तक गया और निचले स्तर से करीब 1200 रुपये की तेजी लौटी।

-----

भारत सोने की सबसे ज्यादा खपत वाला देश

पारंपरिक रूप से देश में सोने की ज्यादातर खपत आभूषणों की है, यहीं कारण है कि त्योहारी सीजन और शादी-ब्याह के मौसम में देश में सोने के दाम बढ़ जाते है। इसको देखते हुए भारत सोने की सबसे ज्यादा खपत वाले देशों में से एक गिना जाता है।

-

कस्टम ड्यूटी घटने और कोविड वैक्सीन आने से सोने में आई बड़ी गिरावट ग्राहकों के लिए लॉटरी की तरह है। सोने में ज्यादा गिरावट आना मुश्किल है। ऐसे में निवेशकों को और विशेषकर जिनके घर आगामी दिनों में शादी वाले ग्राहको को धीरे-धीरे खरीद करनी चाहिए ताकि भाव बढऩे या घटने पर ज्यादा नुकसान न हो।

नवीन सोनी, उपाध्यक्ष

इंडिया बुलियन ज्वैलर्स एसोसिएशन राजस्थान

Amit Dave Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned