लुभावने ऑफर देकर देशभर में कर डाली 35 करोड़ रुपए की ठगी, झांसे का आइडिया सुनकर चौंक पड़ेंगे आप

आरोपी ने पूछताछ में बताया कि उन्होंने कई राज्यों में अलग-अलग बैंकों में कई खाते खुलवा रखे हैं। वे लोगों को पहले वाट्सअप पर लुभावने ऑफर देते हैं। इसके बाद खाते में रुपए जमा करवाने के लिए कहते हैं। बैंक खाते में रुपए जमा होने के बाद वे सम्बधित बैंक की दूसरी शाखा से रुपए निकाल लेते थे।

By: Harshwardhan bhati

Updated: 03 Dec 2019, 03:17 PM IST

जोधपुर. लुभावने ऑफर देकर देशभर में करीब 35 करोड़ रुपए की ठगी करने वाले गिरोह के एक सदस्य को बासनी पुलिस ने मुम्बई से गिरफ्तार कर लिया। यह गिरोह विदेशों से भारतीय लोगों को फोन कराता था और दोगुने दाम पर हर्बल सप्लीमेंट खरीदने का झांसा देकर ठगी करता था। फोन करने वाला एक कंम्पनी से हर्बल सप्लीमेंट मंगवाने का कहते थे। कंपनी के खाते में रुपए जमा होते ही सिम बंद कर देते थे। गिरोह में अफ्रीका के भी कुछ लोग शामिल हैं।

देश और राज्य में बढ़ रही बलात्कार की घटनाओं पर जोधपुर की गल्र्स का फूटा आक्रोश, निकाली आक्रोश रैली

थानाधिकारी देंवेंद्रसिंह देवड़ा ने बताया कि ठगी की शिकार बासनी में गणेशनगर निवासी मंजू परिहार ने गत 6 अक्टूबर को रिपोर्ट दी थी। मंजू के अनुसार गत 14 सिम्बर को उसके वाट्सअप पर मार्क नाना नाम के एक शख्स का मैसेज आया। उसने बताया कि वह अफ्रीका के घाना में रहता है। जहां हर्बल सप्लीमेंट (नीको बी2 ऑयल) की डिमंाड है। यह तेल सिर्फ भारत में मिलता है। इस ऑयल को अफ्रीका भेजने पर वह एक लीटर के पांच लाख रुपए देगा।

आरसीए अध्यक्ष वैभव गहलोत पहुंचे जोधपुर, भारत बचाओ आंदोलन रैली में भाग लेने का किया आह्वान

उसने मंजू को बताया कि वह मुम्बई स्थित एमए इंटरप्राइजेज से ये ऑयल खरीद कर उन्हें भेज दे। मंजू ने आरोपी के झांसे में आकर मुम्बई स्थित फर्म के खाते में चार लाख, 90 हजार रुपए आरटीजीएस करवा दिए। लेकिन फर्म वालों ने ऑयल नहीं भेजा। मामले की जांच कर रहे एसआइ भंवरसिंह, कांस्टेबल कैलाश, श्याम लाल की टीम ने मुम्बई जाकर एमए इंटरप्राइजेज फर्म खाताधारक, उत्तरप्रदेश के प्रतापगढ निवासी मोहम्मद अरशद को गिरफ्तार कर लिया।

रेजीडेंट चिकित्सकों ने किया कार्य का बहिष्कार, विरोध के चलते मरीज हो रहे परेशान

कई राज्यों में बैंक अकाउंट
आरोपी ने पूछताछ में बताया कि उन्होंने कई राज्यों में अलग-अलग बैंकों में कई खाते खुलवा रखे हैं। वे लोगों को पहले वाट्सअप पर लुभावने ऑफर देते हैं। इसके बाद खाते में रुपए जमा करवाने के लिए कहते हैं। बैंक खाते में रुपए जमा होने के बाद वे सम्बधित बैंक की दूसरी शाखा से रुपए निकाल लेते थे। यह गिरोह अब तक कई लोगों से करोड़ों रुपए ठग चुका है। आरोपी ने बताया कि गिरोह में अफ्रिका के लोग भी शामिल हैं।

Harshwardhan bhati
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned