कोरोना काल के बाद बढ़ी ओसियां कृषि मंडी में रौनक

ओसियां स्थित विजया राजे सिंधिया कृषि उपज मंडी में कोरोना काल के बाद एक बार फिर किसानों व व्यापारियों की चहल पहल शुरू हो गई है।

By: pawan pareek

Published: 21 Aug 2021, 02:03 PM IST

ओसियां (जोधपुर). कस्बे में स्थित विजया राजे सिंधिया कृषि उपज मंडी में कोरोना काल के बाद एक बार फिर किसानों व व्यापारियों की चहल पहल शुरू हो गई है।

कृषि मंडी में ओसियां सहित आस-पास की 50 ग्राम पंचायतों के 150 गांवों के किसानों को अपनी उपज बेचने की सुविधा मिलने से कृषि जिंसों का पूरा भाव मिल रहा है। जिसके चलते किसानों को अपनी उपज को बाहर दूसरी मंडियों में ले जाने की जरूरत नही पड़ रही।

कृषि मंडी डायरेक्टर व मंडी व्यापार संघ अध्यक्ष दिलीप कुमार सोनी ने बताया कि मंडी में किसानी जिंसों का खुली बोली से व्यापार होता है। किसानों के सामने ही उनके माल का बोली लगाकर व्यापार होने से किसानों को पूरा भाव मिल रहा है। इन दिनों कृषि मंडी में जीरा, इसबगोल, ग्वार, रायड़ा, अरण्डी, चना का व्यापार चल रहा है।

30 किलोमीटर दायरे में 25 से 30 हजार कृषि ट्यूबवेल संचालित
ओसियां क्षेत्र के 30 किलोमीटर के दायरे में 25 से 30 हजार नलकूप संचालित है। जहां मूंगफली, जीरा, रायड़ा, पीली सरसों सहित अन्य कृषि जिंस की मुख्य पैदावार होती है। ऐसे में 150 गांवों के किसानों को अपनी उपज के पूरे भाव यही मिलने से दूर दराज मंडियों में नहीं जाना पड़ता।

इन गांवों में ओसियां, भीकमकोर, हरलाया, सामराऊ, भेड़, भाखरी, एकलखोरी, चेराई, बाना का बास, बैरडो का बास, खेतासर, मंडियाई, गोपासरिया, नेवरा, थोब, चांदरख, धुंधाड़ा, तापु, हानियां, पंडितजी की ढाणी, बैठवासिया, रायमलवाड़ा, कपूरिया, जाखण, पुनासर, मतोड़ा, नोसर, पल्ली, निम्बों का तालाब, बापिणी, कड़वा, भादा सहित बड़ी संख्या में गांवों से किसान अपनी उपज लेकर यहां पहुचते है।

आधुनिक सुविधाओं का हो रहा विस्तार

कृषि मंडी व्यापार संघ सचिव भंवरलाल सोनी ने बताया कि मंडी में फिलहाल 30 दुकानें संचालित है जहां पर कृषि जिंस के व्यापारिक कार्य हो रहे है। वहीं 12 नई दुकानों का कार्य भी निर्माणाधीन है। व्यापारियों व किसानों की सुविधाओं को देखते हुए कई विस्तार किए है।


मंडी सचिव सुरेंद्र सिंह ने बताया कि मंडी में माल तुलाई के लिए इलेक्ट्रॉनिक कांटा लगाया जा चुका है। वहीं व्यापारियों की सुविधा के लिए बैंक के नवीन भवन का कार्य पूरा हो चुका है। उधर, सुलभ कॉम्प्लेक्स के अलावा किसानों व मजदूरों के भोजन के लिए किसान कलेवा भोजनशाला भी बनकर तैयार हो चुकी है। जहां पर किसानों व मजदूरों को 5 रुपए में भरपेट भोजन की सुविधा मिल पाएगी।

कृषि मंडी में कृषि जिंस के भाव
जीरा 12500 से 13000
रायड़ा 7000 से 7300
ईसबगोल 11500 से 12200
ग्वार 5000 से 5200
मेथी 7000 से 7200
चना 4900 से 5100
अरण्डी 5650 से 5750 रुपए प्रति क्विंटल।

pawan pareek Desk
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned