scriptQueues in hospitals, virus such that fever is not breaking for 10 days | अस्पतालों में कतारें, वायरस ऐसे कि 10 दिन तक नहीं टूट रहा बुखार | Patrika News

अस्पतालों में कतारें, वायरस ऐसे कि 10 दिन तक नहीं टूट रहा बुखार

 

 

- एमडीएम अस्पताल में औसतन 3 हजार की आउटडोर

- पौने दो सौ मरीज हर रोज हो रहे भर्ती

जोधपुर

Published: November 08, 2021 09:58:29 pm

जोधपुर. संभाग के सबसे बड़े मथुरादास माथुर अस्पताल में मरीजभार काफी बढ़ा हुआ है। यहां रूटिन दिनों में भी 2 से ढाई हजार की आउटडोर रहती है, वहीं मौसमी बीमारियों की सीजन में 1 हजार मरीज प्रतिदिन बढ़ गए हैं। रविवार को अवकाश के बावजूद मौसमी बीमारियां व अन्य मरीज मिलाकर भर्ती मरीजों की संख्या 159 के पार रहीं। सोमवार को भी करीब पौने दो सौ मरीज भर्ती हुए और करीब तीन हजार का आउटडोर रहा है। किसी को डेंगू आ रहा है और किसी को केवल वायरल बुखार होने की आशंका है। इस बीच ज्यादातर लोगों की शिकायतें आ रही हैं कि उन्हें दस-दस दिन तक बुखार नहीं टूट रहा है।
एमडीएम अस्पताल अधीक्षक डॉ. महेंद्र आसेरी ने बताया कि मौसमी बीमारियों के सीजन के चलते भी अस्पताल में भीड़ बढ़ी हुई है। अस्पताल में समुचित रूप से व्यवस्था बनाकर सभी का इलाज चल रहा है। दिवाली के अवकाश के चलते भी सोमवार को अत्यधिक भीड़ पड़ी, जो लोग त्योहारों में न आ सके, वे भी अब अस्पताल पहुंच रहे हैं। मेडिसिन विभाग के सीनियर प्रो. डॉ. नवीन किशोरिया ने कहा कि आजकल डेंगू से रिकवर होने में भी लोगों को समय लग रहा है। कॉम्पिलिकेशन भी ज्यादा देखने को मिल रहे है। ब्रेन फीवर ज्यादा आ रहा है। प्लेटलेट्स भी तेजी से घट रही है। कोविड के कारण लोगों की इम्यूनिटी भी डिस्टर्ब हुई हैं।
अस्पतालों में कतारें, वायरस ऐसे कि 10 दिन तक नहीं टूट रहा बुखार
अस्पतालों में कतारें, वायरस ऐसे कि 10 दिन तक नहीं टूट रहा बुखार

इधर, डेंगू ने बढ़ाई चिंता, दिवाली बाद भी नहीं घट रहा डेंगू

जोधपुर में लगातार अभी तक कार्ड व एलाइजा टेस्ट के जरिए डेंगू केस सामने आ रहे है। मौसम में ठंडक घुलने के बावजूद भी डेंगू वायरस का प्रकोप कम नहीं हुआ है। साल 2019 में भी दिवाली के कई दिन बाद तक डेंगू केस आए थे। उस समय आंकड़ा 12 सौ पार कर गया। अभी यह आंकड़ा 900 पर चल रहा है।
6 साल पहले डेढ़ हजार पार थे केस

जोधपुर जिले में गत 6 वर्ष पूर्व डेंगू का कहर सर्वाधिक देखने को मिला था। उस साल केस 1520 पार कर गए थे। उसके बाद साल 2019 में 1227 केस आए थे। इस वर्ष स्वास्थ्य विभाग ने एंटी लॉर्वल गतिविधियां जुलाई-अगस्त में शुरू कर दी थी। उसके बावजूद सितंबर-अक्टूबर में केस नहीं रुके और निरंतर बढ़ रहे हैं।
अब तेज सर्दी से उम्मीद
उम्मीद है कि तेज सर्दी में डेंगू कम पड़ेगा। जिन घरों व क्षेत्रों में जमा पानी में लार्वा नष्ट नहीं हुआ है तो वहां केसेज आ सकते हैं। ऐसे में लोगों को भी सचेत रहना होगा। सर्दी में लोग फूल बाजू के कपड़े पहनेंगे और एडल्ट मच्छर भी 6-7 दिन से ज्यादा जिंदा नहीं रहता है।
- डॉ. प्रीतमसिंह सांखला, डिप्टी सीएमएचओ

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

इन नाम वाली लड़कियां चमका सकती हैं ससुराल वालों की किस्मत, होती हैं भाग्यशालीजब हनीमून पर ताहिरा का ब्रेस्ट मिल्क पी गए थे आयुष्मान खुराना, बताया था पौष्टिकIndian Railways : अब ट्रेन में यात्रा करना मुश्किल, रेलवे ने जारी की नयी गाइडलाइन, ज़रूर पढ़ें ये नियमधन-संपत्ति के मामले में बेहद लकी माने जाते हैं इन बर्थ डेट वाले लोग, देखें क्या आप भी हैं इनमें शामिलइन 4 राशि की लड़कियों के सबसे ज्यादा दीवाने माने जाते हैं लड़के, पति के दिल पर करती हैं राजशेखावाटी सहित राजस्थान के 12 जिलों में होगी बरसातदिल्ली-एनसीआर में बनेंगे छह नए मेट्रो कॉरिडोर, जानिए पूरी प्लानिंगयदि ये रत्न कर जाए सूट तो 30 दिनों के अंदर दिखा देता है अपना कमाल, इन राशियों के लिए सबसे शुभ

बड़ी खबरें

देश में वैक्‍सीनेशन की रफ्तार हुई और तेज, आंकड़ा पहुंचा 160 करोड़ के पारपाकिस्तान के लाहौर में जोरदार बम धमाका, तीन की नौत, कई घायलजम्मू कश्मीर में सुरक्षाबलों को मिली बड़ी कामयाबी, लश्कर-ए-तैयबा का आतंकी जहांगीर नाइकू आया गिरफ्त मेंCovid-19 Update: दिल्ली में बीते 24 घंटे के भीतर आए कोरोना के 12306 नए मामले, संक्रमण दर पहुंचा 21.48%घर खरीदारों को बड़ा झटका, साल 2022 में 30% बढ़ेंगे मकान-फ्लैट के दाम, जानिए क्या है वजहचुनावी तैयारी में भाजपा: पीएम मोदी 25 को पेज समिति सदस्यों में भरेंगे जोशखाताधारकों के अधूरे पतों ने डाक विभाग को उलझायाकोरोना महामारी का कहर गुजरात में अब एक्टिव मरीज एक लाख के पार, कुल केस 1000000 से अधिक
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.