फिर रोशन हुआ एलिवेटेड रोड का ‘सपना’

- केंद्रीय सडक़ परिवहन मंत्री नितिन गडकरी ने की 1500 करोड़ के प्रोजेक्ट की घोषणा
- अंडरग्राउंड और डबल डेकर डिजाइन के साथ तैयार होगी एलिवेटेड रोड

 

By: Avinash Kewaliya

Published: 24 Dec 2020, 11:25 PM IST

जोधपुर। पिछले एक दशक से कागजों में झूल रही एलिवेटेड रोड को धरातल मिलने की उम्मीद एक बार फिर जग गई है। कुछ दिन पहले ही केन्द्रीय जलशक्ति मंत्री गजेन्द्रसिंह शेखावत ने केन्द्रीय सडक़ परिवहन मंत्री नितिन गडकरी के आवास पर इसके लिए मांग रखी थी। गुरुवार को राजस्थान की समृद्धि को समर्पित 1127 किलोमीटर लंबी 18 हाइवे परियोजनाओं के शिलान्यास और लोकार्पण कार्यक्रम में गडकरी ने इस प्रोजेक्ट की घोषणा कर दी।

गडकरी ने कहा कि इस प्रोजेक्ट पर 1500 करोड़ रुपए खर्च होंगे। इस दौरान बिजली और पानी की लाइन शिफ्टिंग में भी 250 करोड़ का खर्च आएगा। यूटिलिटी शिफ्टिंग का खर्च राज्य सरकार को वहन करने की बात पहले आई थी। लेकिन राज्य सरकार की परिस्थितियों को देखते हुए गडकरी ने मुख्यमंत्री गहलोत से अपील कि स्टील और सीमेंट पर जीएसटी व मेटेरियल पर लगने वाली रॉयल्टी को छोड़ देंगे तो यूटिलिटी शिफ्टिंग के 250 करोड़ केन्द्र सरकार नहीं मांगेगी। श्रेष्ठ डिजाइनर से इस प्रोजेक्ट को अंतिम रूप दिया जाएगा।

नई सौगात की खास बातें
- राज्य सरकार के प्रस्तावित मार्ग पर ही बनेगी रोड

- अंडरग्राउंड और डबल डेकर दो भागों में होगी
- 15 सौ करोड़ होंगे खर्च

- 9.6 किलोमीटर की होगी एलिवेटेड रोड
----

राज्य ने भेजा प्रस्ताव, मंत्री ने नकार दिया था
राज्य सरकार ने फरवरी में इस एलिवेटेड रोड के लिए बजट की डिमांड करते हुए केन्द्र को पत्र लिखा था। लेकिन हाल में यूडीएच मंत्री शांति धारीवाल ने इस प्रोजेक्ट को हेरिटेज के लिए खतरा बताते हुए निरस्त कर दिया था। इसके स्थान पर ट्रैफिक मॉबिलिटी प्लान पर काम शुरू हो गया।

----
जोधपुर और ट्रैफिक मैनेजमेंट

शहर के यातायात प्रबंधन के लिए पूर्व में भी कई प्रोजेक्ट बने। इसमें मोनो रेल और मेट्रो रेल चलाने के लिए पूर्व में कांग्रेस सरकार ने प्रस्ताव बनाए। डीपीआर तक बनी, लेकिन ये प्रोजेक्ट भी धरातल पर नहीं आ पाए।
--

एलिवेटेड रोड का सफर
- 1 दशक से चल रहे प्रयास

- 7 साल पहले खाका खींचा गया और ठंडे बस्ते में डाल दिया
- इसी सरकार में सीएम ने बजट घोषणा में डीपीआर के लिए 2 करोड़ की घोषणा की।

- ट्रैफिक सर्वे और जीयो टेक्निकल सर्वे हुआ।
- हेरिटेज संरक्षण के नाम पर इसे यूडीएच मंत्री ने निरस्त कर दिया।

- अब केन्द्रीय मंत्री ने फिर से उम्मीद जगाई है।
---

शेखावत ने जताया आभार

केन्द्रीय जलशक्ति मंत्री गजेन्द्रसिंह शेखावत ने इसके लिए गडकरी का आभार जताया। उन्होंने कहा कि राजस्थान में इंडस्ट्रीयल डवलेपमेंट की अपार संभावनाएं हैं। रेलवे का इंडस्ट्रीयल कॉरिडोर भी राजस्थान से होकर गुजर रहा है। आने वाले समय में राजस्थान देश के औद्योगिक नक्शे पर प्रमुखता से अंकित होगा।

सीएम की ओर से आभार
शेखावत ने कहा कि मुख्यमंत्री अशोक गहलोत और मैं एक ही क्षेत्र से आते हैं तो मैं मुख्यमंत्री जी की तरफ से भी आपका अभिनंदन करना चाहता हूं।

भाजपा ने जताई खुशी

भारतीय जनता पार्टी जोधपुर शहर जिलाध्यक्ष देवेन्द्र जोशी के नेतृत्व में भाजपा कार्यकर्ताओं ने शेखावत एवं राज्यसभा सांसद राजेन्द्र गहलोत के प्रयासों से एलिवेटेड रोड स्वीकृत होने पर आखलिया चौराहा, बोम्बे मोटर, पांचवी रोड, जालोरी गेट, सोजती गेट व पावटा चौराहे पर एक-दूसरे का मुंह मीठा कर जश्न मनाया गया। जिला महामंत्री देवेन्द्र सालेचा, महेन्द्र मेघवाल, जिला उपाध्यक्ष नरेश सुराणा सहित अन्य ने मिठाइयां खिलाकर खुशियां मनाई। भाजयुमो प्रदेश कार्यसमिति सदस्य वरूण धनाडिया ने इस सौगात के लिए गडकरी व शेखावत का आभार जताया। पूर्व जिला प्रमुख पूनाराम चौधरी ने बताया कि इस घोषणा के बाद ग्रामीण क्षेत्र में भी लोगों ने खुशी जताई। सोजती गेट व्यापारी संस्था व अन्य संगठनों ने भी खुशी जताई।

Avinash Kewaliya
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned