नौकरी न लगने से परेशान युवक ने फंदा लगाया

- सुसाइड नोट में दो बहनों को दी माता-पिता का ध्यान रखने की नसीहत

By: Vikas Choudhary

Published: 19 Mar 2020, 12:20 AM IST

जोधपुर.
प्रतापनगर थानान्तर्गत चांदपोल के बाहर तापडि़या बेरा स्थित मकान के कमरे में बुधवार देर शाम एक युवक पंखे के हुक पर रस्सी के फंदे से लटका मिला। सुसाइड नोट की मानें तो नौकरी न लगने व आर्थिक परेशानी के चलते उसने जान दी है।

पुलिस के अनुसार तापडि़या बेरा निवासी द्वारकानाथ पुरोहित (३०) पुत्र किशनदत्त ने घर के कमरे में फंदे से लटककर खुद की जान दी है। देर शाम कमरा अंदर से बंद होने पर परिजन ने उसे आवाज लगाई, लेकिन कोई जवाब नहीं आया। माता व पिता ने भी दरवाजा खटखटाया। बाद में रिश्ते में भाई रितेश बोड़ा वहां आया। उसने खिडक़ी से देखा तो द्वारकानाथ पंखे के हुक पर रस्सी के फंदे से लटक रहा था। सूरसागर थाना पुलिस मौके पर आई और दरवाजा खोलकर अंदर पहुंची। उसकी मृत्यु हो चुकी थी। कार्रवाई के बाद पुलिस ने शव महात्मा गांधी अस्पताल की मोर्चरी में रखवाया। रिश्ते में भाई की तरफ से मर्ग दर्ज किया गया। मृतक अविवाहित था। उसके पिता कृषि विभाग में कार्यरत हैं। मां नर्स है।
कमरे में पुलिस को सुसाइड नोट भी मिला है। जिसमें उसने खुद की मर्जी से जान देने का उल्लेख किया। इसके अलावा उसने लिखा कि पुलिस किसी से पूछताछ न करें। उसकी नौकरी नहीं लग पाई और न ही वह कोई काम कर सका। वह माता पिता का अच्छा पुत्र नहीं बन पाया। सुसाइड नोट में उसने दो बहनों का उल्लेख कर सम्पत्ति उनके नाम करने और दोनों बहनों को माता-पिता का ध्यान रखने का आग्रह किया। उसने सुनार के पास रखे कुछ आभूषणों को लाने का भी आग्रह किया।

Vikas Choudhary Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned