6 महीने बाद 41 मेडिकल स्टोर व 6 किराणा काउंटर का वैरिफिकेशन

- सहकारी विभाग ने जारी किए आदेश
- दो अक्टूबर तक का दिया समय
- पिछले साल 40 लाख रुपए का माल कम मिला था

 

By: Jay Kumar

Published: 25 Sep 2020, 10:56 AM IST

जोधपुर. जोधपुर सहकारी उपभोक्ता होलसेल भण्डार के जिले में संचालित 41 मेडिकल स्टोर और 6 किराणा काउंटर का अब छह महीने बाद भौतिक सत्यापन किया जाएगा। सहकारी विभाग ने इस संबंध में आदेश जारी करते हुए दो अक्टूबर तक रिपोर्ट देने को कहा है। भण्डार के काउंटरों पर हर साल लाखों रुपयों का घालमेल सामने आता है। पिछले साल भी40 लाख रुपए का माल कम मिला था। सहकारिता विभाग द्वारा संपूर्ण प्रदेश में किराणा व मेडिकल काउंटर का भौतिक सत्यापन प्रत्येक वित्तीय वर्ष की समाप्ति पर 31 मार्च को करवाया जाता है, लेकिन इस बार कोरोना की आड़ में छह महीने गुजर चुके हैं। भौतिक सत्यापन के दौरान माल की कमी होने पर जाने पर संबंधित फार्मासिस्ट एवं किराना काउंटर कर्मचारियों के विरुद्ध गबन की कार्यवाई की जाती है। भण्डार के मेडिकल स्टोर हर साल करीब 25 करोड़ की दवाइयां बेचते हैं। लॉकडाउन के कारण इस बार किराणा काउंटर ने भी दो महीने में 9 करोड़ का माल बेचा है।

ऑडिट में 22 लाख के ड्राई फ्रूट कम मिले
भौतिक सत्यापन के लिए विभाग के इंस्पेक्टर्स को दो-तीन दिन का समय मिलता है। ऐसे में वे काउंटर्स पर जाकर वहां कार्मिकों द्वारा दी गई बैलेंस शीट को देखकर ही इतिश्री कर लेते हैं। भण्डार की हकीकत हर साल ऑडिट रिपोर्ट में सामने आती है। पिछले साल स्पेशल ऑडिट टीम ने सुपर मार्केट में 22 लाख रुपए के ड्राई फ्रूट का गबन निकाला था। मार्केट के कार्मिकों के अनुसार ये ड्राई फ्रूट्स सूख गए थे। इस तरह से मेडिकल स्टोर पर भी ऑडिट ने कई मीमों दिए थे।

Jay Kumar
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned