टीकाकरण के साथ कोविड के खिलाफ जंग का आगाज


कोविड-19 वैक्सीनेशन अभियान का 9 सेंटर्स पर शुभारंभ
पहले दिन 588 मेल और 320 फिमेल चिकित्साकर्मियों ने लगाया टीका
कोरोना के शनिवार को 29 नए मामले सामने आए

By: Abhishek Bissa

Published: 16 Jan 2021, 11:26 PM IST

खुशियों की वैक्सीन
जोधपुर. बीते 10 माह से कोरोना के चलते खौफ के साये में जी रहे जोधपुरवासियों के लिए शनिवार का दिन राहत भरा रहा। शहर के 5 व जिले के 4 चिकित्सा सेंटर पर कोविड-19 वैक्सीनेशन का शुभारंभ हुआ। सभी सेंटर्स पर पहले दिन शनिवार को लक्ष्य से अधिक 908 स्वास्थ्यकर्मियों को वैक्सीन लगाई गई, जबकि टारगेट से 8 अधिक वैक्सीन लगाकर जोधपुर ने अपने आप में रिकॉर्ड तोड़ा। पहले दिन 588 मेल और 320 फिमेल स्वास्थ्यकर्मियों का वैक्सीनेशन हुआ। वैक्सीनेशन का शुभारंभ मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने वीसी के माध्यम से किया।

प्रथम चरण में फ्रं टलाइन वर्कर के रूप में कार्यरत स्वास्थ्य कार्मिकों को कोविड-19 का टीका लगाने की शुरुआत हुई। मथुरादास माथुर अस्पताल में बनाए गए कोविड टीकाकरण सेंटर पर जिला स्तरीय अभियान का शुभारंभ किया गया। यहां सर्वाधिक 108 स्वास्थ्यकर्मियों को कोविड-19 का टीका लगाया गया। बाकी शेष 8 सेंटर्स पर सौ-सौ लाभार्थियों को टीका लगा। जिला प्रजनन एवं शिशु स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. कौशल दवे ने बताया कि प्रथम चरण में स्वास्थ्य कार्मिक कोविड वैक्सीन लगाकर उत्साहित नजर आए। शुभारभ कार्यक्रम में राजीव गांधी सेवा केन्द्र से शहर विधायक मनीषा पंवार, जिला कलक्टर इन्द्रजीत सिंह, एडीएम प्रथम मदन लाल नेहरा, विभिन्न धर्मगुरूओं की मौजूदगी रही।

डॉक्टर्स में रहा उत्साह
सभी सेंटर्स पर कोरोना वैक्सीन लगाने के लिए डॉक्टर्स में खासा उत्साह रहा। एमडीएम अस्पताल में टीकाकरण प्रभारी डॉ. अफजल हकीम, चिकित्सक दंपती डॉ. शरद थानवी व डॉ. इंदू थानवी सहित बड़ी संख्या में चिकित्सकों ने टीका लगवाया।

------------
शहर विधायक ने किया एमडीएम सेंटर निरीक्षण

शनिवार को प्रारंभ हुए कोविड 19 वैक्सीनेशन अभियान का जायजा लेने के लिए शहर विधायक मनीषा पंवार ने मथुरादास माथुर अस्पताल में स्थित वैक्सीनेशन केंद्र का निरीक्षण कर व्यवस्थाओं का जायजा लिया।

टीकाकरण की साइट्स बढ़ाएंगे: कलक्टर

जोधपुर. कलक्टर इन्द्रजीत सिंह ने कोविड टीकाकरण सेंटर्स का निरीक्षण किया। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री अशोक गहलोत के निर्देशन में पूरे प्रदेश के साथ जोधपुर में भी कोविड टीकाकरण कार्यक्रम की शुरूआत हुई है। अभी 9 टीकाकरण साइटस पर टीकाकरण किया जा रहा है। इसी प्रकार साइटस बढाई जा कर टीकाकरण कार्य के लक्ष्य को हासिल किया जाएगा।

नोडल अधिकारी किए नियुक्त

वैक्सीनेशन साइट्स पर नोडल अधिकारी नियुक्त किए गए हैं। जिनमें एम्स जोधपुर के लिए अतिरिक्त मुख्य कार्यकारी अधिकारी जिला परिषद विकास राजपुरोहित, उम्मेद अस्पताल के लिए उपायुक्त जोधपुर विकास प्राधिकरण नीरज मिश्रा, एमडीएम अस्पताल के लिए उपनिदेशक आईसीडीएस श्रवणसिंह राजाववत, शहरी सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र के लिए एसीएम फ ास्ट ट्रेक जोधपुर अपूर्वा परवाल, मेडिपल्स अस्पताल के लिए उपायुक्त जेडीए कंचन राठौड़, सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र बिलाडा के लिए उपखण्ड अधिकारी बिलाडा, सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र बालेसर के लिए उपखण्ड अधिकारी बालेसर, सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र मथानियां के लिए उपखण्ड अधिकारी ओसियां, सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र, भोपालगढ के लिए उपखण्ड अधिकारी भोपालगढ़ को नोडल अधिकारी नियुक्त किया गया।

------------

एम्स में सर्वाधिक 66 डॉक्टर्स का टीकाकरण
एम्स जोधपुर में सर्वाधिक 66 डॉक्टर्स का कोविड-19 के खिलाफ टीकाकरण किया गया। यहां 84 मेल और 16 फिमेल को कोविड टीका लगाया गया। डॉ. पंकज भारद्वाज ने बताया कि 22 नर्सिंग अधिकारी, 1 स्टूडेंट्स, 7 पैरामेडिकल स्टाफ, 1 हाउस किपिंग और अन्य व प्रशासनिक अधिकारी समेत 3 को टीका लगाया गया।

-----
नौ कोविड-19 वैक्सीनेशन सेंटर्स पर इस संख्या में हुआ टीकाकरण

एमडीएम अस्पताल-108
एम्स जोधपुर-100

शहरी सीएचसी रेजिडेंसी-100
उम्मेद अस्पताल-100

निजी मेडिपल्स हॉस्पिटल-100
बालेसर सीएचसी-100

बिलाड़ा सीएचसी-100
भोपालगढ़ सीएचसी-100

मथानिया सीएचसी-100
.................
दो जनों को हुई घबराहट, लेकिन डरने की कोई बात नहीं

रेजिडेंसी सीएचसी व एम्स जोधपुर में दो कार्मिकों की टीकाकरण के बाद हल्की सी तबीयत खराब हुई। दरअसल, ये अन्य घबराहट थी। जबकि बता दें कि कोविड वैक्सीनेशन से किसी प्रकार का कोई साइड इफैक्ट नहीं है। विशेषज्ञों के अनुसार कपड़े टाइट होने व काफी बार सुई की चुभन से कई जनों को घबराहट आदि होती है। इसमें वैक्सीन का कोई रोल नहीं होता। इसलिए सभी लाभार्थी बेझिझक अपना कोविड-19 टीकाकरण करवा सकते हैं।

कोरोना: 29 पॉजिटिव और 53 डिस्चार्ज

जोधपुर में कोरोना संक्रमण के शनिवार को 29 नए मामले सामने आए और 53 रोगियों को स्वस्थ होने पर डिस्चार्ज कर दिया गया। वहीं एक भी कोरोना संक्रमित की मौत नहीं हुई। जोधपुर में अब तक 60694 रोगी संक्रमित हो चुके हैं और 912 से अधिक मौतें हो चुकी है। वहीं बीते 16 दिन में 748 रोगी संक्रमित और 12 मौतें हुई हैं। सरकारी रिपोर्ट में महज 18 संक्रमित बताए गए हैं। जोन अनुसार प्रतापनगर, उदयमंदिर, महामंदिर, शास्त्रीनगर व बीजेएस में 1-1, शहर परकोटा, मधुबन, रेजिडेंसी में 2-2 व मसूरिया जोन में 3 संक्रमित सामने आए। जोधपुर देहात के बनाड़ (मंडोर ) और सालावास ( लूणी) में 1-1 पॉजिटिव मिले। बालेसर से 2 संक्रमित सामने आए। बिलाड़ा, भोपालगढ़,, ओसियां, बावड़ी, फलोदी, बाप व शेरगढ़ में शून्य संक्रमित मिले।

Abhishek Bissa Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned