चार माह पहले जेल से छूटे पुराने चौकीदार ने रची थी साजिश

- चोरी की नीयत से एटीएम में तोड़-फोड़ का मामला, मुख्य आरोपी सहित दो और गिरफ्तार

By: Vikas Choudhary

Updated: 12 Jun 2021, 02:01 AM IST

जोधपुर.
राजीव गांधी नगर थाना पुलिस ने बेरू गांव स्थित बैंक ऑफ इण्डिया के एटीएम में तोड़-फोड़ कर चोरी का प्रयास करने के मामले में शुक्रवार को दो और आरोपियों को गिरफ्तार किया। इसमें एक आरोपी चार माह पहले ही जमानत पर जेल से छूटा था और एटीएम में सुरक्षा गार्ड रह चुका है।

थानाधिकारी मूलसिंह भाटी ने बताया कि गत 3 जून की रात 12.30 बजे बेरू गांव स्थित बैंक ऑफ इण्डिया के एटीएम में तोड़-फोड़ कर चोरी का प्रयास किया गया था। साथ ही कुल्हाड़ी से तीन सीसीटीवी कैमरों के तार काट दिए गए थे। इस मामले में शाखा प्रबंधक की तरफ से चोरी का मामला दर्ज कर जांच शुरू की गई। तलाश के बाद बेरू में बिश्नोइयों की ढाणी निवासी कैलाश (25) पुत्र बाबूलाल बिश्नोई और बालेसर में विष्णु नगर निवासी मुन्ना उर्फ मनोहरलाल (26) पुत्र चूनाराम बिश्नोई को गिरफ्तार किया गया। दो आरोपी पहले गिरफ्तार हो चुके हैं।
लॉक डाउन में लाखों रुपए चुराने की रची थी साजिश

पूछताछ में सामने आया कि कैलाश बिश्नोई इसी एटीएम में सुरक्षा गार्ड रह चुका है। उसी ने साथियों के साथ मिलकर लॉक डाउन में एटीएम से लाखों रुपए चुराने साजिश रची थी। साथियों को ऊंचे सब्ज-बाग दिखाए थे। वह मादक पदार्थ तस्करी में लिप्त रह चुका है। वह चार महीने पहले ही जेल से जमानत पर छूटा था। वहीं, मुन्ना के खिलाफ मारपीट और झगड़े के चार मामले दर्ज हैं।

Vikas Choudhary Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned