नॉनवेज खाने के लिए जंगली खरगोश का शिकार

 

ग्रामीण क्षेत्रों में लॉकडाउन का फायदा उठा रहे शिकारी

By: Nandkishor Sharma

Updated: 20 May 2021, 12:09 PM IST

जोधपुर. कोरोना की खतरनाक लहर में जब लोग पशु-पक्षियों की सेवा के लिए हर संभव सहयोग कर रहे है तो दूसरी ओर नॉनवेज खाने का शौक पूरा करने के लिए कई लोग बेकसूर वन्यजीवों को मौत के घाट उतारने में लगे है। बुधवार को पाली रोड कुड़ी गांव के पास खरगोश का शिकार करते शिकारियों को पकड़कर पुलिस के हवाले किया गया। राजू सिंह व उसका पुत्र सुमित और दो अन्य ने मिलकर खरगोश का शिकार किया। शिकार की सूचना मिलते ही बिश्नोई टाइगर फोर्स लूणी अध्यक्ष ओम प्रकाश खोत, जयराम खावा, रामनिवास खोत, मादुराम धतरवाल, मुन्ना राम जाणी, अशोक, पुनाराम बुडिया जवरीलाल गोदारा मौके पर पहुंचे और पकड़कर पुलिस को सुपुर्द किया। वन्यजीव क्राइम कंट्रोल ब्यूरो के वॉलिंटियर रामनिवास बुधनगर ने बताया कि वन्यजीव शिकारी ग्रामीण क्षेत्रों में लॉकडाउन का फायदा उठा रहे है। पकड़े गए खरगोश के शिकारी ने लॉकडाउन में चिंकारों का शिकार करना भी कुबूल किया है। शिकार की एेसी घटनाओं पर अंकुश नहीं लगा तो महामारी विकराल रूप ले सकती है।

Nandkishor Sharma Desk
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned