scriptKanpur Violence Update Women Protesting Bulldozer Action | कानपुर हिंसा अपडेटः बुलडोजर एक्शन के विरोध में सड़कों पर उतरी महिलाएं, बोलीं जिएंगे-मरेंगे यहीं, किसी की दम... | Patrika News

कानपुर हिंसा अपडेटः बुलडोजर एक्शन के विरोध में सड़कों पर उतरी महिलाएं, बोलीं जिएंगे-मरेंगे यहीं, किसी की दम...

Kanpur Violence Update: कानपुर हिंसा में अब बुलोडजर एक्शन के खिलाफ आवाज तेज होती जा रही है। महिलाओं ने कहा कि हम यहीं मरेंगे जिएंगे। लेकिन जमीन नहीं जाने देंगे।

कानपुर

Updated: June 09, 2022 10:13:21 am

कानपुर की नई सड़क में इतना बवाल होने के बावजूद महिलाओं की आवाज इतनी बुलंद है कि सरकार के खिलाफ धरना प्रदर्शन पर उतर गईं। यहां रहने वाले लोग आखिरी दम तक लड़ने को तैयार है। वह योगी सरकार के बुलडोजन एक्शन के खिलाफ धरना देते हुए बोल रहीं हैं कि जीना भी यहीं है मरना भी यहीं हैं। किसी की दम नहीं जो हमारी जमीन हमसे छीन ले। इसमें महिलाओं के साथ-साथ अब पुरुषों की भी आवाज तेज होने लगी। दरअसल, मामले ने उस वक्त तूल पकड़ ली जब सोशल मीडिया पर लोगों के फर्जी लोगों के जाने सूचना वायरल कर दी।
Kanpur Violence Update Women Protesting Bulldozer Action
Kanpur Violence Update Women Protesting Bulldozer Action(File photo)
पुरुषों के साथ साथ अब महिलाओं ने बुलडोजर मामला हो या पलायन का पूरी तरह से कमर कस ली है। महिलाओं का कहना है कि यहां पर रहने वाले लोग अपनी छाती तानकर उपद्रवियों के सामने खड़े रहते हैं। हमारे साथ गलत किया जा रहा है। हम यहीं जिएंगे और मरेंगे। किसी की दम हो तो जमीन छीन कर दिखाए। साथ ही सरकार विरोधी नारेबाजी भी चल रही है।
यह भी पढ़ें

कानपुर हिंसा अपडेट: ट्रक में भरकर ले गए थे पत्थर, एक-एक पत्थर और पत्थरबाज से होगा हिसाब...

क्यों मामले ने पकड़ ली तूल

कानपुर हिंसा के बाद योगी सरकार ने बुलडोजर कार्यवाही के निर्देश दिया। इसी के चलते सोशल मीडिया पर एक पोस्ट वायरल होने लगा कि लोग योगी सरकार और बुलडोजर एक्शन की वजह से अपने घरों को छोड़कर जा रहे हैं। इस मैसेज के वायरल होने के साथ ही पुलिस में हड़कम्प मच गया। एडीसीपी वेस्ट राहुल मिठास चन्द्रेश्वर हाता पहुंचे। एडीसीपी वहां पर लोगों को यह समझाने गए थे कि वह ऐसा कोई कदम न उठाए। मगर वहां पर नजारा कुछ और ही निकला। उल्टा वहां के रिहायशी लोगों ने उल्टा एडीसीपी से यह कहा कि चाहे कुछ भी हो जाए वह अपनी जमीन अपना घर किसी कीमत पर खाली नहीं करेंगे। देखते देखते विरोध प्रदर्शन बढ़ गया।
यह भी पढ़ें

बुलडोजर चलने पर भड़के पत्थरबाज, CM Yogi के निर्देश सौ इमारतों पर चलेगा बुलडोजर, 15 चिन्हित

ऐसे लगी पलायन की आग

हाते के दो मकानों पर ताला देखने के बाद एडीसीपी इस्ट ने उनके बारे में जानकारी जुटाई। जिसपर पता चला कि एक घर केस्को से रिटायर कर्मी अशोक वर्मा का है जो बवाल से पहले ही हैदराबाद अपने बेटे के पास घूमने चले गए हैं। दूसरा घर जगत पुरी का है। इनकी जनरलगंज में दुकान है। यह दुकान खोलने चले गए थे। हाते के मुहाने पर ही एक घर में दूसरे पक्ष का छोटू रहता है। वह जरुर घर में ताला लगाकर कहीं चला गया है। ऐसे घरों में ताले देखकर लोगों ने पलायन अफवाह फैला दी।
विधायकों के खिलाफ फूटा लोगों का गुस्सा

लोगों ने सपा विधायकों के खिलाफ नाराजगी जाहिर की। कहना है कि बवाल के बाद अब तक विधायक देखने तक नहीं आए। ऐसे में लोगों विधायक के नाम के ऊपर पेंट कर दिया। कहना है कि रिहायशी इलाके में विधायक प्रवेश नहीं कर सकते हैं। एक तरफ सपा विधायक के खिलाफ ही मोर्चा खोल दिया।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

मीन राशि में वक्री होंगे गुरु, इन राशियों पर धन वर्षा होने के रहेंगे आसारइन राशियों के लोग काफी जल्दी बनते हैं धनवान, मां लक्ष्मी रहती हैं इन पर मेहरबानभाग्यवान होती हैं इन नाम की लड़कियां, मां लक्ष्मी रहती हैं इन पर मेहरबानऊंची किस्मत वाली होती हैं इन बर्थ डेट वाली लड़कियां, करियर में खूब पाती हैं सफलताधन को आकर्षित करती है कछुआ अंगूठी, लेकिन इस तरह से पहनने की न करें गलतीपनीर, चिकन और मटन से भी महंगी बिक रही प्रोटीन से भरपूर ये सब्जी, बढ़ाती है इम्यूनिटीweather update news..मौसम की भविष्यवाणी सटीक, कई जिलों में तूफानी हवा के साथ झमाझमस्कूल में 15 साल के लड़के से बनाए अननेचुरल संबंध, वीडियो भी बनाया

बड़ी खबरें

Maharashtra Political Crisis: जहालत एक किस्म की मौत है, शिवसेना नेता संजय राउत ने फिर बागियों पर बोला हमलाMaharashtra Political Crisis: महाराष्ट्र के राजनीतिक घमासान के बीच अब आदित्य ठाकरे हुए आक्रामक, बागियों को ललकारते हुए कही ये बातपटना हाईकोर्ट का बड़ा फैसला - 'अगर पीड़िता ने नहीं किया विरोध, तो इसका मतलब ये नहीं की रेप के लिए सहमति दी'पीएम मोदी को ढूंढते हुए आए अमरीकी राष्ट्रपति बाइडन, पीछे से दी थपकी, देखिए Videoलंबी चुप्पी के बाद सचिन पायलट का अशोक गहलोत पर सबसे बड़ा हमला: अब नहीं चूकेंगे...कोर्ट में पेश नहीं हुईं कंगना रनौत, जावेद अख्तर के वकील ने की गैर-जमानती वारंट जारी करने की मांगMumbai Building Collapse: मुंबई के कुर्ला में चार मंजिला इमारत गिरी, दो की मौत; 12 लोगों को सुरक्षित बाहर निकाला गयाWest Bengal : मुकुल का इस्तीफा- ममता का निर्देश या सीबीआइ का डर?
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.