Breaking News : ओपनिंग से एक दिन पहले थोक दुकान में लगी भीषण आग, जिंदा जल जाते 3 लोग- See Video

खेडिय़ा टॉकिज के पीछे स्थित मकान के दूसरी मंजिल में खुलने वाली थी किराने की थोक दुकान, 14 मार्च को होने वाली थी ओपनिंग

By: rampravesh vishwakarma

Updated: 13 Mar 2018, 03:44 PM IST

मनेंद्रगढ़. खेडिय़ा टॉकिज के पीछे स्थित मकान के दूसरी मंजिल पर नगर के एक व्यापारी द्वारा किराने की थोक दुकान खोली जा रही थी। संचालक द्वारा करीब 5 लाख रुपए का सामान भरकर रखा गया था। 14 मार्च को दुकान की ओपनिंग होनी थी। इससे पूर्व ही सोमवार की रात शॉर्ट-सर्किट से दुकान में भीषण आग लग गई। इससे दुकान में रखा पूरा सामान जलकर खाक हो गया।

आग लगने के दौरान 3 व्यक्ति गोदाम के एक हिस्से में पहुंचे थे और वे आग की चपेट में आने से बाल-बाल बच गए। किसी तरह उन्होंने दूसरे रास्ते से निकलकर जान बचाई। सूचना पर पहुंची दमकल की टीम ने काफी मशक्कत के बाद आग पर काबू पाया। आग बुझाने में 3 दमकल पानी लग गए।

 

मनेंद्रगढ़ निवासी अमन अरोड़ा पिता नरेंद्र अरोड़ा ने खेडिय़ा टॉकिज के पीछे स्थित सोना ताम्रकार के मकान की दूसरी मंजिल पर स्थित दुकान को किराए पर लिया था। उक्त दुकान में वह किराने की थोक दुकान खोल रहा था। 14 मार्च को दुकान की ओपनिंग होनी थी। इसके लिए संचालक द्वारा चिप्स, बिस्किट सहित अन्य प्लास्टिक में पैक आइटम्स दुकान में भरकर रखे गए थे।

सोमवार की रात करीब 9 बजे संचालक दुकान में सामान सेट कर घर जा रहा था। वह दुकान से मार्केट में पहुंचा ही था कि 15 मिनट के भीतर मकान मालिक ने धुआं उठता देख उसे कॉल किया। सूचना मिलते ही संचालक वहां पहुंचा तो दुकान के एक हिस्से में आग लग चुकी थी। इसकी सूचना तत्काल फायरब्रिगेड की टीम को दी गई। सूचना मिलते ही फायरब्रिगेड मौके पर पहुंची और टीम द्वारा आग बुझानी शुरु कर दी गई।

 

Fire in wholesale shop

करीब 2 घंटे की मशक्कत के बाद टीम ने आग पर काबू पाया। तब तक दुकान में रखा पूरा सामान जलकर खाक हो चुका था। आग बुझाने में 3 दमकल पानी लग गया। संचालक के अनुसान उसने करीब 5 लाख का सामान दुकान में रखा था। प्रथमदृष्ट्या शॉर्ट-सर्किट से आग लगने की बात सामने आ रही है। पुलिस मामले की विवेचना कर रही है।


बाल-बाल बचे 3 लोग
आग लगने की सूचना पर संचालक जब मौके पर पहुंचा तो वह दूसरी मंजिल पर स्थित दुकान में 2 लोगों के साथ पहुंच गया। इसी बीच आग इतनी तेजी से फैली कि पूरे सामान को चपेट में ले लिया। ऐसे में तीनों आग की चपेट में आने से बाल-बाल बच गए। वे दूसरे रास्ते से उतरकर जान बचाने में कामयाब रहे। दुकान संचालक का कहना है कि उसे 5-6 लाख रुपए का नुकसान हुआ है, जबकि उसने दुकान का बीमा भी नहीं कराया था।

Show More
rampravesh vishwakarma Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned