50 लाख की अवैध अंग्रेजी शराब का मालिक व साथी लॉज से गिरफ्तार, ट्रक छोडक़र भागा ड्राइवर इंदौर से पकड़ा गया

Illegal liquor case: झारखण्ड के गिरीडीह में खपाने की थी तैयारी, ड्राइवर (Driver) की नियत खराब होने से अवैध शराब (Illegal liquor) पकड़ी गई, पुलिस ने शराब पकडऩे नहीं की थी कोई घेराबंदी

By: rampravesh vishwakarma

Published: 19 Nov 2020, 09:28 PM IST

चिरमिरी. कोरिया पुलिस ने नागपुर पेट्रोल पंप के पास कंटैनर में लोड 50 लाख की अंग्रेजी शराब (English wine) को लावारिस छोडक़र भागे आरोपी ड्राइवर को इंदौर मध्यप्रदेश से तथा शराब (Illegal liquor) व कंटेनर मालिक और उसके एक सहयोगी को चिरमिरी के महामाया लॉज से गिरफ्तार किया गया है।

मुख्य आरोपी ने बताया कि ड्राइवर खुद शराब लोड कंटेनर छोड़ भागा था, वह लॉज में रुक कर उसकी तलाश कर रहा था। इधर कोरिया पुलिस (Koria police) ने बताया था कि उन्होंने मुखबिर की सूचना पर घेराबंदी कर एक ट्रक शराब पकड़ी है। शराब (Liquor) से भरे कंटेनर को पकडऩे उन्होंने 4 थाने की टीम लगाई थी। ऐसे में शराब तस्कर व पुलिस की बात में विरोधाभास है।


एसपी सीएम सिंह ने गुरुवार को प्रेसवार्ता कर बताया कि इंडियन ऑयल सिंह पेट्रोल पम्प नागपुर के पास ट्रक क्रमांक यूपी 14 जेटी 1225 में 320 पेटी अंग्रेजी शराब, जिसकी कीमत 50 लाख रुपए को जब्त कर आबकारी एक्ट के तहत कार्यवाही की गई थी। ट्रक ड्राइवर एवं शराब मालिक (Liquor owner) पुलिस के गिरफ्त में नहीं आए थे।

मामले को गंभीरता से लेकर विवेचना जारी थी। इसी बीच ट्रक ड्राइवर दीपक लखेरा निवासी इन्दौर के रूप में जानकारी मिली। इसके बाद सीएसपी पीपी सिंह, सचिन सिंह थाना प्रभारी मनेन्द्रगढ़, चन्द्रसेन सिंह, जितेन्द्र ठाकुर की टीम गठित कर इंदौर भेजी गई थी। इंदौर से ट्रक ड्राइवर दीपक लखेरा को गिरफ्तार कर लिया गया।

पूछताछ में ड्राइवर ने ट्रक मालिक व अवैध शराब को सुनील सिंह निवासी दिल्ली का होना बताया। उसने बताया कि सुनील अपनी कार में साथी नरेन्द्र सिंह के साथ ट्रक का पीछा करते आया है और महामाया लॉज चिरमिरी में ठहरा है। साथ ही अपनी कार में ट्रक में लोड शराब का सैंपल (Liquor sample) भी रखा है।

इस आधार पर महामाया लॉज चिरमिरी से आरोपी सुनील सिंह एवं साथी नरेन्द्र को गिरफ्तार किया गया। पूछताछ में आरोपी सुनील ने ट्रक क्रमांक यूपी 14 जेटी 1225 का स्वयं मालिक व लोड शराब को भी स्वयं का होना बताया। ट्रक में लोड शराब का सैंपल होण्डा कार क्रमांक सीएल 04 सीएएन 8781 में 11 पेटी रखना स्वीकार किया।

इस आधार पर कार एवं उसमें रखी शराब को भी जब्त कर लिया गया। इस कार्रवाई में अश्वनी सिंह थाना प्रभारी चिरमिरी, सचिन सिंह थाना प्रभारी मनेन्द्रगढ़, एएसआई सउनि सुबल सिंह सहित अन्य शामिल थे।


मुख्य आरोपी बोला- कंटेनर छोडक़र ड्राइवर भागा, हम लॉज में रुककर कर रहे थे तलाश
कंटेनर व शराब मालिक आरोपी सुनील सिंह ने पुलिस को बताया कि अंबाला हरियाणा (Hariyana) से गिरीडीह झारखण्ड में खपाने ड्राइवर दीपक के माध्यम से भेजा जा रहा था। लेकिन ड्राइवर दीपक की नियत खराब हो गई थी। वह शराब से भरे ट्रक (Liquor load truck) को इन्दौर ले जाकर खपत करने के लालच में डालटनगंज से गढ़वा के रास्ते से छत्तीसगढ़ कोरिया नागपुर पहुंचा था।

इसी बीच पुलिस नाका बंदी से पकड़े जाने डर से नागपुर पेट्रोल पंप (Petrol pump) में गाड़ी छोडकर भाग गया था। ट्रक एवं शराब का मालिक सुनील सिंह के बताए रूट पर नहीं जाने व ड्राइवर से संपर्क नहीं होने से पता करते हुए वह नागपुर पहुंचा था।

साथ ही महामाया लॉज चिरमिरी में रुक कर नागपुर में खड़े लोड गाड़ी को निकालने के लिए ड्राइवर की तलाश कर रहा था। मामले में ट्रक ड्राइवर दीपक लखेरा, शराब मालिक सुनील सिंह दिल्ली (Delhi) एवं सहयोगी नरेन्द्र सिंह हरियाणा निवासी के खिलाफ धारा 34(1),34(2),59 आबकारी एक्ट के तहत गिरफ्तार कर न्यायालय में पेश किया गया है।

rampravesh vishwakarma Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned