फंदा लगाकर कोचिंग छात्रा ने दी जान

इस मामले में आत्महत्या के कारणों का फिलहाल पता नहीं लगा है।

कोटा. महावीर नगर थाना क्षेत्र में गुरुवार रात एक कोचिंग छात्रा ने फंदा लगाकर जान दे दी।पुलिस ने बताया कि थाना क्षेत्र के हरियाणा निवासी रितिका यादव (18) कोटा में एक कोचिंग में मेडिकल की तैयारी कर रही थी। वह कमला रेजीडेंसी हॉस्टल में रहती थी। जहां कमरे में वह फंदे पर झूल गई। जानकारी लगने पर उसे मेडिकल कॉलेज ले जाया गया। जहां चिकित्सकों ने उसे मृत घोषित कर दिया। पुलिस ने मृतका का शव एमबीएस की मोर्चरी में रखवाया। परिजनों के पहुंचने पर शव का पोस्टमार्टम किया जाएगा। पुलिस ने संदिग्ध अवस्था में मौत का मामला दर्ज कर जांच शुरू की। युवती ने फंदा लगाकर आत्महत्या की है।
इस मामले में आत्महत्या के कारणों का फिलहाल पता नहीं लगा है। छात्रा के कक्ष से कोई सुसाइड नोट नहीं मिला है।
प्रमेन्द्र रावत, थानाधिकारी, महावीर नगर


8 मिनट में हजारों रुपए की ऑनलाइन ठगी

कोटा. दादाबाड़ी थाना क्षेत्र निवासी एक वृद्ध से अज्ञात ठग ने डेबिट कार्ड सीज होने की बात कहकर आधार कार्ड, डेबिट कार्ड के सीसीवी नंबर व ओटीपी जान लिए। इससे पहले कि वृद्ध कुछ समझ पाता। ऑनलाइन ठग ने महज आठ मिनट में पांच बार निकासी कर खाते से 52 हजार 773 रुपए की खाते से ट्रांसफर कर लिए।

दादाबाड़ी निवासी महावीर कुमार जैन ने बताया कि बुधवार सुबह उसके मोबाइल पर सुबह 10 बजकर 8 मिनट पर अज्ञात जने का फोन आया। जिसने मोबाइल पर कुछ देर बाद उनका डेबिट कार्ड सीज होने की बात कहते हुए उनसे, आधार कार्ड नंबर, डेबिट कार्ड के सीसीवी नंबर, खाता संख्या व ओटीपी ले ली। इसके कुछ समय बाद ही ठग ने उनके पंजाब नेशनल बैंक के खाते से सुबह 10 बजकर 34 मिनट से 10 बजकर 42 मिनट तक कुल 52 हजार 773 रुपए निकाल लिए। गड़बड़ी का अंदेशा होने पर जब वे पंजाब नेशनल बैंक पहुंचे। तब जाकर उन्हें ठगी के मामले की जानकारी लगी। इस पर उन्होंने दादाबाड़ी थाने में मामले की शिकायत दी। पुलिस ने मामले की जांच शुरू की।

shailendra tiwari
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned