गैंगस्टर शिवराज ने कोर्ट परिसर में सरेआम दिखाई कोटा पुलिस की हकीकत, महकमे में मचा हड़कंप

अपराधियों से कोटा पुलिस की सांठगांठ के काले दाग और गहरे हुए

By: Suraksha Rajora

Updated: 18 Feb 2020, 08:18 PM IST

कोटा. हत्या और डकैती की साजिश के दो मामलों में सोमवार को कोर्ट में पेशी पर लाए गए कुख्यात गैंग के सरगना शिवराज सिंह ने कोटा पुलिस पर अवैध धंधे कराने और गैंगों का नेटवर्क संचालित करने का आरोप लगाया। अजमेर जेल में बंद गैंगस्टर शिवराज सिंह को कड़ी सुरक्षा में कोटा लाया गया।

सीआई कुन्हाड़ी गंगा सहाय शर्मा और थाने का जाप्ता उसे लेकर कोर्ट में पेश हुए। शिवराज को किसी भी शख्स से मिलने की इजाजत नहीं थी। जैसे ही शिवराज अदालत परिसर में घुसा चीख-चीख कर कोटा पुलिस पर आपराधिक गुटों के नेटवर्क को चलाने का आरोप लगाने लगा। शिवराज ने कहा कि कोटा में सारी गैंगवार पुलिसकर्मी ही करा रहे हैं।

कुछ पुलिसकर्मियों का नाम लेते हुए बोला कि जब तक इन जैसे लोग कोटा में रहेंगे, तब तक गैंगवार खत्म नहीं हो सकता। यह लोग क्रिकेट के सट्टे से लेकर जमीनों की खरीद फरोख्त और अवैध वसूली करते हैं और सभी को बंदियां भिजवाते हैं। जब तक कोटा पुलिस किसी गैंग को सपोर्ट करना बंद नहीं करेगी, तब तक यही हालात रहेंगे।

उच्च अधिकारियों को गुमराह करने के लिए शिवराज ऐसे आरोप लगा रहा है। इसके बाद भी उसने जो आरोप लगाए हैं हम उनकी जांच करेंगे। आरोपित पुलिसकर्मियों के कामकाज की भी गहनता से पड़ताल की जाएगी। हाल ही में जिन पुलिस कर्मियों के अपराधियों से संबंध मिलने के साथ कार्यशैली विभाग एवं जनहित में नहीं पाई गई, हमने उनके खिलाफ सख्त कार्रवाई की है।
रवि दत्त गौड़, डीआईजी, कोटा रेंज

Show More
Suraksha Rajora
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned