scriptHospital starts to empty | सरकारी दावे रहे खोखले, दिखाई दे रहा चिकित्सकों की हड़ताल का असर | Patrika News

सरकारी दावे रहे खोखले, दिखाई दे रहा चिकित्सकों की हड़ताल का असर

अस्पताल होने लगे खाली, जांचें भी हो गई आधी, चिकित्सक नहीं होने से टालने पड़े 60 ऑपरेशन।

कोटा

Published: December 21, 2017 05:00:17 pm

कोटा . सेवारत चिकित्सक, सीनियर व जूनियर रेजीडेंट्स के हड़ताल का असर अब दिखाई देने लगा है। बुधवार को जिले में 247 में से 200 चिकित्सक अनुपस्थित रहे। चिकित्सकों की हड़ताल के चलते अस्पताल भी खाली होने लगे है। जांचें भी आधी रह गई है। एमबीएस, जेके लोन, मेडिकल कॉलेज, रामपुरा जिला अस्पताल में चिकित्सकों के चैम्बर खाली थे। चिकित्सक नहीं होने के कारण मरीज अस्पतालों में नहीं पहुंच रहे है। इंडोर में भर्ती मरीजों की संख्या भी कम होने रही है। हालांकि आउटडोर में सीनियर डॉक्टर मोर्चा संभाले हुए हैं। सेन्ट्रल लैब प्रभारी नवीन सक्सेना ने बताया कि चिकित्सकों की हड़ताल के चलते मरीजों की संख्या घट गई है। इस कारण जांचें भी कम हो गई है। अमूमन प्रतिदिन 500 जांचें होती है जो घटकर 150 रह गई है। ऑपरेशन थियरेटर प्रभारी एस.सी. दुलारा ने बताया कि रेजीडेंट्स के अभाव में रूटिन के 60 ऑपरेशन टाले गए। इमरजेंसी के सिर्फ 15 ऑपरेशन किए गए।
Doctors Strike, Administration Alert, Collector Rohit Gupta, Emergency meeting, Review of arrangements, Problems of patients, Officers, Government Clinics, Doctors, Army, Railway, Department of Ayurveda, Kota, Kota Patrika, Kota Patrika News, Rajasthan Patrika
Hospital
यह भी पढ़ें

अाने वाले समय में कोटा को पहचानना हो जाएगा मुश्किल, ऐसे बदल जाएगा शहर का रूप

आईएमए सदस्य बांधेंगे काली पट्टी

आईएमए ने भी सेवारत चिकित्सकों को समर्थन दिया है। आईएमए के अध्यक्ष डॉ. जसवंत सिंह ने बताया कि सरकार पूर्व में हुए समझौते के बाद भी सेवारत चिकित्सकों पर दमनात्मक कार्रवाई कर रही है। जिसके विरोध स्वरूप कोटा संभाग के सभी आईएमए से जुड़े चिकित्सक गुरुवार से प्रतिदिन काली पट्टी बांधेंगे। साथ ही फैसला नहीं होने की स्थिति में शुक्रवार को सुबह 9 से 11 बजे तक पेनडाउन हड़ताल करेंगे।
यह भी पढ़ें

यह भी पढ़ें

https:/www.patrika.com/kota-news/the-body-found-in-bhanwarkun-was-identified-as-love-chowdhary-1-2131257/" target="_blank">मैं नहीं बन सका अच्छा बेटा, अब तुम दोनों को रखना होगा मम्मी-पापा का ध्यान

महासचिव के परिचितों के यहां दबिश

सेवारत चिकित्सक संघ के प्रदेश महासचिव दुर्गाशंकर सैनी की गिरफ्तारी को लेकर पुलिस ने छावनी में दबिश दी। हालांकि वहां पुलिस के हाथ कुछ नहीं लगा। मंगलेश्वर महादेव व्यायामशाला व अनंत चतुर्दशी महोत्सव के सहसंयोजक नाथूलाल पहलवान ने बताया कि चिकित्सक दुर्गाशंकर सैनी की तलाशी में पुलिस ने मंगलवार को उनके घर पर दबिश दी। उस समय वे बाहर थे। घर पर बच्चे व अन्य सदस्य थे। उसी समय पांच-सात पुलिसकर्मी घर पर पहुंचे और तलाशी ली। अखाड़ों को छाना। नाथूलाल पहलवान का कहना है कि जब परिवारजनों ने पुलिस से पूछा तो उनका कहना था कि चिकित्सक दुर्गाशंकर सैनी की तलाश में आए हैं। उनके यहां होने की सूचना मिली थी।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Group Sites

बड़ी खबरें

सीएम Yogi का बड़ा ऐलान, हर परिवार के एक सदस्य को मिलेगी सरकारी नौकरीश्योक नदी में गिरा सेना का वाहन, 26 सैनिकों में से 7 की मौतआय से अधिक संपत्ति मामले में हरियाणा के पूर्व CM ओमप्रकाश चौटाला को 4 साल की जेल, 50 लाख रुपए जुर्माना31 मई को सत्ता के 8 साल पूरा होने पर पीएम मोदी शिमला में करेंगे रोड शो, किसानों को करेंगे संबोधितपूर्व विधायक पीसी जार्ज को बड़ी राहत, हेट स्पीच के मामले में केरल हाईकोर्ट ने इस शर्त पर दी जमानतRenault Kiger: फैमिली के लिए बेस्ट है ये किफायती सब-कॉम्पैक्ट SUV, कम दाम में बेहतर सेफ़्टी और महज 40 पैसे/Km का मेंटनेंस खर्चआजम खान को सुप्रीम कोर्ट से फिर बड़ी राहत, जौहर यूनिवर्सिटी पर नहीं चलेगा बुलडोजरMumbai Drugs Case: क्रूज ड्रग्स केस में शाहरुख खान के बेटे आर्यन खान को NCB से क्लीन चिट
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.