scriptDevelopment of crores will start in Kota | अाने वाले समय में कोटा को पहचानना हो जाएगा मुश्किल, ऐसे बदल जाएगा शहर का रूप | Patrika News

अाने वाले समय में कोटा को पहचानना हो जाएगा मुश्किल, ऐसे बदल जाएगा शहर का रूप

कोटा में 732 करोड़ के प्रोजेक्ट के तहत विभिन्न कार्य संपादित होने पर मुहर लग गई है। आने वाले समय में कोटा में कई विकास कार्य होंगे।

कोटा

Published: December 21, 2017 04:36:15 pm

कोटा . स्मार्ट सिटी प्रोजेक्ट के तहत कोटा को स्मार्ट शहर बनाने की दिशा में काम शुरू हो गया है। प्रोजेक्ट में 732 करोड़ रुपए के विकास कार्य होंगे। सड़कें भी स्मार्ट बनाई जाएंगी। इसके लिए दिल्ली के विशेषज्ञ अध्ययन कर बताएंगे कि सड़कें कैसे स्मार्ट बनेंगी। पानी, बिजली, सीवरेज और सौंदर्यीकरण को तवज्जो दी गई है। भीतरिया कुण्ड के समीप रिवर फ्रन्ट पार्क, मल्टीपरपज स्कूल परिसर में बहुमंजिला पा व सिटी कन्वेंशन सेन्टर बनाने का भी फैसला हुआ है।
Smart City Project, Kota Smart City, Development Work, Smart Road, Beautification, Inland Kund, Kota Smart City Limited, Board of Directors, Meeting, Mayor Mahesh Vijay, Trust Chairman Ramkumar Mehta, Municipal Corporation, UIT, Smart Class, Green Field, Solar panels, Kota, Kota Patrika, Kota Patrika News, Rajasthan Patrika
स्‍मार्ट रोड
कोटा स्मार्ट सिटी लिमिटेड के बोर्ड ऑफ डायरेक्टर्स की बुधवार को नगर निगम के स्मार्ट सिटी चैम्बर में कम्पनी चेयरमैन व स्वायत्त शासन विभाग के प्रमुख शासन सचिव मंजीतसिंह की अध्यक्षता में हुई बैठक में स्मार्ट सिटी के कार्यों पर मुहर लगाई गई। बैठक में नए प्रोजेक्ट पर फिलहाल रोक लगा दी, जिन प्रोजेक्ट्स की विस्तृत परियोजना रिपोर्ट (डीपीआर) बन गई है, पहले उन प्रोजेक्ट्स पर काम शुरू होगा। स्मार्ट सिटी में कोटड़ी तालाब का आधुनिकीकरण किया जाएगा। नालों का सौंदर्यीकरण होगा। शहर में 24 घंटे जलापूर्ति की योजना को भी अंतिम रूप दिया है। बैठक में महापौर महेश विजय, न्यास अध्यक्ष रामकुमार मेहत, जिला कलक्टर रोहित गुप्ता, निगमायुक्त डॉ. विक्रम जिंदल सहित अन्य अधिकारी मौजूद रहे।
यह भी पढ़ें

यह भी पढ़ें

https:/www.patrika.com/kota-news/the-body-found-in-bhanwarkun-was-identified-as-love-chowdhary-1-2131257/" target="_blank"> मैं नहीं बन सका अच्छा बेटा, अब तुम दोनों को रखना होगा मम्मी-पापा का ध्यान

गोशाला के लिए नहीं मिलेगा बजट

बैठक में महापौर ने आवारा मवेशियों की समस्या रखते हुए एक और गोशाला बनाने के लिए स्मार्ट सिटी से बजट मांगा, लेकिन मंजीतसिंह ने स्पष्ट रूप से इसके लिए बजट देने से मना कर दिया। उन्होंने सलाह दी कि गोपालन विभाग से इसके के लिए बजट लें। योजनाबद्ध करें कार्य मंजीतसिंह नेकार्यों की समय पर डीपीआर तैयार करने एवं आमजन की भागीदारी से स्वच्छता कार्य को गति देने के निर्देश दिए। नेट पर रोजाना सूचनाएं अपडेट करने की बात कही। उन्होंने कहा कि स्मार्ट सिटी के लिए सभी कार्यों में आईटी का सदुपयोग कर ई-ऑफि स के साथ अधिकारी कार्य करें।
यह भी पढ़ें

बदलने जा रहा ट्रेनों का कलेवर, आने वाले समय में कुछ इस तरह दिखार्इ देगी आपकी ट्रेन

संस्कृति संकुल होगा विकसित

जिला कलक्टर ने न्यास द्वारा किशोर सागर तालाब के पास ग्रामीण हाट एवं राजकीय संग्रहालय की तरफ संस्कृति संकुल के रूप में विकसित करने के कार्य की जानकारी दी। स्मार्ट सिटी परियोजना के तहत एलईडी, स्ट्रीट लाइट, सिटी बस, साइकिल शेयरिंग, कमांड कन्ट्रोल सेन्टर, सिटी वाइड एप एवं झालावाड़ रोड पर ग्रीन वॉल आदि के कार्य करवाए जाएंगे। ई-बुक बैंक, ई-हैल्थ योजना भी शुरू की गई है। परियोजना में वर्तमान में अफोर्डेबल हाउसिंग, बिजली के स्मार्ट मीटर, नगर निगम में कचरे उठाने के वाहनों पर व्हीकल ट्रेकिंग सिस्टम, गैस वितरण पाइप लाइन एवं कनेक्शन, दशहरा मैदान फेज प्रथम आदि के कार्य प्रगति पर हैं।
यह भी पढ़ें

नगर निगम को नजर आ गर्इ कोटा की खुदी सड़कें, कर डाला ये कारनामा

ये होंगे काम

शानदार सड़क होगी सड़क के दोनों तरफ फुटपाथ होंगे। डिवाइडरों पर फुलवारी विकसित होगी। सड़क के दोनों तरफ डक्स होंगे, ताकि पाइप, केबल आदि डालने के लिए खुदाई नहीं हो, अतिक्रमण मुक्त सड़कें होंगी। सड़कों के दोनों तरफ ग्रीनरी रहेगी। स्मार्ट रोड लाइट्स रहेंगी। यातायात के आकर्षक संकेतक लगेंगे।सीवरेज लाइन, 24 घंटे जलापूर्ति, नाला विकास, स्मार्ट पार्किंग, कोटड़ी तालाब विकास, किशोर सागर में पोन्टून ब्रिज, शहर के ऐतिहासिक दरवाजों का पुनरुद्धार, इन्टीग्रेटेड कल्चलर कॉम्पलेक्स, ग्रीन वॉल, पार्कों का विकास, नयापुरा में स्पॉट्र्स कॉम्पलेक्स, रानपुर में ग्रीन फील्ड विकास पर 732 करोड़ रुपए खर्च होंगे।
यह भी पढ़ें

चिकित्सकों की हड़ताल का अब नहीं पड़ेगा शहर पर असर, प्रशासन हुआ अलर्ट

इस तरह खर्च होगी राशि

200 करोड़ रानपुर में ग्रीन एरिया विकसित करने पर। 130 करोड़ रुपए सीवेरज सिस्टम पर। 150 करोड़ रुपए से वाटर मैनेजमेंट होगा। 150 करोड़ रुपए कोटड़ी तालाब के सौदर्यीकरण पर। 50 करोड़ रुपए शहर के नालों के सौंदर्यीकण पर। 10 करोड़ रुपए पुराने हेरिटेज व प्राचीन दरवाजों के सौंदर्यीकरण पर। 8 करोड़ रुपए कल्चरल कॉम्लैक्स पर। 5 करोड़ राजकीय स्कूलाें के स्मार्ट क्लास रूम पर। 5 करोड़ रुपए में ग्रीन फील्ड विकसित किए जाएंगे। 30 करोड़ रुपए रूफ टॉप सोलर पैनल सरकारी आवासीय बिल्डि़ंग पर। 30 करोड़ रुपए शहर के स्मार्ट रोड बनाने पर। 80 लाख रुपए इन्टॉलेशन ऑफ सोलर पम्प पर खर्च होंगे।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Group Sites

Trending Stories

मौसम अलर्ट: जल्द दस्तक देगा मानसून, राजस्थान के 7 जिलों में होगी बारिशइन 4 राशियों के लोग होते हैं सबसे ज्यादा बुद्धिमान, देखें क्या आपकी राशि भी है इसमें शामिलस्कूलों में तीन दिन की छुट्टी, जानिये क्यों बंद रहेंगे स्कूल, जारी हो गया आदेश1 जुलाई से बदल जाएगा इंदौरी खान-पान का तरीका, जानिये क्यों हो रहा है ये बड़ा बदलावNumerology: इस मूलांक वालों के पास धन की नहीं होती कमी, स्वभाव से होते हैं थोड़े घमंडीबुध जल्द अपनी स्वराशि मिथुन में करेंगे प्रवेश, जानें किन राशि वालों का होगा भाग्योदयमोदी सरकार ने एलपीजी गैस सिलेण्डर पर दिया चुपके से तगड़ा झटकाजयपुर में रात 8 बजते ही घर में आ जाते है 40-50 सांप, कमरे में दुबक जाता है परिवार

बड़ी खबरें

Maharashtra Political Crisis: अयोग्यता नोटिस के खिलाफ शिंदे गुट पहुंचा सुप्रीम कोर्ट, सोमवार को होगी सुनवाईMaharashtra Political Crisis: एनसीपी प्रमुख शरद पवार ने महाराष्ट्र में राष्ट्रपति शासन लगाने पर दिया बड़ा बयान, कहीं यह बातBypoll Result 2022: उपचुनाव में मिली जीत पर सामने आई PM मोदी की प्रतिक्रिया, आजमगढ़ व रामपुर की जीत को बताया ऐतिहासिकRanji Trophy Final: मध्य प्रदेश ने रचा इतिहास, 41 बार की चैम्पियन मुंबई को 6 विकेट से हरा जीता पहला खिताबKarnataka: नाले में वाहन गिरने से 9 मजदूरों की दर्दनाक मौत, सीएम ने की 5 लाख मुआवजे की घोषणाअगरतला उपचुनाव में जीत के बाद कांग्रेस नेताओं पर हमला, राहुल गांधी बोले- BJP के गुड़ों को न्याय के कठघरे में खड़ा करना चाहिए'होता है, चलता है, ऐसे ही चलेगा' की मानसिकता से निकलकर 'करना है, करना ही है और समय पर करना है' का संकल्प रखता है भारतः PM मोदीSangrur By Election Result 2022: मजह 3 महीने में ही ढह गया भगवंत मान का किला, किन वजहों से मिली हार?
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.