कोरोना महामारी के बीच सुधरी इस जनपद की स्वास्थ्य व्यवस्थाएं, पहुंचा टॉप 10 में

- स्वास्थ्य संकेतकों में यूपी में टाप टेन में पहुंचा यह जनपद
- लखनऊ मण्डल में रहा नंबर वन पर

By: Abhishek Gupta

Published: 12 May 2020, 10:19 PM IST

लखीमपुर खीरी. कोरोना महामारी के इस दौर में लखीमपुर खीरी ने स्वास्थ्य सेवाओं के लिहाज से प्रदेश के टॉप टेन शहरों में जगह बनाई है। भौगोलिक विषमताओं के बावजूद जिलाधिकारी शैलेन्द्र कुमार सिंह के कुशल नेतृत्व और मार्गदर्शन में राज्य सरकार द्वारा जारी हेल्थ डैशबोर्ड पोर्टल पर अंकित संकेतकों के आधार पर जनपद खीरी मण्डल में पहले व प्रदेश में आठवें स्थान पर पहुंच गया है।

ये भी पढ़ें- यूपी में 3613 कोरोना संक्रमित, केवल मई माह में हुई 40 मौतें, इन जिलों में आए नए मामले सामने

उत्तर प्रदेश सरकार के यूपी हेल्थ डैश बोर्ड के अनुसार जिला खीरी में प्रशासन एवं स्वास्थ्य महकमे के अथक प्रयासों के चलते स्वास्थ्य संकेतकों में उल्लेखनीय सुधार हुआ है। इस पोर्टल पर प्रतिरक्षण, प्रसव पूर्व गर्भवती महिला जांच, संस्थागत प्रसव सहित 18 स्वास्थ्य सूचकांक के आधार पर जनपदों की रैंकिंग की जाती है। इस रैंकिंग के आधार पर जनपद खीरी प्रदेश में आठवें स्थान पर रहा। खीरी जनपद ने प्रसव पूर्व जांच (हीमोग्लोबिन के साथ) के 100 प्रतिशत, संस्थागत प्रसव में 75.46 प्रतिशत, ग्रह आधारित प्रसव भ्रमण में 92.44 प्रतिशत, पूर्ण प्रतिरक्षण में 94.89 प्रतिशत तथा प्रति आशा प्रोत्साहन राशि भुगतान में 8949.42 रूपये के साथ अन्य संकेतकों में भी अच्छा परिणाम प्राप्त किया है। वहीं जनपद का स्टिल बर्थ रेट घटकर 14.30 प्रतिशत हो गया है जो सुरक्षित प्रसव के लिए उपलब्ध स्वास्थ्य सेवाओं की सफलता को प्रदर्शित करता है। जिलाधिकारी शैलेन्द्र कुमार सिंह ने कहा कि हमें इस परिणाम से संतुष्ट नहीं होना है बल्कि हमें और बेहतर परिणाम देने हैं।

Abhishek Gupta
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned