FB-JIO Deal से आपके घर तक पहुंचेंगी किराना दुकानें, जानिए क्या है पूरा मामला

  • जियो मार्ट, व्हाट्सएप 3 करोड़ किराना दुकानों को ग्राहकों से जोड़ेंगी
  • लोग ऑर्डर कर स्थानीय दुकानों से सामान की करा सकेंगे डिलीवरी

By: Saurabh Sharma

Updated: 23 Apr 2020, 03:20 PM IST

नई दिल्ली। फेसबुक के साथ हुए समझौते के बाद रिलायंस इंडस्ट्रीज लिमिटेड ( Reliance Industries ) के अध्यक्ष एवं प्रबंध निदेशक मुकेश अंबानी ( Mukesh Ambani ) के अनुसार आने वाले समय में रिलायंस समूह से जुड़ीं कंपनियां जैसे जियो मार्ट ( Jio Mart ) और रिलायंस रिटेल ( Reliance Retail ) , व्हाट्सएप ( WhatsApp ) के जरिए व्यापार करेंगी और तीन करोड़ से अधिक किराना कारोबारियों को इस प्लेफार्म से जोड़ा जाएगा। अंबानी ने कहा कि इससे छोटे दुकानदारों और ग्राहकों को सीधा फायदा होगा। अंबानी ने फेसबुक ( Facebook ) के साथ जियो की साझेदारी की घोषणा करने के बाद कहा कि सभी ऑर्डर कर आसपास की स्थानीय दुकानों से दिन-प्रतिदिन के सामानों की तेजी से डिलीवरी पा सकते हैं।

यह भी पढ़ेंः- FB-JIO Deal में छिपा है Mukesh Ambani का सीक्रेट प्लान, RIL को होगा बड़ा फायदा

जियो और फेसबुक पूरा करेंगे पीएम मोदी का टारगेट
उन्होंने कहा कि इससे छोटी किराने की दुकानें अपने व्यवसाय को बढ़ा सकती हैं और डिजिटल प्रौद्योगिकियों का उपयोग करके रोजगार के नए अवसर पैदा किए जा सकते हैं। मुकेश अंबानी ने कहा, हमारे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी ने अपने डिजिटल इंडिया मिशन में दो महत्वाकांक्षी लक्ष्य निर्धारित किए हैं- सभी भारतीयों खासकर आम आदमी के लिए 'ईज ऑफ लिविंग' और उद्यमियों खासकर छोटे उद्यमियों के लिए 'ईज ऑफ डूइंग बिजनेस'।

उन्होंने कहा कि जियो और फेसबुक के बीच करार से इन लक्ष्यों को पूरा करने में मदद मिलेगी। उन्होंने कहा, मुझे विश्वास है कि आप सभी सुरक्षित हैं। हम सभी और रिलायंस जियो फेसबुक इंक का स्वागत करते हैं।

यह भी पढ़ेंः- किसानों को 31 मई तक जारी रहेगी फसल ऋण के ब्याज पर छूट

डिजिटल इकोनॉमी को मिलेगी गति
व्हाट्सएप भारत की सभी 23 आधिकारिक भाषाओं में उपलब्ध है और लोगों की बोलचाल की भाषा बन चुका है। उन्होंने कहा, आने वाले दिनों में यह गठजोड़ भारतीय समाज के अन्य प्रमुख हितधारकों की सेवा भी करेगा- हमारे किसान, हमारे छोटे और मझोले उद्यम, हमारे छात्र और शिक्षक, हमारे स्वास्थ्य सेवा प्रदाता और हमारी महिलाएं और युवा, जिन्होंने नए भारत की नींव रखी है।

अंबानी ने डिजिटल अर्थव्यवस्था पर कहा, हमारी कंपनियां साथ मिलकर भारत की डिजिटल अर्थव्यवस्था को गति देंगी, ताकि आप को सक्षम बनाया जा सके और आपको समृद्ध बनाया जा सके। हमारी साझेदारी भारत को दुनिया का अग्रणी डिजिटल समाज बनाने के लिए है।

Show More
Saurabh Sharma Desk/Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned