Reliance Retail ने खरीदा Future Group, जानिए कितनी चुकानी पड़ी कीमत

  • Reliance Retail ने 24,713 करोड़ रुपए में खरीदा Future Group का कारोबार
  • Amazon और Flipkart जैसी दिग्गज कंपनियों को टक्कर देने को है तैयार

By: Saurabh Sharma

Updated: 30 Aug 2020, 02:22 PM IST

नई दिल्ली। मुकेश अंबानी ( Mukesh Ambani ) की कंपनी रिलायंस रिटेल वेंचर लिमिटेड ( Reliance Retail Ventures LTD ) ने फ्यूचर ग्रुप ( Future Group ) का रिटेल, होलसेल लॉजिस्टिक्स और वेयरहाउस बिजनेस 24713 करोड़ रुपए में खरीद लिया है। इस मेगा डील से कंपनी की रिटेल कारोबार ( Retail Business ) में स्थिति और भी मजबूत हो जाएगी। कंपनी की ओर से दी गई जानकारी के अनुसार रिलायंस इंडस्ट्रीज लिमिटेड ( Reliance Industries Limited ) की सहायक कंपनी रिलायंस रिटेल वेंचर लिमिटेड ने फ्यूचर समूह के खुदरा और थोक कारोबार तथा लॉजिस्टिक्स और भंडारण कारोबार के एकमुश्त 24,713 करोड़ रुपए में खरीद लिया है। भारतीय ई-कॉमर्स बाजार ( Indian E-Commerce Market ) में अमेजन जैसी दिग्गज कंपनियों को टक्कर देने के लिए रिलायंस रिटेल अपनी पकड़ मजबूत कर रहा है।

यह भी पढ़ेंः- 82 रुपए के पार हुआ दिल्ली में Petrol Price, जानिए आपके शहर में कितनी हो गई कीमत

कौन सा इंटरप्राइज किसमें होगा ट्रांसफर
डील के तहत फ्यूचर ग्रुप कुछ कंपनियों को फ्यूचर एंटरप्राइजेज लिमिटेड (एफईएल) में मर्ज कर रहा है। इस योजना के अंतर्गत रिटेल और होलसेल इंटरप्राइज को रिलायंस रिटेल एंड फैशन लाइफस्टाइल लिमिटेड में ट्रांसफर किया जा रहा है। यह आरआरवीएल की पूर्ण स्वामित्व वाली सहायक कंपनी है, लॉजिस्टिक्स और वेयरहाउसिंग अंडरटेकिंग को आरआरवीएल को ट्रांसफर किया जा रहा है।

यह भी पढ़ेंः- चार सालों में 100 अरब डॉलर का हो सकता है E-Commerce Market

रिटेल सेक्टर में होगा विकास
रिलायंस रिटेल वेंचर्स लिमिटेड की निदेशक ईशा अंबानी ने कहा कि फ्यूचर ग्रुप के प्रसिद्ध ब्रांडों के साथ-साथ उसके व्यावसायिक ईको सिस्टम को संरक्षित करने में हमें खुशी होगी। भारत में आधुनिक रिटेल के विकास में यह महत्वपूर्ण भूमिका निभाएगा। उन्हें उम्मीद है कि छोटे व्यापारियों, किराना स्टोर्स और बड़े उपभोक्ता ब्रांडों की सहभागिता के दम पर रिटेल सेक्टर में विकास की गति बनी रहेगी, हम देश भर में अपने उपभोक्ताओं को बेहतर मूल्य प्रदान करने के लिए प्रतिबद्ध हैं। रिलायंस इंडस्ट्रीज के मालिक मुकेश अंबानी ने रिटेल बिजनेस में तीन करोड़ किराना मालिकों और 12 करोड़ किसानों को जोडऩे का लक्ष्य रखा था।

यह भी पढ़ेंः- Amrapali Home Buyers को बकाया चुकाने पर मिली मोहलत, 15 सितंबर तक जमा करा सकते हैं पहली किस्त

कंपनी का प्लान
आरआरवीएल ने कहा कि इस अधिग्रहण योजना के तहत फ्यूचर समूह अपनी कुछ कंपनियों का विलय फ्यूचर एंटरप्राइजेज लिमिटेड (एफईएल) में कर रहा है। कंपनी ने बताया कि इस योजना के तहत फ्यूचर समूह के खुदरा और थोक कारोबार को आरआरवीएल की सहायक कंपनी रिलायंस रिटेल एंड फैशन लाइफस्टाइल लिमिटेड (आरआरएफएलएल) को हस्तांतरित किया जाएगा। वह 1200 करोड़ प्रेफरेंशियल इश्यू के जरिए निवेश करेगी और फ्यूचर एंटरप्राइजेज लिमिटेड में 6.09 फीसदी हिस्सेदारी खरीदेगी।

Show More
Saurabh Sharma
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned