79,900 रुपए के iPhone 12 को बनाने में खर्च होते हैं मात्र 27,500 रुपए, यहां जानें लागत व कीमत का सच

  • एक रिपोर्ट में iPhone 12 और iPhone 12 Pro के Bill of Materials बताए गए हैं।
  • iPhone 12 Pro बनाने में 406 डॉलर (करीब 30,000 रुपए) का खर्च आता है।
  • रिटेल में जाने के बाद बढ़ जाती है कई पार्ट्स की कीमत।

By: Mahendra Yadav

Published: 29 Nov 2020, 06:45 PM IST

iPhone को लग्जरी आइटम में गिना जाता है। लोग इसे स्टेटस सिंबल से भी जोड़ते हैं। ऐसे में आईफोन की काफी डिमांड रहती है। हालांकि यह सामान्य स्मार्टफोन्स से ज्यादा मंहगे होते हैं। iPhone निर्माता कंपनी Apple ने इसी वर्ष अक्टूबर माह में iPhone 12 सीरीज लॉन्च की। इस सीरीज के तहत कंपनी ने iPhone 12 Mini, iPhone 12, iPhone 12 Pro और iPhone 12 Pro Max लॉन्च किए। बता दें कि भारत में iPhone 12 की कीमत 79,900 रुपए और iPhone 12 Pro की कीमत 1,19,900 रुपए है। अब आईफोन्स की लागत और कीमत से जुड़ी डिटेल्स सामने आई हैं।

iPhone 12 बनाने में आता है इतना खर्च
Nikkei ने टोक्यो बेस्ड रिसर्च स्पेशलिस्ट Fomalhaut Techno Solutions के साथ मिलकर iPhone 12 और iPhone 12 Pro के Bill of Materials बताए हैं। इन बिल ऑफ मटीरियल्स के अनुसार, iPhone 12 बनाने में 373 डॉलर (करीब 27,500 रुपए) का खर्च आता है। वहीं iPhone 12 Pro बनाने में 406 डॉलर (करीब 30,000 रुपए) का खर्च आता है। हालांकि, रिटेल में जाने के बाद कई पार्ट्स की कीमत बढ़ जाती है।

यह भी पढ़ें—iPhone के बैक पैनल में छिपा है कमाल का बटन, ऐसे करें इस्तेमाल

iphone_2.png

आईफोन के ये पार्ट्स हैं सबसे महंगे
इस रिपोर्ट में बताया गया है कि iPhone 12 और iPhone 12 Pro के कुछ पार्ट्स महंगे हैं। इनमें Qualcomm X55 5G मॉडेम, सैमसंग की ओर से मैन्युफैक्चर किया गया OLED डिस्प्ले, सोनी कंपनी के कैमरा सेंसर और A14 Bionic चिप हैं। क्वालकॉम के प्रोसेसर की कीमत करीब 90 डॉलर (करीब 6,600 रुपए) बताई ज रही है। वहीं सैमसंग द्वारा बनाई गई OLED डिस्प्ले की कीमत लगभग 70 डॉलर (करीब 5,200 रुपए) बताई जा रही है।

यह भी पढ़ें—लोगों के लिए मुसीबत बना आईफोन 12, चाकू की तरह कट रही उंगलियां! जानें पूरा मामला

इसलिए बढ़ जाती है कीमत
आईफोन 12 को बनाने की लागत तो कम है फिर इसकी कीमत इसलिए बढ़ जाती है क्योंकि फाइनल प्रोडक्ट मार्केट में आने पर कंपनी के प्रॉफिट के अलावा कई तरह के टैक्स और इंपोर्ट ड्यूटी भी उसमें जुड़ जाती है। इसके अलावा रिपोर्ट में iPhone 12 सीरीज बनाने के लिए किस देश से कितने कॉम्पोनेंट्स आते हैं, इस बारे में भी बताया गया है। रिपोर्ट के अनुसार इसका सबसे ज्यादा 26.8 प्रतिशत शेयर साउथ कोरिया के पास है। इसी तरह US और यूरोप से 21.9 प्रतिशत पार्ट्स, चीन से आने वाले पार्ट्स के पास 5 प्रतिशत से कम और जापान व ताइवान से क्रमश: 13.6 प्रतिशत और 11.1 प्रतिशत कॉम्पोनेंट्स की सप्लाई होती है।

Show More
Mahendra Yadav
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned