script त्रेतायुग के वैभव की ओर बढ़ रहा अयोध्या धाम, 2 करोड़ 39 लाख पर्यटक पहुंचे | 2 crore 39 lakh tourists visit Ayodhya Dham | Patrika News

त्रेतायुग के वैभव की ओर बढ़ रहा अयोध्या धाम, 2 करोड़ 39 लाख पर्यटक पहुंचे

locationलखनऊPublished: Jan 16, 2024 08:55:41 am

Submitted by:

Ritesh Singh

एक साल में पर्यटकों की संख्या लगभग 82 लाख बढ़ गई। प्रभु श्री राम का मंदिर बनने के बाद देश- दुनिया के श्रद्धालुओं का रेला उमड़ेगा।

37 मंदिरों और कुंडों और अफीम कोठी का हो रहा विकास 
37 मंदिरों और कुंडों और अफीम कोठी का हो रहा विकास 
भारत की गौरवशाली आध्यात्मिक एवं सांस्कृतिक परंपरा का प्रतिनिधित्व करने वाली अयोध्या अपने त्रेतायुगीन वैभव की ओर बढ़ रही है। 22 जनवरी 2024 को श्री राम जन्मभूमि मंदिर में प्रभु श्रीराम की प्राण प्रतिष्ठा से पहले 30 दिसंबर को प्रधानमंत्री ने लगभग 15 हजार 700 करोड़ की विकास परियोजनाओं का लोकार्पण और शिलान्यास किया। महर्षि वाल्मीकि अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डा अयोध्या धाम व पुनर्विकसित अयोध्या धाम जंक्शन रेलवे स्टेशन जनता को समर्पित किया। वंदे भारत ट्रेन और अमृत भारत एक्सप्रेस ट्रेनों को हरी झंडी दिखाई।
यह भी पढ़ें

राम की मूर्ति के साथ परिवहन राज्यमंत्री ने किया बस का सफर, वीडियो हुआ वायरल

विकास की यह भव्यता देश- दुनिया से आने वाले पर्यटकों को न केवल सुविधा बल्कि विशेष अनुभव प्रदान करेगी। भगवान श्रीराम की प्राणप्रतिष्ठा के बाद यहां बड़ी संख्या में पर्यटक आएंगे। श्रद्धालुओं के संभावित रेला को देखते हुए यह सुविधाएं विकसित की जा रही हैं। कार्य इस आधार पर किए जा रहे हैं कि लोग अयोध्या धाम में प्रवेश करते राममय हो जाएं।
यह भी पढ़ें

IMD Weather Update : नहीं थम रहा Cold Day का कहर, जारी रहेगा कोहरा, बारिश भी करेगी परेशान

मर्यादा पुरुषोत्तम श्रीराम की नगरी में प्रवेश के प्रमुख सड़क मार्गों पर गेट बनाए जा रहे हैं। ऐसी बनावट कि लोग प्रवेश करते ही राम की धुन में रम जाएं। उत्तर प्रदेश पर्यटन की ओर से यहां गेट काप्लेक्स भी बनाए जा रहे हैं। गेट कॉम्प्लेक्स में पर्यटकों के लिए लगभग सभी आवश्यक सुविधाएं उपलब्ध रहेंगी। जो लोग वायु मार्ग से आएंगे, वे महर्षि वाल्मीकि अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डा अयोध्या धाम पर त्रेतायुगीन झलकियों से परिचित होंगे। इसी थीम पर अयोध्या धाम जंक्शन रेलवे स्टेशन भी विकसित हुआ है।
37 मंदिरों और कुंडों और अफीम कोठी का हो रहा विकास

उत्तर प्रदेश पर्यटन की ओर से अयोध्या में स्थित 37 मंदिरों और कुंडों का भी जीर्णोधार किया जा रहा है। यह कार्य तेजी से चल रहा है और शीघ्र पूरे होने की संभावना है। उत्तर प्रदेश पर्यटन की ओर से ही पंचकोसी परिक्रमा पथ, चौदह कोसी परिक्रमा पथ, चौरासी कोसी परिक्रमा पथ पर विश्राम घर, शौचालय, पेयजल, स्तंभ, प्रवेश द्वार, साइनेज, सिटिंग इंटरप्रेटेशन वाल सहित अन्य कार्य कराए जा रहे हैंं।
यह भी पढ़ें

यूपी सरकार का बड़ा फैसला : पुलिसकर्मियों और अफसरो की रद्द हुईं सभी छुट्टियां, जारी हुआ निर्देश

अफीम कोठी का विकास कराया जा रहा है। नया घाट से लक्ष्‍मण घाट तक पर्यटक सुविधाओं का विकास और सौंदर्यीकरण हो रहा है। जनपद अयोध्या में सरयू नदी पर राम की पैड़ी से राजघाट तक, राजघाट से भगवान श्रीराम मन्दिर तक श्रद्धालु भ्रमण पथ का सुदृढ़ीकरण हो रहा है।
यह भी पढ़ें

पश्चिमी विक्षोभ कराएगा मूसलाधार बारिश, मौसम विभाग की नई भविष्यवाणी

गुप्तार घाट व राजघाट के बीच नये पक्के घाटों एवं पूर्व निर्मित घाटों पर पुनरोद्धार का कार्य हो रहा है। राम की पैड़ी पर दर्शक दीर्घा व लाइट एण्ड साउण्ड शो का कार्य हो रहा है। इसके अलावा कई और विकास कार्य कराए जा रहे हैं । जल्द ही अयोध्या में हेलीकाप्टर सेवा का भी शुभारंभ हो सकता है। उत्तर प्रदेश पर्यटन ने हेलीकॉप्टर संचालन के लिए टेंडर निकाल दिया है।
अयोध्या में दीपावली जैसा माहौल
सरयू में क्रूज का संचालन पहले से ही हो रहा है। साथ ही उच्च सुविधा होटलों का निर्माण हो रहा है। सौभाग्य है कि हम उस प्रदेश के वासी हैं, जहां मर्यादा पुरुषोत्तम भगवान श्रीराम ने जन्म लिया। अयोध्या धाम ने दुनिया को दीपावली जैसा पवित्र त्योहार दिया है।
वर्तमान समय में अयोध्या में जो भव्यता और दिव्यता या भविष्य में होने वाले बदलाव की जो तस्वीर दिख रही है, उसकी नींव वर्ष 2017 में प्रदेश सरकार ने रख दी थी। यह वही वर्ष था जब दीपोत्सव की शुरुआत हुई थी। भगवान श्री राम की नगरी अयोध्या में दीपावली के आयोजन की प्राचीन और गौरवशाली परंपरा को उत्तर प्रदेश सरकार दीपोत्सव के माध्यम से पुनर्प्रतिष्ठा कर संपूर्ण विश्व समुदाय को अयोध्या धाम की महिमा से परिचित करने का कार्य कर रही है।
2022 में 2 करोड़ 39 लाख पर्यटक आए

यह पुनीत कार्य वर्ष 2017 से निरंतर हर वर्ष पूरी भव्यता और दिव्यता के साथ आयोजित हो रहा है। एक लाख 87 हजार से ज्यादा दीपों के जगमगाने का शुरू हुआ अभियान अब 22 लाख से ज्यादा तक पहुंच चुका है। इस बार अयोध्या दीपोत्सव में 54 देशों के राजनयिक शामिल हुए थे। गर्व का विषय यह भी कि अमेरिका, ब्रिटेन समेत करीब दर्जन भर देशों में दिवाली पूरे उल्लास के साथ मनाई जाती है।
यह भी पढ़ें

डिप्टी सीएम ब्रजेश पाठक ने लगाया मंदिर में पोछा देखे तस्वीरें

अयोध्या में वर्ष 2022 में 2 करोड़ 39 लाख से ज्यादा पर्यटक आए थे जबकि वर्ष 2021 में 1 करोड़ 57 लाख लोग देश- विदेश से भ्रमण के लिए आए थे। यानी एक साल में पर्यटकों की संख्या लगभग 82 लाख बढ़ गई। प्रभु श्री राम का मंदिर बनने के बाद देश- दुनिया के श्रद्धालुओं का रेला उमड़ेगा। इसके मद्देनजर आवश्यक सुविधाओं का विकास किया जा रहा है।

ट्रेंडिंग वीडियो