लोकतंत्र की धज्जियां उड़ा रही योगी सरकार, जहां हिंसा हुई रद्द हों चुनाव : प्रियंका गांधी

लखीमपुर में कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी ने अभद्रता का शिकार अनीता को गले लगाकर दिलाया न्याय का भरोसा

By: Hariom Dwivedi

Published: 17 Jul 2021, 04:38 PM IST

पत्रिका न्यूज नेटवर्क
लखनऊ. कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी (Priyanka Gandhi) शनिवार को लखनऊ से लखीमपुर खीरी पहुंची। यहां उन्होंने ब्लॉक प्रमुख के चुनाव (UP Panchayat Chunav) के नामांकन के दौरान हिंसा तथा अभद्रता की शिकार महिलाओं से करीब 20 मिनट तक मुलाकात की। पसगवां गांव में जाकर अभद्रता का शिकार हुई अनीता यादव से मिलीं और गले लगाकर न्याय का भरोसा दिलाया। मीडिया से मुखातिब प्रियंका गांधी ने कहा कि यूपी में लोकतंत्र नाम की कोई चीज नहीं है। ब्लॉक प्रमुख चुनाव के दौरान महिलाओं की साड़ी खींची गई। कपड़े फाड़े गए। छोटा बच्चा भी था। दबंगों को उस पर तरस नहीं आया। किसी ने इस अत्याचार को रोका नहीं। सीओ ने बचाने की कोशिश की तो उस पर ही कार्रवाई कर दी गई। प्रशासन मौन खड़ा रहा। एक छोटा सा काम ऐसी घटनाओं पर जो किया जाना चाहिए चुनाव को रद्द करना उसे भी नहीं किया गया। वह इस अत्याचार के खिलाफ वह महिलाओं के साथ खड़ी हैं और वह मांग करती हैं कि उनके विरुद्ध कड़ी से कड़ी कार्रवाई की जाए। उन्होंने कहा कि भाजपा सरकार महिला अपराध का पर्याय बन चुकी है। आने वाले समय (uttar pradesh assembly elections 2022) में प्रदेश की महिलाएं महिला विरोधी सरकार को करारा जवाब देंगी।

कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी ने ट्वीट करते हुए कहा कि लोकतंत्र का चीरहरण करने वाले भाजपा के गुंडे कान खोलकर सुन लें, महिलाएं प्रधान, ब्लॉक प्रमुख, विधायक, सांसद, मुख्यमंत्री, प्रधानमंत्री बनेंगी और उनपर अत्याचार करने वालों को शह देने वाली सरकार को शिकस्त देंगी। पंचायत चुनाव में भाजपा द्वारा की गयी हिंसा की शिकार अपनी सभी बहनों, नागरिकों के न्याय के लिए मैं राज्य चुनाव आयोग को पत्र लिखूंगी।

मंत्री मोहोसिन रजा ने घेरा
प्रियंका गांधी के यूपी दौरे पर यूपी सरकार में राज्यमंत्री मोहसिन रजा ने कहा कि प्रियंका गांधी कभी भी और कहीं भी जाने के लिए आजाद हैं क्योंकि उत्तर प्रदेश सभी के लिए खासकर महिलाओं के लिए सुरक्षित है। जनता ने कांग्रेस को हर जगह से नकार दिया है। अगर प्रियंका गांधी सच में कुछ करना चाहती हैं तो उनको किसानों को वो जमीनें लौटाना चाहिए जो कांग्रेस नेताओं ने ले ली है।

यह भी पढ़ें : लखीमपुर में प्रियंका गांधी ने बीजेपी को घेरा, कहा- प्रदेश की महिलाएं आने वाले समय में महिला विरोधी सरकार को करारा जवाब देंगी

प्रियंका गांधी के मौन व्रत पर कार्रवाई, 500 पर एफआइआर
कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी के मौन व्रत को लेकर लखनऊ की हजरतगंज कोतवाली में कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष अजय कुमार लल्लू सहित 500 से अधिक अज्ञात लोगों के खिलाफ केस दर्ज किया गया है। अज्ञात में सभी कांग्रेस कार्यकर्ता हैं। एफआईआर में धारा-144 के उल्लंघन, सार्वजनिक संपत्ति को नुकसान, महामारी एक्ट आदि का जिक्र किया गया है। इस मुकदमे प्रियंका गांधी का नाम शामिल नहीं है। शुक्रवार शाम को प्रियंका गांधी हजरतगंज स्थित गांधी प्रतिमा पर करीब दो घंटे तक मौन धरने पर बैठी थीं। पुलिस के अनुसार, कांग्रेस की ओर से सिर्फ 10 मिनट के कार्यक्रम की इजाजत ली गई।

यह भी पढ़ें : प्रियंका गांधी बैठी धरने पर बोली ये कैसा विकास

Show More
Hariom Dwivedi
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned