scriptCorona update Sero survey in 19 districts UP protect against Omicron | ओमिक्रोन से बचाव के लिए यूपी के 19 जिलों में सीरो सर्वे, कितनी बार हुआ जानें | Patrika News

ओमिक्रोन से बचाव के लिए यूपी के 19 जिलों में सीरो सर्वे, कितनी बार हुआ जानें

कोरोना वायरस के नए वैरिएंट ओमिक्रोन के खतरे से बचाव करने के लिए यूपी में तीसरी बार सीरो सर्वे किया जा रहा है। उत्तर प्रदेश में पहला सर्वे 11 जिलों में सितंबर 2020 में किया गया था। सर्वे में 22 फीसद लोगों में कोरोनावायरस के प्रति एंटीबाडी पाई गई थी। फिर दूसरा सीरो सर्वे जून 2021 में किया गया था। इसमें 62 हजार व्यक्तियों पर सर्वे शामिल था। इसमें 71 फीसद व्यक्तियों में एंटीबाडी पाई गई थी।

लखनऊ

Published: December 27, 2021 03:16:36 pm

लखनऊ. कोरोना वायरस के नए वैरिएंट ओमिक्रोन के खतरे से बचाव करने के लिए यूपी में तीसरी बार सीरो सर्वे किया जा रहा है। इस बार इस सीरो सर्वे में लखनऊ समेत 19 जिले शामिल हैं। स्वास्थ्य विभाग ने सीरो सर्वे के लिए 10 टीमों का गठन कर उनको यह जिम्मेदारी सौंपी है। प्रत्येक टीम में चार सदस्य होंगे। इसके तहत 100 अलग अलग व्यक्तियों के नमूने लिए जाएंगे। इन नमूनों की जांच केजीएमयू लखनऊ में होगी। सीरो सर्वे में सीरो सर्वे में कोरोना वायरस के प्रति प्रतिरोधक क्षमता की जांच की जाती है। सोमवार से यह जांच शुरू हो गई है।
ओमिक्रोन से बचाव के लिए यूपी के 19 जिलों में सीरो सर्वे, कितनी बार हुआ जानें
ओमिक्रोन से बचाव के लिए यूपी के 19 जिलों में सीरो सर्वे, कितनी बार हुआ जानें
उत्तर प्रदेश में हो चुके दो सीरो सर्वे

उत्तर प्रदेश में पहला सर्वे 11 जिलों में सितंबर 2020 में किया गया था। सर्वे में 22 फीसद लोगों में कोरोनावायरस के प्रति एंटीबाडी पाई गई थी। फिर दूसरा सीरो सर्वे जून 2021 में किया गया था। इसमें 62 हजार व्यक्तियों पर सर्वे शामिल था। इसमें 71 फीसद व्यक्तियों में एंटीबाडी पाई गई थी।
यह भी पढ़ें

Coronavirus Update : अचानक एक साथ 49 नए मरीज मिले, इस जिले में हैं सबसे अधिक

कोरोना की तीसरी लहर बढ़ा

यूपी में कोरोना की तीसरी लहर और ओमिक्रोन को खतरे को देखते हुए स्वास्थ्य विभाग में सीरो सर्वे कराने का फैसला किया है। इस बार के सीरो सर्वे में पहली और दूसरी लहर में संक्रमित और कुछ टीकाकरण कराने वाले व्यक्तियों के साथ संक्रमण की चपेट में न आने वाले कुछ व्यक्ति भी सर्वे में शामिल किए जाएंगे। इन सभी के शरीर में मौजूद एंटीबाडी की जांच होगी।
यह भी पढ़ें

Coronavirus Update : यूपी में आज रात से कोरोना कर्फ्यू, जानें क्या है नई गाइडलाइंस

कुल 100 लोगों के नमूने लिए जाएंगे

मुख्य चिकित्सा अधिकारी कार्यालय प्रवक्ता योगेश रघुवंशी ने बताया कि, कुल 100 लोगों के नमूने लिए जाने हैं। इसके लिए पांच श्रेणियां बनाई गई हैं। प्रत्येक श्रेणी में 20 लोगों के नमूने लिए जाएंगे। केंद्र सरकार की तरफ से उनके नाम भेजे गए हैं।
जांच के लिए खून का नमूना

सभी चिन्हित लोगों के कोविड एंटीजन जांच के लिए नाक और गले से नमूने लिए जाएंगे। इसके अलावा एंटीबाडी जांच के लिए खून का नमूना भी लिया जाएगा।
इनके लिए जाएंगे नमूने

-31 दिसंबर 2020 से पहले पॉजिटिव मिले स्वास्थ्य कर्मी के लिए जाएंगे नमूने।
-16 जनवरी 2021 को टीकाकरण से पूर्व निगेटिव रहे स्वास्थ्य कर्मी।
- 60 वर्ष से अधिक आयु के व्यक्ति जो 28 फरवरी 2021 से पहले पॉजिटिव हुए हो।
-ऐसे बुजुर्ग जो पहली मार्च 2021 तक पॉजिटिव न हुए हों।
-18 से 59 आयु वर्ग के सामान्य व्यक्ति जो मई से अगस्त 2020 के बीच पॉजिटिव हुए हो।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

इन नाम वाली लड़कियां चमका सकती हैं ससुराल वालों की किस्मत, होती हैं भाग्यशालीजब हनीमून पर ताहिरा का ब्रेस्ट मिल्क पी गए थे आयुष्मान खुराना, बताया था पौष्टिकIndian Railways : अब ट्रेन में यात्रा करना मुश्किल, रेलवे ने जारी की नयी गाइडलाइन, ज़रूर पढ़ें ये नियमधन-संपत्ति के मामले में बेहद लकी माने जाते हैं इन बर्थ डेट वाले लोग, देखें क्या आप भी हैं इनमें शामिलइन 4 राशि की लड़कियों के सबसे ज्यादा दीवाने माने जाते हैं लड़के, पति के दिल पर करती हैं राजशेखावाटी सहित राजस्थान के 12 जिलों में होगी बरसातदिल्ली-एनसीआर में बनेंगे छह नए मेट्रो कॉरिडोर, जानिए पूरी प्लानिंगयदि ये रत्न कर जाए सूट तो 30 दिनों के अंदर दिखा देता है अपना कमाल, इन राशियों के लिए सबसे शुभ

बड़ी खबरें

Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.