देश के इस बड़े घराने की बेटी ने थामा भाजपा का दामन, दो साल पहले शाही शादी कर बटोरी थीं सुर्खियां

देश के इस बड़े घराने की बेटी ने थामा भाजपा का दामन, दो साल पहले शाही शादी कर बटोरी थीं सुर्खियां

Karishma Lalwani | Updated: 19 Aug 2019, 05:52:06 PM (IST) Lucknow, Lucknow, Uttar Pradesh, India

- पूर्व सांसद व बाहुबली नेता की पत्नी ने ज्वाइन की भाजपा

- निप्पो समूह घराने की बेटी श्रीकला रेड्डी भाजपा में शामिल

लखनऊ. भारतीय जनता पार्टी (BJP) के कार्यकारी अध्यक्ष जेपी नड्डा ने रविवार को हैदराबाद में करीब 60 लोगों को बीजेपी ज्वाइन कराई। इनमें पूर्वांचल के बाहुबली नेता और पूर्व सांसद धनंजय सिंह (Dhananjay Singh)की पत्नी श्रीकला रेड्डी का नाम भी शामिल है। श्रीकला रेड्डी तेलंगाना का राजनीति में पहले से सक्रिय हैं। वे निप्पो समूह घराने की बेटी हैं। धनंजय सिंह ने उनके भाजपा में शामिल होने पर कहा कि वे तेलंगाना में उनकी खुद की पृष्ठभूमि है। इसके साथ ही वे पहले से ही राजनीति में सक्रिय हैं।

धनंजय सिंह ने 2002 में निर्दलीय प्रत्याशी के रूप में जौनपुर के रारी विधानसभा से चुनाव जीता था। समय के साथ वे न केवल जिले की राजनीति की मुख्य धुरू बने 2009 में बसपा के टिकट पर सांसद भी चुने गए। वे भाजपा जदयू गठबंधन से विधायक भी रह चुके हैं। 2019 लोकसभा चुनाव में धनंजय सिंह के भाजपा में शामिल होने की अटकलें थीं। लेकिन बाद में इन अटकलों को खारिज कर दिया गया। अब उनकी पत्नी ने भाजपा ज्वाइन की।

srikala reddy

हैदराबाद से करेंगी शुरुआत

निप्पो समूह घराने से ताल्लुक रखने वालीं श्रीकला रेड्डी हैदराबाद से ही अपनी राजनीतिक पारी की शुरुआत करेंगी। उनके पिता तेलंगाना के हूजूरनगर से निर्दलीय विधायक रहे हैं। हूजूरनगर तेलंगाना के सुर्यापेट जिले का तीसरा सबसे बड़ा कस्बा है। धनंजय सिंह ने 2017 में श्रीकला से शादी की थी। उनकी शाही शादी काफी सुर्खियों में रही थी।

धनंजय सिंह की तीसरी पत्नी हैं श्रीकला

 

srikala reddy

श्रीकला रेड्डी धनंजय सिंह की तीसरी पत्नी हैं। 2017 में दोनों की शादी हुई थी। इनकी पहली शादी डोभी के चांदेपुर की मूल निवासी मीनाक्षी के साथ हुई थी। शादी के डेढ़ साल बाद उनका निधन हो गया था। इसके बाद उनकी शादी डॉ. जागृति से हुई थी। लेकिन आपसी सहमति न बन पाने के कारण दोनों एक दूसरे से अलग हो गए।

बता दें कि 2014 और 2019 के लोकसभा चुनाव में धनंजय सिंह बीजेपी में एंट्री चाहते थे, मगर बाहुबली की छवि आड़े आ गई थी। जौनपुर से वह 2014 का चुनाव हार गए थे। 2019 में लड़े ही नहीं। अपनी पत्नी के भाजपा में शामिल होने पर उन्होंने उन्हें शुभकामनाएं दीं।

ये भी पढ़ें: 15 सालों से पिता ने बेटियों का किया दुष्कर्म, हुई गर्भवती तो मां ने गोली खिलाकर बंद करा दिया मुंह

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned