...तो मोदी सरकार का अगला टारगेट जनसंख्या नियंत्रण होगा? 15 अगस्त पर प्रधानमंत्री के भाषण के बाद चर्चाओं का दौर शुरू

...तो मोदी सरकार का अगला टारगेट जनसंख्या नियंत्रण होगा? 15 अगस्त पर प्रधानमंत्री के भाषण के बाद चर्चाओं का दौर शुरू

Hariom Dwivedi | Publish: Aug, 15 2019 01:15:22 PM (IST) | Updated: Aug, 15 2019 01:22:07 PM (IST) Lucknow, Lucknow, Uttar Pradesh, India

- Independence Day पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के भाषण सोशल मीडिया पर तेजी से हो रहा वायरल
- जनसंख्या नियंत्रण हो सकता है प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का अगला बड़ा कदम

लखनऊ. स्वतंत्रता दिवस पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने दिल्ली के लालकिले की प्राचीर से जनसंख्या विस्फोट का मुद्दा उठाया। उन्होंने देश में बढ़ती आबादी पर चिंता जताते हुए उसे रोकने की अपील की। प्रधानमंत्री के नरेंद्र मोदी का भाषण को लेकर यूपी सहित पूरे देश में चर्चा तेज हो गई है कि क्या प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का अगला कदम जनसंख्या नियंत्रण को लेकर होगा? सोशल मीडिया सहित यूपी की राजधानी लखनऊ में चर्चाएं शुरू हो गई हैं कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का अगला कदम जनसंख्या नियंत्रण पर हो सकता है।

ट्विवटर तरह-तरह के हैशटैग ट्वीट कर रहे हैं। कई लोग जनसंख्या नियंत्रण कानून और लाओ देश बचाओ हैशटैग से ट्वीट कर रहे हैं। लोग कह रहे हैं कि 'सारे देश की यही पुकार, जनसंख्या नियंत्रण कानून लागू करें इस बार।' कुछ का कहना है कि जनसंख्या नियंत्रण कानून देश की सबसे पहली प्राथमिकता है। ट्विटर यूजर चेतना उपाध्याय कहती हैं कि लालकिले की प्राचीर से जनसंख्या विस्फोट की चर्चा करके राष्ट्रवादियों के एजेण्डे को फिर महत्त्व दिया। जनसंख्या पर अवश्य कुछ बड़ा होगा, यह निश्चित है। कहा कि पीएम मोदी विरोधियों को सांस लेने का मौका नहीं दे रहे। लखनऊ हजरतगंज निवासी राकेश गुप्ता कहते हैं कि देखना किसी दिन ऐसा होगा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी रात आठ बजे टीवी पर आएंगे और जनसंख्या नियंत्रण को लेकर कोई कानून सुनाएंगे।

यह भी पढ़ें : डराते हैं बढ़ती आबादी के ये आंकड़े, जरूरी है परिवार नियोजन

जनसंख्या विस्फोट पर पीएम मोदी के भाषण की खास बातें
- जनसंख्या विस्फोट आने वाली पीढ़ी के लिए संकट
- जागरूक वर्ग इस जनसंख्या नियंत्रण के महत्व को समझता है
- जनसंख्या नियंत्रण भी एक तरह से देश भक्ति है
- सीमित परिवार को समझाने वाले बधाई के पात्र
- आबादी नियंत्रण के लिये छोटे परिवार पर जोर दिया
- समृद्ध और शिक्षित आबादी वाले देश देश को आगे बढ़ने से कोई नहीं रोक सकता

Independence Day 2019
खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned