यहां यूपी में कोरोना के आए 89 नए मामले, सीएम योगी ने बचाव के लिए दिए जरूरी निर्देश

- जनपद अलीगढ़, बस्ती, एटा, हाथरस, कासगंज, महोबा, श्रावस्ती कोरोना मुक्त, 36 जिलों में एक भी कोविड-19 पेशेंट नहीं मिला, कानपुर नगर में संक्रमण के सबसे अधिक मामले, 102 108 एंबुलेंस सेवाओं को बाधारहित संचालन के निर्देश, राज्य कर्मियों को स्थगित किए गए महंगाई भत्ते के मांगे प्रस्ताव

By: Narendra Awasthi

Updated: 28 Jul 2021, 09:08 PM IST

पत्रिका न्यूज़ नेटवर्क

लखनऊ. मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि राज्य सरकार की ‘ट्रेस, टेस्ट एण्ड ट्रीट’ की नीति कोविड-19 के संक्रमण को नियंत्रित करने में उपयोगी सिद्ध हुई है। नीति के प्रभावी क्रियान्वयन से प्रदेश में कोविड संक्रमण के मामलों में आशानुकूल कमी आयी है। उन्होंने कोरोना से बचाव और उपचार की व्यवस्थाओं को सुदृढ़ बनाए रखने के निर्देश दिए हैं। आज अपने सरकारी आवास पर आहूत एक उच्चस्तरीय बैठक में प्रदेश में कोविड-19 की स्थिति की समीक्षा कर रहे थे। वहीं एक अन्य निर्णय में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने वित्त विभाग को निर्देशित किया कि कोरोना का काल में राजकीय कर्मियों के स्थगित किए गए महंगाई भत्ते का प्रस्ताव प्रस्तुत करें।

यह भी पढ़ें

छात्र ने डीएम को व्हाट्सएप मैसेज कर मदद की लगाई गुहार, बोला जिंदगी भर एहसान मानूंगा, डीएम ने नहीं किया निराश

24 घंटे में 89 मामले

विगत 24 घण्टों में राज्य में कोरोना संक्रमण के 89 नए मामले सामने आये हैं। इनमें से 22 मामले जनपद कानपुर नगर के हैं। इसी अवधि में 116 संक्रमित व्यक्तियों को सफल उपचार के बाद डिस्चार्ज किया गया है। एक्टिव मामलों की संख्या 768 है। पिछले 24 घण्टों में प्रदेश में कुल 2,53,094 कोरोना टेस्ट किये गये। राज्य में अब तक कुल 06 करोड़ 47 लाख 56 हजार 42 कोरोना टेस्ट सम्पन्न हो चुके हैं।

इन जिलों में नहीं मिले संक्रमित

जनपद अलीगढ़, बस्ती, एटा, हाथरस, कासगंज, महोबा तथा श्रावस्ती में कोविड का एक भी मरीज नहीं है। पिछले 24 घण्टों में 36 जनपदों में संक्रमण का कोई नया मामला नहीं मिला। जनपद कानपुर नगर एक मात्र जनपद है, जहां दहाई संख्या में कोरोना संक्रमण के मामले प्रकाश में आये हैं। कोरोना संक्रमण के सम्बन्ध में विशेषज्ञों के भविष्य के आकलनों को देखते हुए संक्रमण के उपचार की व्यवस्था को निरन्तर सुदृढ़ बनाया जा रहा है। कोविड बेड की संख्या में वृद्धि, दवाओं के प्रोक्योरमेंट तथा चिकित्सा कर्मियों की ट्रेनिंग का कार्य सुचारु रूप से संचालित किया जा रहा है। राज्य में ऑक्सीजन संयंत्रों की स्थापना का कार्य तेजी से चल रहा है। स्वच्छता, सैनिटाइजेशन तथा फॉगिंग की कार्यवाही नियमित रूप से संचालित की जा रही है। मेडिसिन किट का वितरण जारी है।

यह भी पढ़ें

भू माफियाओं के खिलाफ बड़ी कार्रवाई, नहर को कराया गया अतिक्रमण मुक्त, मकान और दुकान जमींदोज

मुख्यमंत्री का निर्देश

मुख्यमंत्री ने निर्देश दिये कि कोविड वैक्सीनेशन का कार्य तेजी से किया जाए। कोरोना टीकाकरण का कार्य निर्बाध एवं सुव्यवस्थित ढंग से संचालित किया जाए। सभी वैक्सीनेशन सेण्टर पर पर्याप्त संख्या में वैक्सीन की उपलब्धता रहे। कोविड वैक्सीनेशन के लिए ऑनलाइन पंजीकरण की प्रक्रिया को प्रोत्साहित किया जाए। गांवों में कॉमन सर्विस सेन्टर के माध्यम से कोविड टीकाकरण हेतु प्रदान की जा रही निःशुल्क पंजीकरण सुविधा का व्यापक प्रचार-प्रसार किया जाए। बताया गया विगत दिवस तक प्रदेश में कुल 04 करोड़ 57 लाख 17 हजार 456 कोरोना वैक्सीन की डोज दी जा चुकी है।

Narendra Awasthi
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned