ISIS की आपसी सौहार्द बिगड़ने की कोशिश, कहा - बाबरी ध्वंस का लेना है बदला

आतंकवादी संगठन आईएसआईएस (ISIS) ने एक बार फिर देश में आपसी भाईचारे व सौहार्द को बिगाड़ने की कोशिश की है।

By: Abhishek Gupta

Published: 20 Oct 2020, 04:25 PM IST

लखनऊ. आतंकवादी संगठन आईएसआईएस (ISIS) ने एक बार फिर देश में आपसी भाईचारे व सौहार्द को बिगाड़ने की कोशिश की है। संगठन ने अपनी आनलाईन वेबसाइट पर प्रकाशित होने वाली मैगेजीन 'वॉयस ऑफ हिंद' (Voice Of Hind) के जरिए देश के मुसलमानों को बरगलाने की कोशिश की है व उनसे अयोध्या में बाबरी ध्वंस का बदला लेने को कहा है। साथ ही समुदाय ने पूछा है कि क्या उन्होंने देश की बड़ी अदालत का फैसला स्वीकार कर लिया है। यही नहीं आईएसआईएस ने नागरिकता संशोधन कानून (CAA) के खिलाफ खड़े होने वालों का साथ देने की बात भी कही है।

आतंकवादी संगठन ने अपनी ऑनलाइन मैगजीन में नफरत, साजिश व हिंसा से भरा लेख प्रकाशित किया है। वॉयस ऑफ हिंद नाम की ऑनलाइन मैगजीन में संगठन बाबरी विध्वंस के आरोपियों के बरी होने से खासा नाराज दिखाई देता है। वह लेख में इसका जिक्र करते हुए देश के मुसलमानों से पूछता है कि क्या उन लोगों ने हिन्दुस्तान की बड़ी अदालत का फैसला स्वीकार कर लिया है।

ये भी पढ़ें- यूपी मंत्री ने लड़कियों के लिए कहा- सभी चाकू रखें और जरूरत पड़े तो कर दें वार, बाकी...

हथियार उठाने को कहा-

भारत के खिलाफ आइएसआइएस के खतरनाक मंसूबों का भी इस पत्र के जरिए खुलासा हुआ है। नफरत भरी इस डिजिटल मैगजीन में संगठन भारतीय मुसलमानों को बरगा तो रहा ही है, उन्हें हथियार उठाने के लिए भी उकसा रहा है व उन्हें बाबरी मस्जिद विध्वंस का बदला लेने के लिए भड़का रहा है। मैगजीन को सीक्रेट टेलिग्राम चैनल्स और वेब के जरिए आइएसआइएस के आतंकी भारत में फैलाते हैं।

ये भी पढ़ें- बलिया गोलीकांडः भाजपा प्रदेश अध्यक्ष ने सुरेंद्र सिंह से की मुलाकात, दी यह सख्त हिदायत

नागरिकता कानून के खिलाफ हम हैं साथ-

आईएसआईएस मैगेजीन में यह भी कह रहा है कि वह भारत में नागरिकता कानून के खिलाफ प्रदर्शन करने वाले मुसलमानों के साथ मजबूती से खड़ा है। मैगजीन के अन्य एडिशन की तरह इसमें भी भारत के मुसलमानों को बरगलाते हुए कहा गया है कि वह हिन्दुस्तान की सरकार के खिलाफ जिहाद का रास्ता चुनें।

CAA CAA Protests
Show More
Abhishek Gupta
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned