कोरोनावायरस हो जाएगा छूमंतर अगर मानेंगे सरकारी सलाह, होम आइसोलेशन की नई गाइडलाइन जारी

- होम आइसोलेशन कर रहे कोरोना वायरस संक्रमितों के लिए गाइडलाइन
- स्टेट सर्विलांस आफिसर डा. विकासेंदु अग्रवाल का चिकित्सीय परामर्श जारी

By: Mahendra Pratap

Published: 12 Apr 2021, 02:13 PM IST

लखनऊ. उत्तर प्रदेश में कोरोना वायरस संक्रमण (Coronavirus) के नए मरीजों की संख्या लगातार रिकार्ड बना रही है। रविवार को जारी की गई रिपोर्ट में बताया गया कि बीते 24 घंटे में नए 15353 कोरोना वायरस केस पाए गए है। पर सरकार मुस्तैदी के साथ जनता की सुरक्षा का ख्याल रख रही है। सरकार ने कहाकि, कोरोनावायरस से घबराएं नहीं, तीन बार भाप लें, गुनगुना पानी पिएं और दवा की डोज इस तरीके से लेंगे तो कोरोनावायरस छूमंतर हो जाएगा।। कोरोनावायरस से ग्रसित मरीज जो घर पर रहकर (home isolation) अपना इलाज करा रहे हैं उनके लिए स्टेट सर्विलांस आफिसर डा. विकासेंदु अग्रवाल ने चिकित्सीय परामर्श जारी किया है।

उत्तर प्रदेश में कोरोना वायरस संक्रमित 67 लोगों की मौत, मचा हाहाकार

स्टेट सर्विलांस आफिसर डा. विकासेंदु अग्रवाल ने बताया कि, नई गाइडलाइन (Coronavirus Government Therapeutic home isolation guideline) के अनुसार पहले तीन दिन खिलाई जाने वाली आइवरमेक्टिन टैबलेट को अब पांच दिन तक खिलानी है। होम आइसोलेशन में मरीज दवा के साथ-साथ दिनभर में चार लीटर गुनगुना पानी पिएं और तीन से चार बार भाप जरूर लें। गर्भवती, स्तनपान कराने वाली महिलाओं व दो वर्ष से कम उम्र के बच्चों को दवाएं नहीं देनी हैं। दो वर्ष से अधिक उम्र के बच्चों को दवा देने से पहले डाक्टर से सलाह जरूर लें।

दवा लेने का तरीका, जरूरी निर्देश :-

1. मरीज का वजन 50 किलोग्राम से कम है और बुखार 100 डिग्री फारेनहाइट से कम है तो पैरासिटामोल की 500 मिलीग्राम (एमजी) की एक टेबलेट दिन भर में तीन बार लें।

2.अगर मरीज का वजन 50 किलोग्राम से ज्यादा है और बुखार 100 डिग्री फारेनहाइट से ज्यादा है तो पैरासिटामोल की 650 एमजी की एक टेबलेट दिन भर में तीन बार लें।

3.आइवरमेक्टिन की 12 एमजी की एक गोली वयस्क व्यक्तियों के लिए पूरे दिन में एक बार सिर्फ रात में भोजन के दो घंटे बाद खानी है। पांच दिन तक यह दवा खानी है।

4.डाक्सीसाईक्लिन का 100 एमजी का कैप्सूल वयस्क व्यक्ति को दिन में दो बार पांच दिन तक खाना है।

5.एजिथ्रोमाइसिन की 500 एमजी की टैबलेट वयस्क व्यक्ति को दिनभर में एक बार पांच दिन तक खानी है।

6.यदि डाक्सीसाईक्लिन पांच दिन खाने के बाद भी बुखार रहता है तो कोरोना पाजिटिव आने के छठे दिन से एजिथ्रोमाइसिन टैबलेट पांच दिन देना है। ऐसे में डाक्टर का परामर्श जरूरी है।

7.विटामिन सी की 500 एमजी की एक टैबलेट दिन में तीन बार 10 दिन तक रोगी को खानी है।

8.जिंक की 50 एमजी की एक गोली दिन में दो बार 10 दिन तक खानी है।

9.विटामिन बी कांप्लेक्स का एक कैपसूल दिन में एक बार 10 दिन तक खाना है।

10.विटाम‍िन डी थ्री -60,000 यूनिट हर सप्ताह में एक बार दूध या पानी के साथ।

इस पर ध्यान दें :- (बताएं गए ट्रीटमेंट को गर्भवती महिलाएं, स्तनपान कराने वाली महिला और दो वर्ष तक के बच्चों को नहीं देनी है। दो वर्ष से अधिक उम्र के बच्चों को दवा देने से पहले डाक्टर से सलाह जरूर लें।)

आक्सीजन 94 प्रतिशत जरूरी :- कोरोना मरीज पल्स आक्सीमीटर से दिन में तीन से चार बार श्वसन दर तथा आक्सीजन सैचुरेशन जरूर नापें। पल्स आक्सीमीटर से आक्सीजन सैचुरेशन नापें और यह 94 प्रतिशत से अधिक होना चाहिए।

योग व प्राणायाम मददगार :- कोरोना संक्रमित रोगी दिन में योग व प्राणायाम सुबह 40 से 50 मिनट तक करें। सांस से संबंधित योग व व्यायाम करें।

Mahendra Pratap
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned