scriptLucknow large part of historic Asifi Imambara Bhool Bhullaiya collapsed in heavy rain | तेज हवा और झमाझम बारिश से लखनऊ में ऐतिहासिक भूल भुलैया का गुम्बद गिरा | Patrika News

तेज हवा और झमाझम बारिश से लखनऊ में ऐतिहासिक भूल भुलैया का गुम्बद गिरा

Asifi Imambara Bhool Bhullaiya collapsed उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ में ऐतिहासिक इमामबाड़ा का एक बड़ा हिस्सा सोमवार देर रात भारी बारिश के बाद गिर गया। आसिफी इमामबाड़े में भूल भुलैया के ऊपर का गुम्बद गिर गया।

लखनऊ

Updated: August 16, 2022 10:31:02 am

लखनऊ. उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ में ऐतिहासिक इमामबाड़ा का एक बड़ा हिस्सा सोमवार देर रात भारी बारिश के बाद गिर गया। आसिफी इमामबाड़े में भूल भुलैया के ऊपर का गुम्बद गिर गया। गुम्बद के मलबे की चपेट में आए एक गाइड मुशीर घायल हो गया। झमाझम बारिश की वजह से अधिक पर्यटकों के मौजूद न होने से एक बड़ा हादसा होने से बच गया। एएसआई के अधिकारियों को घटना की सूचना दे दी गई है। मंगलवार से गुम्बद की मरम्मत का काम शुरू हो जाएगा। बेगमात रॉयल फैमिली ऑफ अवध की अध्यक्ष प्रिंसेस फरहाना मालिकी ने इमामबाड़े की बुर्जी गिरने पर सख्त नाराजगी जताई है। उन्होंने हुसैनाबाद ट्रस्ट और एएसआई पर ऐतिहासिक इमामबाड़े की देखरेख न करने का आरोप लगाया। राजधानी लखनऊ में सोमवार को भारी बारिश हुई। जमकर तेज हवाएं चलीं।
तेज हवा और झमाझम बारिश से लखनऊ में ऐतिहासिक भूल भुलैया का गुम्बद गिरा
तेज हवा और झमाझम बारिश से लखनऊ में ऐतिहासिक भूल भुलैया का गुम्बद गिरा
भारी बारिश से दीवार गिर

भारतीय पुरातत्व सर्वेक्षण एएसआई के अधीक्षण पुरातत्वविद आफताब हुसैन ने कहा कि,, स्मारक के उचित रखरखाव के बावजूद भारी बारिश के दौरान दीवार गिर गई। घटना की सूचना मिलने के तुरंत बाद, साइट प्रभारी ने क्षेत्र का दौरा किया। उनके द्वारा दिए गए इनपुट के आधार पर, इंजीनियर जाएंगे और हुए नुकसान को देखेंगे। साथ ही इसकी एक रिपोर्ट भी सौपेंगे। इसके बाद, इसे बहाल किया जाएगा। हालांकि, कार्यकर्ताओं ने कहा है कि, खराब रखरखाव के कारण इमारत कमजोर हो गई और इसके चलते एक हिस्सा ढह गया।
यह भी पढ़ें - आगरा में चंबल नदी का जलस्तर बढ़ा, अलर्ट जारी

कई बार एएसआई को सूचित किया गया - हेरिटेज एक्टिविस्ट

हेरिटेज एक्टिविस्ट मोहम्मद हैदर ने कहा, हमने कई बार एएसआई को सूचित किया है लेकिन इतनी शिकायतों के बावजूद एएसआई द्वारा संरचना को मजबूत बनाने के लिए कोई कार्रवाई नहीं की गई।
यह भी पढ़ें - नरेंद्र गिरि मामले में एफआईआर वापस नहीं होगी : महंत रवींद्र पुरी

बेगमात रॉयल फैमिली नाराज

बेगमात रॉयल फैमिली ऑफ अवध की अध्यक्ष प्रिंसेस फरहाना मालिकी ने इमामबाड़े की बुर्जी गिरने पर सख्त नाराजगी जताई है। उन्होंने हुसैनाबाद ट्रस्ट और एएसआई पर ऐतिहासिक इमामबाड़े की देखरेख न करने का आरोप लगाया। उन्होंने कहा कि, अल्लाह का शुक्र है कि कोई बड़ा हादसा नहीं हुआ है। अगर प्रदेश सरकार ऐतिहासिक धरोहरों की देखभाल नहीं करेगी तो आने वाली नस्लें ऐतिहासिक इमारतों को सिर्फ इतिहास के पन्नों में ही देखने को मजबूर हो जाएंगे। उन्होंने बुर्जी की मरम्मत जल्द से जल्द शुरू करने की मांग की।
आसिफी इमामबाड़े कब बना जानें

लखनऊ में स्थित आसिफी इमामबाड़े जिसे 1784 में अवध के नवाब आसफ.उद.दौला ने बनाया था। यह निजामत इमामबाड़ा के बाद दूसरा सबसे बड़ा इमामबाड़ा है।

सबसे लोकप्रिय

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

Weather Update: राजस्थान में बारिश को लेकर मौसम विभाग का आया लेटेस्ट अपडेट, पढ़ें खबरTata Blackbird मचाएगी बाजार में धूम! एडवांस फीचर्स के चलते Creta को मिलेगी बड़ी टक्करजयपुर के करीब गांव में सात दिन से सो भी नहीं पा रहे ग्रामीण, रात भर जागकर दे रहे पहरासातवीं के छात्रों ने चिट्ठी में लिखा अपना दुःख, प्रिंसिपल से कहा लड़कियां class में करती हैं ऐसी हरकतेंनए रंग में पेश हुई Maruti की ये 28Km माइलेज़ देने वाली SUV, अगले महीने भारत में होगी लॉन्चGanesh Chaturthi 2022: गणेश चतुर्थी पर गणपति जी की मूर्ति स्थापना का सबसे शुभ मुहूर्त यहां देखेंJaipur में सनकी आशिक ने कर दी बड़ी वारदात, लड़की थाने पहुंची और सुनाई हैरान करने वाली कहानीOptical Illusion: उल्लुओं के बीच में छुपी है एक बिल्ली, आपकी नजर है तेज तो 20 सेकंड में ढूंढकर दिखाये

बड़ी खबरें

कांग्रेस अध्यक्ष की रेस से बाहर हुए गहलोत, CM पद पर लटकी तलवार, अध्यक्ष पद के लिए इन नामों पर चर्चा तेजPunjab MMS Leak: आरोपी MBA की छात्रा गिरफ्तार हुए जवान को भी कर रही थी डेटRajasthan politics crisis विधायक अमीन खां का वीडियो वायरल, जो पैसों के लिए बिक जाते हैं, उनके नेतृत्व में राजस्थान में सरकार नहीं चलेगीMaharashtra News: उद्धव ठाकरे को लगा बड़ा झटका, बालासाहेब ठाकरे के सबसे करीबी चंपा सिंह थापा हुए शिंदे गुट में शामिलMaharashtra: 'नालायक मंत्रियों को उन्हीं की भाषा में जवाब देगा मराठा समाज', तानाजी सावंत के बयान पर किशोरी पेडणेकर का पलटवारअब राजस्थान के मुख्यमंत्री पद को लेकर सामने आया शांति धारीवाल का चौंकाने वाला बयानमाकन की विधायकों ने की फजीहत, जयपुर में किंगमेकर बने गहलोत, दिल्ली दरबार नाराजचीन को जबर्दस्त झटका: लॉन्च के 3 सप्ताह के भीतर भारत में ही शुरू हुई iPhone 14 की मैन्यूफैक्चरिंग, यहीं से होगा निर्यात
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.