10 ही दिन हुए थे शादी को, पति-पत्नी दोनों हुए कोरोना संक्रमित, पूरा परिवार पहुंचा अस्पताल

- यूपी में 24825 हुए कोरोना संक्रमित, गुरुवार को आए 817 केस, लखनऊ में बढ़ें 11 केंटेनमेंट जोन.

By: Abhishek Gupta

Published: 02 Jul 2020, 07:44 PM IST

लखनऊ. हाल ही में बिहार में एक शादी हुई थी, जिसमें दूल्हे की दो दिन बाद ही कोरोना (Coronavirus) से मौत हो गई, तो शादी (Marriage) में शामिल करीब 100 लोग संक्रमित पाए गए। ऐसे ही बुधवार को लखनऊ (Lucknow) में एक नव दंपत्ति के घर में हड़कंप मच गया। दस दिन पहले दोनों की शादी हुई थी। सर्दी जुखाम होने पर दोनों ने टेस्ट करवाया तो रिजल्ट पॉजिटिव आया, जिसके बाद परिवार के अधिकतर लोगों में भी कोरोना (Coronavirus in UP) की पुष्टी हो गई।

राजधानी लखनऊ में हुए विवाह (Marriage) समारोह में शामिल लोगों को अंदाजा नहीं होगा कि वह दरअसल कोरोना संक्रमित हो जाएंगे। लड़की पक्ष दिल्ली के थे, तो लड़का पक्ष लखनऊ के। दोनों की शादी लखनऊ में 18 जून को हुई थी, जिसमें 50 से अधिक लोग शामिल हुए थे, लेकिन उसके दस दिन बाद ही 28 जून को पति-पत्नी संक्रमित पाए गए, जबकि उनके परिवार में माता, पिता, नानी, भाई-बहन समेत आठ लोगों की रिपोर्ट बुधवार को पॉजिटिव आ गई। सभी संक्रमितों को लोकबंधु अस्पताल में भर्ती करवाया गया है। शादी समारोह में शामिल अन्य लोगों को भी संपर्क कर इस बारे में बताया गया है, साथ ही जांच के लिए बोल दिया गया है।

ये भी पढ़ें- अब लखनऊ में होगा प्रियंका गांधी का इलेक्शन वार रुम, यहां से चलाएंगी चुनावी तीर, हुई बड़ी तैयारी

24825 हुई कोरोना संक्रमितों की संख्या-

सरकार के लगातार प्रयास के बावजूद गुरुवार को एक बार फिर कोरोना ने लंबी छलांग लगाते हुए 817 लोगों को संक्रमित किया। जिसके बाद ही कुल संक्रमितों की संख्या 24,825 पहुंच गई। बुधवार को ही लखनऊ के 11 और क्षेत्रों को केंटनेमेंट जोन में तब्दील कर दिया गया। बुधवार को कुल 30 नए कोरोना पाॅजिटिव रोगी पाए गए जिसके बाद ही यहां कुल संक्रमितों की संख्या बढ़कर 1,063 हो गई है।

यूपी स्वास्थ्य विभाग के प्रमुख सचिव अमित मोहन ने बताया कि एक्टिव केसों की संख्या 6,869 हो गई है, तो वहीं रिकवर होकर डिस्चार्ज लोगों की संख्या 17221 है। प्रदेश का रिकवरी दर 69.36 चल रहा है जबकि 59.43% देश का रिकवरी दर है। कोरोना से अब तक दुर्भाग्यवश 735 संक्रमित मरीजों की मौत हो गई है। राजधानी लखनऊ में स्थिति बिगड़ती जा रही है। प्रतिदिन 20-30 नए मरीज सामने आ रहे हैं।

ये भी पढ़ें- सांसद वरुण गांधी ने पीलीभीत जिला अस्पताल के CMS से की बात, कोरोना मरीजों को पहुंचाईं बड़ी मदद

औसतन 600 मामले आ रहे सामने-
अनलॉक 1 से ही यूपी में प्रतिदिन 600 मामले सामने आ रहे हैं। हालांकि इसकी एक वजह अधिक संख्या में हो रही टेस्टिंग भी है। अमित मोहन के अनुसार अब प्ततिदिन 25000 टेस्ट किए जा रहे हैं। यह संख्या जल्द ही 30000 से ऊपर जाएगी। उन्होंने बताया कि बुधवार को प्रदेश में 24890 सैंपल्स की जांच की गई। अब तक 781584 सैंपल्स की जांच प्रदेश में की जा चुकी है। उन्होंने बताया कि जांच और इलाज की व्यवस्था राज्य सरकार की ओर से निःशुल्क की गई है। यदि किसी में कोरोना से संबंधित कोई लक्षण हों तो वे अपने मन में बिल्कुल भी हीन भावना न लाएं और न ही किसी प्रकार की कोई चिंता करें। तत्काल हमारे हेल्पलाइन नम्बर 1800 180 5145 पर कॉल करें और सलाह प्राप्त करें या अपने जिले के नजदीकी सरकारी अस्पताल में जा कर जांच व इलाज करवाएं। प्रदेश के प्रत्येक सरकारी अस्पतालों जैसे पीएचसी, सीएचसी या जिला अस्पतालों में 'कोविड हेल्प डेस्क' बनी हुई है। प्रत्येक 'कोविड हेल्प डेस्क' में पल्स ऑक्सीमीटर, इंफ्रारेड थर्मामीटर और सैनिटाइजर की भी व्यवस्था की गई है।

coronavirus
Abhishek Gupta Desk/Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned