तो इसलिये कर्नाटक में भाजपाइयों के खिले चेहरे, जानें- सीएम योगी ने कैसे बनाया जीत का माहौल

बीजेपी प्रवक्ता ने कहा कि दक्षिण भारत में यह कांग्रेस की आखिरी हार है, अब सिर्फ पंजाब और पुडुचेरी से उन्हें बाहर करना रह गया है...

By: Hariom Dwivedi

Published: 15 May 2018, 02:26 PM IST

लखनऊ. कर्नाटक विधानसभा चुनाव में रुझानों को देखकर भाजपा नेता और कार्यकर्ता उत्साहित हैं। चुनावी नतीजों को लेकर बीजेपी प्रवक्ता शलभमणि त्रिपाठी ने बड़ा बयान दिया है। उन्होंने कहा कि कहा प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने जहां-जहां जनसभायें व रोड शो किये, वहां बीजेपी को जीत हासिल हुई है। कांग्रेस पर निशाना साधते हुए बीजेपी प्रवक्ता ने इस हार को राहुल लहर का हिस्सा करार दिया। उन्होंने कहा कि दक्षिण भारत में यह कांग्रेस की आखिरी हार थी। अब सिर्फ पंजाब और पुडुचेरी से उन्हें बाहर करना रह गया है।

कर्नाटक विधानसभा चुनाव में बीजेपी जीत की ओर अग्रसर है। चुनाव परिणामों के रुझानों को देखकर स्पष्ट है कि राज्य में भाजपा की सरकार बनना तय है। 12 मई को कर्नाटक की 224 सीटों में से 222 सीटों पर मतदान हुआ था। राज्य में किसी भी दल की पूर्ण बहुमत की सरकार बनाने के लिये 112 सीटें चाहिये। शुरुआती रुझानों को देखकर लगता है कि बीजेपी पूर्ण बहुमत का आंकड़ा पार कर लेगी। गौरतलब है कि वर्ष 2013 में कर्नाटक में सिद्धरमैया की सरकार बनी थी।


यह भी पढ़ें : योगी कैबिनेट और बीजेपी संगठन में फेरबदल जल्द! अमित शाह ने दिल्ली में बुलाई बैठक

बीजेपी के स्टार प्रचारक बने योगी
यूपी विधानसभा चुनाव में जीत के बाद सीएम योगी आदित्यनाथ एक बड़े स्टार प्रचारक के तौर पर उभरे हैं। जिस राज्य में चुनाव होता है, बीजेपी उन्हें स्टार प्रचारक के तौर पर भेजती। इससे पहले योगी आदित्यनाथ त्रिपुरा और गुजरात में चुनावी कैंपेन कर चुके हैं, जहां बीजेपी ने विरोधियों को पस्त करते हुए जीत हासिल की है। कर्नाटक में सीएम योगी ने 33 विधानसभा क्षेत्रों में सात दिन 17 रैलियां कीं। इन सभी सीटों पर बीजेपी शुरुआत से ही बढ़त बनाये है। कर्नाटक चुनाव परिणाम के बाद सीएम योगी और डिमांड बढ़ गई है।

ऐसे जीता कर्नाटक
कर्नाटक में योगी आदित्यनाथ ने खुद क? नाथ थ संप्रदाय से पूरी तरह जोड़े रखा। कर्नाटक के योगेश्वर मठ का जिक्र किया। एक रात आदिचुंचुनागरी मठ में भी रुके। शिमोगा के रामचंद्रपुरा के महंत राघवेश्वर भारती से मिले। हर रैली में उन्होंने कर्नाटक से अपने पुराने रिश्तों की दुहाई दी। इसी तरह योगी आदित्यनाथ त्रिपुरा में भी नाथ सम्प्रदाय के लोगों को भाजपा के पक्ष वोट डालने के लिये प्रेरित कर सके। गौरतलब है कि त्रिपुरा में नाथ संप्रदाय को मानने वालों की तादाद लाखों में है।

 

यह भी पढ़ें : लॉ एंड ऑर्डर के मुद्दे पर अखिलेश ने योगी सरकार को घेरा, बचाव में उतरे राजनाथ सिंह

BJP Congress
Show More
Hariom Dwivedi
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned