बाबा रामदेव को रास नहीं आया नया साल, पहले महीने में हुआ अरबों रुपयों का नुकसान

  • रुचि सोया के शेयरों में जनवरी के महीने में देखने को मिल चुकी है 58.70 रुपए की गिरावट
  • रुचि सोया के मार्केट कैप को जनवरी के महीने में पहुंच चुका है 1736.58 करोड़ रुपए का नुकसान

By: Saurabh Sharma

Updated: 24 Jan 2021, 11:25 AM IST

नई दिल्ली। बाबा रामदेव के लिए नया साल कुछ अच्छा नहीं दिख रहा है। उनकी कंपनी रुचि सोया के शेयरों में गिरावट आने से रामदेव को करीब 1700 करोड़ रुपए से ज्यादा का नुकसान हो चुका है। जानकारों की मानें तो सोया और क्रूड पाम ऑयल के प्रोडक्शन में तेजी की वजह से ऑयल की कीमत में गिरावट देखने को मिली है। जिसकी वजह से कंपनी के शेयरों में गिरावट का दौर देखने को मिल रहा है। वहीं दूसरी ओर एडिबल ऑयल का आयात शुल्क पहले ही सरकार कम कर चुकी है। जिसकी वजह से और भी कीमतों में कमी देखने को मिल रही है। आइए आपको भी बताते हैं कि बाबा रामदेव की कंपनी रुचि सोया के शेयरों में कितनी गिरावट देखने को मिल चुकी है।

यह भी पढ़ेंः- दो सप्ताह तक सस्ता होने के बाद महंगा हुआ सोना और चांदी, जानिए कितने हुए दाम

जनवरी में काफी गिर गया रुचि सोया का शेयर
जनवरी के महीने में रुची सोया के शेयर में भारी गिरावट देखने को मिली है। 31 दिसंबर 2020 को रुचि सोया का शेयर 674.75 रुपए पर बंद हुआ था। जबकि 22 जनवरी 2021 कंपनी का शेयर लुढ़कते हुए 616.05 रुपए पर आ गया। यानी इस दौरान कंपनी के शेयरों में 58.70 रुपए की गिरावट आ चुकी है। जानकारों की मानें तो सोया और पाम ऑयल की कीमत में गिरावट के कारण कंपनी के शेयरों में भी गिरावट देखने को मिल रही है।

यह भी पढ़ेंः- Budget 2021 Expectations: मोबाइल इंडस्ट्री की बड़ी मांग, जीएसटी दर 18 फीसदी से हो 12 फीसदी

मार्केट कैप में भी नुकसान
रुचि सोया के शेयरों में गिरावट के कारण मार्केट कैप को भी काफी नुकसान पहुंचा है। 31 दिसंबर 2020 को कंपनी का मार्केट कैप बाजार बंद होने तक करीब 19961.87 करोड़ रुपए पर था। जोकि 22 जनवरी 2021 को 18225.29 करोड़ पर आ गया। यानी इस दौरान कंपनी के मार्केट कैप में 1736.58 करोड़ रुपए की गिरावट आ चुकी है। आपको बता दें सप्ताह के आखिरी कारोबारी दिन कंपनी के शेयर में 1.01 फीसदी की गिरावट देखने को मिली थी।

यह भी पढ़ेंः- जनवरी में 2 रुपए तक महंगा हो चुका है पेट्रोल और डीजल, जानिए आज कितने चुकाने होंगे दाम

दिसंबर 2020 में बढ़े थे शेयर
दिसंबर 2020 में कंपनी के शेयरों में बेहिसाब तेजी देखने को मिल रही थी। इसका कारण था सोया ऑयल की कीमत मकं 15 दिन के अंदर 100 डॉलर प्रति टन तक बढ़ जाना। वास्तव में उस समय अर्जेंटीना में गर्म मौसम होने की वजह से बुवाई में देरी देखने को मिली थी। इसके अलावा अर्जेंटीना में हड़ताल और केएलसी में उछाल की वजह से सीबोट पर सोयाबीन में जबरदस्त तेजी आई। अर्जेंटीना में मजदूरों की हड़ताल के कारण पेराई बंद होने से सोया तेल के दाम में जबरदस्त तरीके से बढ़े। जिसकी वजह से अंतर्राष्ट्रीय बाजार में सोयाबीन का भाव 2014 के बाद के उंचे स्तर पर पहुंच गया था। जिसकी वजह से बाबा रामदेव की रुचिसोया को भी शेयर बाजार में इसका फायदा देखने को मिल रहा था।

Saurabh Sharma
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned