आईटी दिग्गज कंपनी व्रिप्रो ने बनाया था शेयर की कीमत का यह रिकॉर्ड, टूटने के कगार पर पहुंचा

  • शुक्रवार को 4 फीसदी की तेजी के साथ 374 रुपए बंद हुआ था आईटी कंपनी विप्रो का शेयर
  • फरवरी 2000 में आईटी कंपनी विप्रो का शेयर 388 रुपए के साथ पहुंचा था ऑल टाइम हाइ पर

By: Saurabh Sharma

Updated: 11 Oct 2020, 07:48 AM IST

नई दिल्ली। देश की दिग्गज आईटी कंपनियों में से एक विप्रो के शेयरों में बीते एक सप्ताह में काफी तेजी देखने को मिली है। यह तेजी करीब 14 फीसदी की है। एक तारीख को कंपनी का शेयर 313 रुपए पर था तो बीते सप्ताह पांच कारोबारी सत्रों में 374 रुपए पर पहुंच गया है। उसके पीछे वैसे कई कारण है, लेकिन सवाल यह है कि आने वाले दिनों में विप्रो का शेयर 20 साल पुराना अपना रिकॉर्ड तोड़ पाएगा। ऐसा इसलिए कहा जा रहा है कि विप्रो शेयर करीब 20 साल पहले जिस स्तर पर पहुंचा था, उस स्तर पर पहुंचने के लिए उसे सिर्फ चंद रुपयों का ही फासला तय करना है। अगर सोमवार को भी विप्रो के शेयरों में 3 से 4 फीसदी के बीच की तेजी रहती है तो कंपनी का शेयर 20 साल पुराने स्तर को पार कर जाएगा। आइए आपको भी बताते हैं कि आखिर विप्र के शेयर को और कितने रुपयों की जरुरत है जिससे वो रिकॉर्ड तोड़ सके।

यह भी पढ़ेंः- एक साल की एफडी पर यह बैंक दे रहे हैं सबसे ज्यादा मुनाफा, लिस्ट में नहीं है सरकारी बैंक का नाम

पांच कारोबारी सत्रों में 61 रुपए की तेजी
अगर बात बीते पांच कारोबारी सत्र की करें तो विप्रो के शेयरों में 14 फीसदी की तेजी देखने को मिल चुकी है। 1 अक्टूबर को जब बाजार बंद हुआ था तो कंपनी का शेयर 313 रुपए पर था। उसके बाद बाजार सीधा 5 अक्टूबर को खुला था तब से शुक्रवार यानी 9 अक्टूबर की कीमत में 61 रुपए की तेजी देखने को मिल चुकी है। यानी कंपनी का शेयर 9 अक्टूबर को 374.10 पर बंद हुआ। वैसे कंपनी के शेयर ने आखिरी कारोबारी दिन 375 रुपए के स्तर को भी छुआ था, लेकिन वो उससे आगे नहीं बढ़ सका। ऐसे में उम्मीद लगाई जा रही है कि आने वाले दिनों में कंपनी के शेयरों में और तेजी का माहौल देखने को मिल सकता है।

ऑल टाइम हाइक के रिकॉर्ड में तोडऩे में चंद कदम की दूरी
वैसे विप्रो का शेयर अपने ऑलटाइम के हाइक के रिकॉर्ड को तोडऩे में बस चंद कदम की दूरी पर है। पहले आपको बता दें कि आखिर विप्रो का ऑल टाइम हाइक शेयर प्राइस कितना है और कब बना था? आंकड़ों की मानें तो फरवरी 2000 में कंपनी का शेयर 388 रुपए पर पहुंचा था। तो अब मौजूदा समय में कंपनी को 14 रुपए की जरुरत है। जिसके बाद कंपनी का शेयर 388 रुपए के पार जाकर ऑल टाइम हाइक पर पहुंच जाएगा। ऐसे में सिर्फ कंपनी को ही नहीं बल्कि कंपनी के शेयरों में रुपया लगाने वालों को भी इसका इंतजार है।

यह भी पढ़ेंः- चीन के खिलाफ अमरीका समेत इन 7 देशों ने की नई जंग की शुरूआत!

क्या टूट पाएगा रिकॉर्ड?
अब सबसे बड़ा सवाल है कि क्या विप्रो शेयर इस रिकॉर्ड को तोड़ पाएगा? जानकारों की मानें तो विप्रो के शेयरों को 3 से 4 फीसदी की तेजी की जरुरत होगी। जो मौजूदा समय को देखते हुए मुमकिन दिखाई दे रही है। जानकारी के अनुसार कंपनी भी बायबैक ऑफर का ऐलान कर सकती है। इसके अलावा वो दूसरी कंपनियों का अधिग्रहण भी कर रही है। वहीं टीसीएस जैसी कंपनी की वजह से आईटी सेक्टर में तेजी का आलम पहले से देखने को मिल रहा है। यह वो तमाम कारण हैं जो कंपनी के शेयरों में तेजी ला सकते हैं।

Show More
Saurabh Sharma
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned