चुनाव से पहले 3 रुपए तक सस्ता हो सकता है पेट्रोल और डीजल, आखिर क्या है वजह

इंटरनेशनल मार्केट में कच्चे तेल की कीमत में 15 दिन में 15 फीसदी से ज्यादा टूट चुका है। बीते सत्र में कच्चे तेल की कीमत में करीब 7 फीसदी की गिरावट देखने को मिली थी।

By: Saurabh Sharma

Updated: 24 Mar 2021, 11:59 AM IST

नई दिल्ली। जहां बीते 24 दिन से पेट्रोल और डीजल की कीमत में स्थिरता देखने को मिल रही थी, वहीं अब जानकारों का कहना है कि चुनाव तक पेट्रोल और डीजल की कीमत में 3 रुपए प्रति लीटर तक सस्ता हो सकता है। जानकारी के अनुसार यूरोप में कोरोना वायरस के फिर से गहराते कहर के चलते अंतर्राष्ट्रीय बाजार में कच्चे तेल की चाल सुस्त पड़ गई है। बीते सत्र में बेंचमार्क कच्चे तेल के दाम में 6.52 फीसदी की गिरावट आई है। वहीं ब्रेंट क्रूड करीब 6 हफ्ते बाद 60 डॉलर प्रति बैरल के करीब आ गया है और बीते 15 दिनों में कच्चे तेल का भाव 15 फीसदी से ज्यादा टूटा है। कच्चे तेल के दाम में गिरावट आने से भारत में बीते 24 दिनों के बाद पेट्रोल और डीजल के दाम में कटौती की गई है औार जानकार बताते हैं कि दोनों वाहन ईंधनों के दाम में आगे और राहत मिल सकती है।

3 रुपए तक सस्ता हो सकता है पेट्रोल और डीजल के दाम
आईआईएफएल सिक्योरिटीज के वाइस प्रेसीडेंट ( एनर्जी व करेंसी रिसर्च ) अनुज गुप्ता ने बताया कि कोरोना के फिर से गहराते प्रकोप के चलते अंतर्राष्ट्रीय बाजार में तेल की खपत पर असर पडऩे की आशंका बनी हुई है, लिहाजा, कीमतों पर आगे भी दबाव बना रह सकता है। हालांकि कच्चे तेल में नरमी रहने से भारतीय उपभोक्ताओं को आने वाले दिनों में पेट्रोल और डीलज के दाम में और राहत मिल सकती है। उन्होंने आने वाले दिनों में पेट्रोल और डीजल की कीमत में 3 रुपए की गिरावट देखने को मिल सकती है।

यह भी पढ़ेंः- चुनाव से पहले आम लोगों को बड़ी राहत, देश में 24 दिन के बाद सस्ता हुआ पेट्रोल और डीजल

क्यों सस्ता हुआ कच्चा तेल?
कडिया एडवाइजरी के डायरेक्टर अजय केडिया का कहना है कि यूरोप में तीसरी बार कोरोना का प्रकोप गहराने के बाद इसकी रोकथाम के लिए फिर से लॉकडाउन लगाए जाने के कारण बीते सत्र में कच्चे तेल के दाम में भारी गिरावट आई है, जिसके बाद ब्रेंट क्रूड का भाव करीब 6 सप्ताह के निचले स्तर पर आ गया है। उन्होंने हाल की रिपोर्ट से जानकारी मिली है कि लॉकडाउन लगने के कारण कच्चे तेल की कीमत डिमांड में गिरावट देखने को मिल रही है।

क्या है कच्चे तेल के दाम
अंतर्राष्ट्रीय वायदा बाजार इंटरकांटिनेंटल एक्सचेंज (आईसीई) पर ब्रेंट क्रूड के मई डिलीवरी अनुबंध में बुधवार को बीते सत्र से 0.10 फीसदी की नरमी के साथ 60.73 डॉलर प्रति बैरल पर कारोबार चल रहा था। बता दें कि 8 मार्च को ब्रेंट क्रूड का भाव 71.38 डॉलर प्रति बैरल तक उछला था जो कि इस साल का सबसे ऊंचा स्तर है। न्यूयॉर्क मर्के टाइल एक्सचेंज (नायमैक्स) पर डब्ल्यूटीआई के मई अनुबंध में बीते सत्र से 0.10 फीसदी की गिरावट के साथ 57.70 डॉलर प्रति बैरल पर कारोबार चल रहा था। अंतर्राष्ट्रीय बाजार में कच्चे तेल में आई नरमी के बाद देश में पेट्रोल और डीजल के दाम में 24 दिनों की स्थिरता के बाद तेल विपणन कंपनियों ने बुधवार को कटौती की है।

पेट्रोल और डीजल की कीमत में गिरावट
इंडियन ऑयल की वेबसाइट के अनुसार, दिल्ली, कोलकाता, मुंबई और चेन्नई में पेट्रोल के दाम घटकर क्रमश: 90.99 रुपए, 91.18 रुपए, 97.40 रुपए और 92.95 रुपए प्रति लीटर हो गए हैं। डीजल की कीमतें भी दिल्ली, कोलकाता, मुंबई और चेन्नई में घटकर क्रमश: 81.30 रुपए, 84.18 रुपए, 88.42 रुपए और 86.29 रुपए प्रति लीटर हो गई हैं। पेट्रोल के दाम में दिल्ली में 18 पैसे, कोलकाता और मुंबई में 17 पैसे जबकि चेन्नई में 16 पैसे प्रति लीटर की कटौती की गई। वहीं, डीजल का भाव दिल्ली और कोलकाता में 17 पैसे जबकि मुंबई में 18 पैसे और चेन्नई में 16 पैसे प्रति लीटर कम हो गया है।

coronavirus
Show More
Saurabh Sharma
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned