वैश्विक संकेतों से चाल पकड़ेगा घरेलू शेयर बाजार, आर्थिक आंकड़ों पर टिकी रहेगी नजर

  • अमरीका में रोजगार के आंकड़ों से बाजार में देखने को मिल सकती है तेजी
  • अमरीकी केंद्रीय बैंक-फेडरल रिजर्व की बैठक के नतीजे बुधवार को आएंगे

By: Saurabh Sharma

Published: 07 Mar 2021, 03:42 PM IST

नई दिल्ली। घरेलू शेयर बाजार इस सप्ताह भी विदेशी बाजारों से मिलने वाले संकेतों से चाल पकड़ेगा। हालांकि सप्ताह के आखिर में जारी होने वाले प्रमुख आर्थिक आंकड़ों पर निवेशकों की नजर टिकी रहेगी। कच्चे तेल के दाम, फेड की बैठक के नतीजे, डॉलर के मुकाबले देसी करेंसी रुपये की चाल और बांड बाजार के रुखों से भी देश के शेयर बाजार की दिशा तय होगी। अमरीका में रोजगार के अच्छे आंकड़े आने के बाद बीते सप्ताह वैश्विक शेयर बाजार में जोरदार तेजी रही, जिसका असर भारतीय शेयर बाजार में इस सप्ताह के आरंभिक सत्र में देखने को मिलेगा। अमरीका में बीते सप्ताह जारी आंकड़ों के अनुसार, फरवरी में 3.79 लाख लोगों को नई नौकरियां मिलीं, जिससे बेरोजगारी दर में घटकर 6.2 फीसदी रह गई, जोकि अर्थव्यवस्था की सेहत में सुधार के अच्छे संकेत हैं।

यह भी पढ़ेंः- बाबा रामदेव की हुई बल्ले-बल्ले, इस दिवालिया कंपनी ने एक साल में कराई 10 गुना कमाई

अमरीकी हलचलों से बाजार में रहेगी उठापठक
हालांकि, अमरीकी बांड की यील्ड में आगे किसी तेजी से शेयर बाजार फिर सकते में आ सकता है। अमेरिका में बांड से अच्छे रिटर्न मिलने की उम्मीदों में विदेशी निवेशक भारत जैसी उभरती हुई अर्थव्यवस्था के बाजार से अपने पैसे निकालने लगते हैं। लिहाजा, विदेशी संस्थागत निवेशकों (एफआईआई) की बिकवाली बढऩे से बाजार में कारोबारी रुझान सुस्त पड़ सकता है। वहीं, अमरीकी केंद्रीय बैंक-फेडरल रिजर्व की बैठक के नतीजे बुधवार को आएंगे जिसका बाजार को इंतजार रहेगा। इस बैठक के नतीजों की घोषणा के बाद मौद्रिक नीति के मोर्चे पर फेड के रुख को लेकर बाजार की असमंजस की स्थिति दूर होगी। इसके एक दिन बाद गुरुवार को यूरोपियन सेंट्रल बैंक ब्याज दरों को लेकर अपने फैसले की घोषणा करेगा।

यह भी पढ़ेंः- 40 दिन में एलन मस्क को 38,78,58,77,00,000 रुपए का नुकसान, जेफ बेजोस के मुकाबले कितनी कम हुई संपत्ति

घरेलू आंकड़ें पर भी रहेगी नजरें
भारतीय शेयर बाजार में इस सप्ताह गुरुवार को महाशिवरात्रि पर अवकाश होने के कारण कारोबार बंद रहेगा। अगले दिन शुक्रवार को औद्योगिक उत्पादन और विनिर्माण क्षेत्र के उत्पादन के आंकड़ों के साथ-साथ उपभोक्ता मूल्य सूचकांक आधारित खुदरा महंगाई दर के फरवरी के आंकड़े भी जारी होंगे। इन प्रमुख आर्थिक आंकड़ों पर बाजार की निगाहें टिकी रहेंगी। वहीं, विदेशी मोर्चे पर जारी होने वाले आंकड़ों का भी असर देश-विदेश के शेयर बाजारों पर देखने को मिलेगा। इस सप्ताह के दौरान बुधवार को चीन में फरवरी महीने की महंगाई के आंकड़े जारी होंगे। इसी दिन अमेरिका में भी फरवरी महीने की महंगाई के आंकड़े जारी होंगे। जानकार बताते हैं कि देश-दुनिया की आर्थिक गतिवधियों के अलावा भारत में चल रहे कोरोना टीकाकरण अभियान की प्रगति और पांच राज्यों के विधानसभा चुनावाओं को लेकर चल रही राजनीतिक गहमा-गहमी पर भी बाजार की नजर बनी हुई है।

Show More
Saurabh Sharma
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned