200 फीसदी तक बढ़ गए Vegetables Price, जानिए जून से जुलाई के बीच किस सब्जी में कितना आया फर्क

  • Vegetables Price Hike में बीते एक महीने में जोरदार हुआ इजाफा
  • Vegetables Retail Price में 25 फीसदी से 200 फीसदी तक की बढ़ोतरी

By: Saurabh Sharma

Updated: 06 Jul 2020, 01:11 PM IST

नई दिल्ली। कोरोना महामारी के संकट ( Coronavirus Crisis ) काल में अब खाने-पीने की चीजें भी महंगी होने लगी हैं। खासतौर से सब्जियों के दाम ( Vegetables Price Hike ) में बीते एक महीने में जोरदार इजाफा हुआ है। तमाम सब्जियों के खुदरा दाम ( Vegetables Retail Price Hike ) में 25 फीसदी से 200 फीसदी तक की बढ़ोतरी हुई है। टमाटर के दाम में सबसे ज्यादा इजाफा हुआ है। सब्जी कारोबारी बताते हैं कि बरसात में फसल खराब होने से कीमतों में बढ़ोतरी हुई।

Ficci Survey में दावा, Coronavirus की वजह से 70 फीसदी Startup हुए प्रभावित, 12 फीसदी हुए बंद

थोक भाव में लगातार इजाफा
आजादपुर कृषि उपज विपणन समिति(एपीएमसी) के चेयरमैन आदिल अहमद खान ने बताया कि बरसात के सीजन में आवक कम होने से ज्यादातर हरी सब्जियों की कीमतों में बीते एक महीने में वृद्धि दर्ज की गई है। खान के मुताबिक, डीजल की महंगाई के चलते भी सब्जियों की कीमतों में बढ़ोतरी हुई है। उन्होंने कहा, "सब्जी कारोबारी बताते हैं कि डीजल महंगा होने से सब्जियों की ढुलाई का खर्च बढ़ गया है।"

अगले डेढ़ साल में महंगा हो सकता Phone Call और Internet Charge, जानें क्या कहती है यह रिपोर्ट

आजादपुर मंडी में एक महीने में बदल गए सब्जियों के थोक भाव

सब्जियां जून के औसत दाम (रुपए प्रति किलो में) जुलाई के औसत दाम (रुपए प्रति किलो में)
आलू 15.25 16.15

गोभी

14.75 36

टमाटर

2.75

29
लौकी/घिया 10 12
भिंडी 14 16.50
खीरा 11 12.75

कद्दू

12 12

बैगन

15.75 15
शिमला मिर्च 10.25 16.50
तोरई 10.50 10
प्याज 6 9.50

सब्जी के खुदरा दाम ऊंचे
खुदरा सब्जी विक्रेता अशोक महतो को अपने खेतों से दुकानों तक सब्जी लाने में ढुलाई का कोई खर्च वहन नहीं करना पड़ता है, लेकिन वह भी पहले के मुकाबले अब ऊंचे दाम पर सब्जी बेचता है। अशोक महतो ने अपनी दुकान से महज एक किलोमीटर की दूरी पर कुछ बिगहे जमीन पट्टा पर लेकर उसमें बैगन, लौकी, करेला, भिंडी, खीरा आदि सब्जियों की खेती की है। अशोक महतो ने बताया कि बरसात का सीजन शुरू होने पर आमतौर पर फसल खराब होने लगती है, जिससे उपज कम होती है। यही कारण है कि सब्जियों की कीमतें बढ़ रही है।

Sovereign Gold bond Subscription : आज से मिल रहा है सस्ता सोना खरीदने का मौका, निवेश से पहले जान लें 10 मुख्य बातें

दिल्ली-एनसीआर में एक महीने में कितनी महंगी हुई सब्जियां

सब्जियां जून के पहले हफ्ते में खुदरा दाम (रुपए प्रति किलो में) जुलाई के पहले हफ्ते में खुदरा दाम (रुपए प्रति किलो में)
आलू 20-25 30-35
गोभी 30-40 60-80
टमाटर 20-30 60-80
प्याज 20-25 25-30
लौकी/घिया 20 30
भिंडी 20 30-40
खीरा 20 50
कद्दू 10-15 20-30
बैगन 20 40
शिमला मिर्च 60 80
तोरई 20 40
कैरला 15 20
Show More
Saurabh Sharma Desk/Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned