UP Panchayat Elections: ओवैसी और राजभर ने बनाया जीत का मास्टरप्लान, इस फॉर्मूले से होगा सीटों का बंटवारा

Highlights

- ओवैसी के जरिए पश्चिम में नजर आएगा भागीदारी संकल्प मोर्चा

- पंचायत चुनाव में 10 छोटे दलों के गठजोड़ ने बांटा यूपी

- ओवैसी के हिस्से में आया पश्चिमी उत्तर प्रदेश

By: lokesh verma

Published: 02 Apr 2021, 11:55 AM IST

पत्रिका न्यूज नेटवर्क
मेरठ. बिहार चुनाव और अब बंगाल विधानसभा चुनाव में अपनी जड़े जमा रहे एआईएमआईएम प्रमुख असदुद्दीन ओवैसी अब पश्चिमी उत्तर प्रदेश में पंचायत चुनाव के जरिए अपनी जड़े मजबूत करेंगे। एआईएमआईएम के पूर्व प्रदेश प्रवक्ता शादाब चौधरी ने बताया कि पंचायत चुनाव में 10 दलों को जोड़कर बने भागीदारी संकल्प मोर्चा पूरे दमखम के साथ नजर आएगा। मोर्चा के घटक दलों के बीच सीटों के बंटवारे का फार्मूला तय करने के साथ ही प्रत्याशियों की सूची तैयार की जा रही है। दो दिनों के अंदर सूची जारी करने की तैयारी है।

यह भी पढ़ें- पंचायत चुनाव में लगे सरकारी कर्मचारी ले रहे रिश्वत, वीडियो वायरल

किसके हिस्से में क्या आया

असदुद्दीन ओवैसी की एआईएमआईएम पश्चिम में तो ओमप्रकाश राजभर की सुभासपा, बाबू सिंह कुशवाहा की जन अधिकार पार्टी, कृष्णा पटेल की अपना दल (कमेरावादी) और अन्य पार्टियां पूर्वांचल व मध्य यूपी में अपनी ताकत दिखाएंगे। मोर्चा में सीटों के बंटवारे का फार्मूला यह है कि जिस दल का जो नेता लंबे समय से क्षेत्र में चुनाव की तैयारी कर रहा है और जातीय समीकरण उसके पक्ष में है उसे ही टिकट दिया जाएगा। यदि सीट आरक्षित हो गई है तो उक्त नेता को ही यह अधिकार होगा कि वह अपनी पसंद के प्रत्याशी को चुनाव लड़ाए।

2000 से अधिक सीटों पर होंगे मोर्चा के प्रत्याशी

सुहेलदेव भारतीय समाज पार्टी के अध्यक्ष विधायक ओमप्रकाश राजभर को मोर्चा संयोजक बनाया गया है। 'पत्रिका' संवाददाता से ओमप्रकाश राजभर की बातचीत के मुताबिक मोर्चा जिला पंचायत सदस्य के 2000 से अधिक सीटों पर प्रत्याशी उतारने जा रहा है। पश्चिमी उत्तर प्रदेश में भासपा, एआईएमआईएम को मजबूती प्रदान करेगी। उन्होंने बताया कि सूची दो दिनों के अंदर घोषित कर दी जाएगी। जहां पर भी जिस दल के पास मजबूत प्रत्याशी है उसे मौका दिया जाएगा।

पश्चिम के साथ पूरब में भी ओवैसी दिखाएंगे दमखम

ओवैसी की पार्टी के प्रत्याशी पश्चिम उत्तर प्रदेश के मेरठ, मुरादाबाद, अमरोहा, कन्नौज, आगरा, मुजफ्फरनगर, बिजनौर, बुलंदशहर आदि जिलों के साथ ही पूर्वांचल में आजमगढ़, मऊ, सुल्तानपुर अंबेडकरनगर, गोंडा, बहराइच तथा अन्य जिलों में भी चुनाव मैदान में होंगे। ओम प्रकाश राजभर, बाबू सिंह कुशवाहा, कृष्णा पटेल तथा अन्य सहयोगी दल पूर्वांचल और मध्य यूपी की सीटों पर अधिक प्रत्याशी मैदान में उतारेंगे। पश्चिम में भी इन दलों के प्रत्याशी होंगे, लेकिन संख्या कम होगी।

यह भी पढ़ें- कद्दावर नेता मदन भैया और राकेश टिकैत के बीच हुई गुप्त मुलाकात, पंचायत चुनाव से पहले गर्मायी सियासत

lokesh verma
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned