VIDEO: पुलिस की वर्दी में सर्राफा बाजार में वारदात करने पहुंचे दो ठगों को कांस्टेबल ने दबोचा, एसएसपी ने दिया इनाम

Highlights

  • कांस्टेबल की सजगता से दोनों ठगों को घेर लिया गया
  • कांस्टेबल आशु दिवाकर दिया पांच हजार का इनाम
  • ठगों का पता चलने पर व्यापारियों ने की जमकर धुनाई

 

मेरठ। सर्राफा बाजार (Sarrafa Bazar) में आज फिर दो ठग (Thugs) पुलिस (Police) की वर्दी में पहुंच गए। पुलिस की वर्दी पहने बदमाश इससे पहले किसी बड़ी वारदात को अंजाम देते कि एक कांस्टेबल (Constable) की सजगता के चलते दोनों पकड़ लिए गए। गुस्साए सर्राफा व्यापारियों (Sarrafa Traders) ने दोनों ठगों की जमकर धुनाई की और पुलिस के हवाले कर दिया। एसएसपी (SSP) ने कांस्टेबल की सजगता और उसकी बहादुरी से खुश होकर पांच हजार का इनाम दिया। इतना ही नहीं उसे डीजीपी (DGP) से प्रशस्ति पत्र देने की सिफारिश भी की गई है।

यह भी पढ़ेंः VIDEO: व्यापारी से चार लाख का कैश लेकर लौट रहे सराफ से 10 मीटर की दूरी पर लूट

शहर सर्राफा बाजार में पिछले काफी समय से ठगों का गैंग सक्रिय है। पुलिस की वर्दी पहनने वाला यह गिरोह बाहर से आने वाले व्यापारियों को निशाना बनाता है। गैंग के सदस्य तलाशी लेने के नाम पर अब तक दर्जनों व्यापारियों से लाखों के सोने और नकदी की ठगी कर चुके हैं। एसएसपी अजय साहनी ने बताया कि इन घटनाओं को रोकने के लिए सर्राफा बाजार में पुलिस पिकेट तैनात की गई है।

यह भी पढ़ेंः Weather Alert: तेज बारिश ने कंपकंपी बढ़ाई, अगले 72 घंटे में बढ़ेगा ठंड का प्रकोप

गुरुवार को पिकेट पर तैनात कांस्टेबल आशु दिवाकर ने खाकी वर्दीधारी बाइक सवार दो संदिग्ध लोगों को बाजार में घूमते देखा। जिस पर आशु मोबाइल से कॉल करके अगली पिकेट पर संदिग्धों के विषय में जानकारी देने लगा। इसी दौरान बाइक सवारों ने आशु पर हमले का प्रयास किया। जिस पर आशु ने हिम्मत दिखाते हुए राइफल की बट मारकर बदमाशों को रोकना चाहा। जिसके बाद हड़बड़ाहट में फरार होते बदमाशों की बाइक स्लिप हो गई और वह भागकर एक मंदिर में घुस गए।

यह भी पढ़ेंः ब्रिटेन के नागिरकों ने अपने पूर्वजों को किया नमन, 1857 की क्रांति के इतिहास को जाना, देखें वीडियो

आशु का शोर सुनकर क्षेत्र के व्यापारियों ने पुलिस की मदद से दोनों बदमाशों को धर दबोचा। गुस्साए व्यापारियों ने दोनों बदमाशों की जमकर पिटाई की। जानकारी के बाद मौके पर पहुंची पुलिस जैसे-तैसे बदमाशों को व्यापारियों के आक्रोश से बचाकर थाने लेकर पहुंची। एसएसपी अजय साहनी ने बताया कि पकड़े गए दोनों बदमाश खुद को फर्रुखाबाद का निवासी बता रहे हैं जो चश्मे और नग का काम करते हैं। इन्होंने अपने नाम निसार और अफरीदी बताए हैं। उन्होंने बताया कि बदमाशों को दबोचने वाले कांस्टेबल आशु दिवाकर को पांच हजार रुपए के नकद इनाम से सम्मानित किया गया है। इसी के साथ डीजीपी से भी उसे सम्मानित किए जाने की संस्तुति की गई है।

Show More
sanjay sharma Desk/Reporting
और पढ़े
खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned