ट्यूशन पढ़ने निकली थी चार छात्राएं, चंडीगढ़ आैर शिमला के बाद अब लोकेशन यहां मिलने से मचा हड़कंप

sanjay sharma

Publish: May, 17 2018 08:22:37 PM (IST)

Meerut, Uttar Pradesh, India
ट्यूशन पढ़ने निकली थी चार छात्राएं, चंडीगढ़ आैर शिमला के बाद अब लोकेशन यहां मिलने से मचा हड़कंप

चारों छात्राओं की लोकेशन मिलने के बाद मोबाइल स्विच ऑफ आ रहे

 

मेरठ। थाना भावनपुर क्षेत्र से ट्यूशन पढ़ने के लिए शुक्रवार को सुबह घर से निकली चार छात्राआें का अभी कुछ सुराग नहीं लगा है। पहले छात्राओं के मोबाइल की लोकेशन चंडीगढ़ मिली और उसके बाद उनके शिमला जाने की सूचना मिली थी। जिस पर मेरठ से एक पुलिस दल छात्राओं की बरामदगी के लिए भेजा गया था, लेकिन मेरठ से गया पुलिस दल वापस खाली हाथ लौट आया। घर से लापता चारों छात्राओं का कोई सुराग नहीं है। वहीं लापता चार छात्राओं की आखिरी लोकेशन भारत-पाकिस्तान के बाघा बार्डर तक मिली। इससे छात्राओं के सीमा पार जाने का अंदेशा भी जताया जा रहा है। छात्राओं के परिजनों के उनके सीमा पार जाने के अंदेशे से हाथ-पांव फूले हुए हैं।

यह भी पढ़ेंः एक हजार साल पुरानी इस मस्जिद में महमूद गजनवी ने पढ़ी थी जुमे की नमाज

यह भी पढ़ेंः चांद दिखते ही यहां होने लगी थी नमाज की तैयारी, लेकिन इस बात पर आ गए आमने-सामने

पहले मिली थी चंडीगढ़ आैर शिमला में लोकेशन

इससे पहले मेरठ पुलिस को छात्राओं की लोकेशन पहले चंडीगढ़ के एक होटल में मिली थी, लेकिन जब तक मेरठ से वहां पर पुलिस पहुंचती वे चारों वहां से शिमला के लिए रवाना हो चुकी थी। चर्चा है कि चारों छात्राओं का घर से भागकर इंडियन आयडल के लिए शिमला जाने के लिए निकली हैं। इसकी जानकारी तब लगी जब एक छात्रा ने अपनी ही बहन का वाट्सअप पर मैसेज भेजकर चंडीगढ़ में अपने होने की जानकारी दी। पुलिस को छात्राआें के एक दोस्त ने बताया कि उसने छात्राओं का एक नया सिम अपनी आईडी पर दिलवाया था, लेकिन उन्होंने दोस्त को यह नहीं बताया कि वे कहां जा रही हैं या उनके मन में क्या है। उससे तो यह कहा गया कि उसका सिम काम नहीं कर रहा उसे नए सिम की जरूरत है तो उसने सिम दिलवा दिया था।

यह भी पढ़ेंः यहां दो बच्चों की शादी मौत के 17 साल बाद हुर्इ, डीजे पर जमकर डांस, खूब उड़ार्इ दावत

यह भी पढ़ेंः योगी राज में पुलिस कर रही बड़ा खेल, इस बात पर भिड़ गए पुलिस वाले

यह था पूरा मामला

मेरठ में चार छात्राओं के एक साथ अगवा होने की सूचना से पुलिस-प्रशासन में हड़कंप मच गया है। चारों छात्राएं घर से टयूशन पढ़ने के लिए गई थी। शुक्रवार सुबह दस बजे घर से निकली छात्राओं का शनिवार देर शाम तक भी कोई पता नहीं चल सका। इन चारों छात्राओं में से दो के पास मोबाइल फोन था, लेकिन दोनों के मोबाइल फोन स्विच आफ आ रहे हैं। परिजनों ने किसी अनहोनी की आशंका व्यक्त करते हुए थाने में तहरीर दी है। क्षेत्र में चार छात्राओं के एक साथ अगवा होने की घटना से हड़कंप मचा हुआ है। कई संगठनों और ग्रामीणों ने थाने में डेरा डाल दिया है। पुलिस की टीम अगवा हुई छात्राओं की बरामदगी के लिए दबिश दे रही थी। पुलिस और परिजनों को इस बात की चिंता होने लगी है कि चारों छात्राएं किसी गिरोह के हाथ न लग जाए। वहीं छात्राओं की बरामदगी न होने से क्षेत्र के लोगों में पुलिस के प्रति रोष है। सीआे चक्रपाणि त्रिपाठी ने बताया कि टीम भेजी गर्इ थी, लेकिन चंडीगढ़, शिमला आैर वाघा बोर्डर तक लोकेशन मिली, उसके बाद लोकेशन नहीं मिल पा रही है। संभावित जगहों पर पुलिस काम कर रही है, जल्दी ही सफलता मिलेगी।

डाउनलोड करें पत्रिका मोबाइल Android App: https://goo.gl/jVBuzO | iOS App : https://goo.gl/Fh6jyB

Ad Block is Banned