खुश था वह उसके पेपर अच्छे हो रहे थे, आज परीक्षा देने घर से निकला, लेकिन...

बोर्ड परीक्षा देने निकला था बाइक से, फिर एेसा हुआ कि गांव में मच गया कोहराम

 

By: sanjay sharma

Published: 08 Feb 2018, 06:53 PM IST

मेरठ। यूपी बोर्ड की परीक्षाएं चल रही हैं। हार्इस्कूल की परीक्षा देने के लिए मवाना का मिलक सुबह परीक्षा देने के लिए अपनी बाइक लेकर घर से निकला था। मेन रोड पर थोड़ी दूर ही चला था कि सामने से आ रही एक स्कूल बस अनियंत्रित हुर्इ आैर मिलक की बाइक को जोरदार टक्कर मारते हुए आगे बढ़ गर्इ। बस चालक रुका भी नहीं आैर मौके से बस लेकर फरार हो गया। बच्चे भी भयभीत होकर चिल्लाते रह गए। आसपास के लोगों ने जब देखा, तो मिलक की मौत हो चुकी थी। कुछ लोगों ने उसकी पहचान करने के बाद घर में सूचना दी। इसके बाद कोहराम मच गया।

यह भी पढ़ेंः वेस्ट यूपी का मुख्य व्यापार केंद्र है मेरठ, पर रेलवे के पार्सल रैक हर रोज मिलते हैं एेसे, जानिए क्यों!

यह भी पढ़ेंः बीपीएल परिवारों के बुजुर्गों के लिए बीमा योजना में अब एेसे मिलेगा ज्यादा लाभ

गिरफ्तारी को लेकर जाम

सुबह के समय सड़क दुर्घटना में हुर्इ दर्दनाक मौत से पूरे गांव में कोहराम मच गया। लोग अपने-अपने काम छोड़कर दुर्घटनास्थल की आेर दौड़े। मिलक इस साल हार्इस्कूल की यूपी बोर्ड की परीक्षा दे रहा था आैर परीक्षा के लिए घर से चंद मिनट पहले ही निकला था। सभी का यही कहना था कि अभी तो उसे देखा ही था, कितना खुश था। अपने पेपर अच्छे होने बता रहा था। मौके पर पहुंचे लोगों ने बस चालक की गिरफ्तारी को लेकर मेन रोड पर जाम लगा दिया। उनका कहना था कि जब तक बस चालक की गिरफ्तारी नहीं हो जाती, तब तक छात्र का शव उठने नहीं देंगे। मौके पर पुलिस भी पहुंची, लेकिन ग्रामीण नहीं माने। तब एसडीएम मवाना अंकुर श्रीवास्तव मौके पर पहुंचे। उन्होंने लोगों को समझाया आैर बस चालक की गिरफ्तारी कराने के आश्वासन के बाद जाम खुलवाया।

यह भी पढ़ेंः 25 करोड़ की पकड़ी पुरानी करेंसी के मामले में बिल्डर के यहां इनकम टैक्स टीम को मिले हैरान कर देने वाले दस्तावेज

यह भी पढ़ेंः इस जनपद में ताबड़तोड़ वारदातें, यहां के पुलिस अफसरों को डीजी दे रहे मेडल

जमकर हुर्इ नोकझोंक

गांव की महिलाएं सड़क पर ही मिलक के शव के पास बैठकर बिलखने लगीं। मिलक का चेहरा आैर पूरा शरीर खून से लथपथ था। पुलिस जब शव का पंचनामा भरने के लिए आगे आयी, तो गांव वालों ने जमकर हंगामा कर दिया आैर पुलिस से नोकझों भी की। उनका कहना था कि जब तक बस चालक की गिरफ्तारी नहीं होती, तब तक पुलिस उनके पास न आए। एसडीएम ने मौके पर पहुंचकर स्थिति को संभाला, लेकिन इससे पहले ग्रामीणों ने उनका भी घेराव किया।

यह भी पढ़ेंः योगी जी, लाइव देखिए मेरठ में मनचला किस तरह युवती से सरेआम रही कर रहा छेड़खानी

यह भी पढ़ेंः मेरठ में हथियारों की बड़ी डील के लिए रुके थे पंजाब के कुख्यात अमरवीर सिंह और हरजोत, पाकिस्तान से नेपाल के रास्ते आनी थी खेप

 

 

 

 

Show More
sanjay sharma
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned