scriptNow the police will not stop the digging of soil with JCB in up | जेसीबी से मिट्टी की खुदाई पर अब पुलिस नहीं लगाएगी रोक, शासन ने दिए आदेश | Patrika News

जेसीबी से मिट्टी की खुदाई पर अब पुलिस नहीं लगाएगी रोक, शासन ने दिए आदेश

ईंट बनाने के लिए अब मिट्टी की खुदाई जेसीबी से की जा सकेगी। इसके लिए अब पुलिस किसी प्रकार की रोक नहीं लगाएगी। इस संबंध में शासन ने आदेश जारी कर दिए हैं। जारी आदेश के अनुसार अब पुलिस को ईंट-भट्ठों के मामले में किसी भी प्रकार का हस्तक्षेप नहीं करने के आदेश दिए गए हैं।

मेरठ

Updated: November 17, 2021 12:53:50 pm

मेरठ. ईंट भट्ठा संचालकों और मालिकों के लिए बड़ी जानकारी है। अब ईंट भट्ठों पर जेसीबी से मिट्टी खुदाई और मिट्टी ढुलाई पर पुलिस किसी प्रकार का प्रतिबंध नहीं लगा सकेगी। इस संबंध में शासन की ओर से एक आदेश जारी किया गया है। जिसके अनुसार पुलिस को ईंट-भट्ठों के मामले में हस्तक्षेप न करने के निर्देश दिए गए हैं। पहले ईंट थपाई के लिए मजदूरों द्वारा मिट्टी की खुदाई कराई जाती थी। इसी के साथ दूसरे स्थान से ईंट पथाई तक जेसीबी से लोड करने पर पुलिस भट्ठा संचालकों का उत्पीड़न करती थी।
jcb.jpg
यह भी पढ़ें

पश्चिमी यूपी की फिजाओं में फैलने लगी गुड़ की खुशबू, विदेश तक है यहां के गुड़ की धाक

पुलिस अब नहीं करेगी उत्पीड़न

उत्तर प्रदेश ईंट निर्माता एसोसिएशन ने सरकार से शिकायत की थी कि ईंट पथाई के लिए मिट्टी खुदाई व परिवहन के दौरान थाना पुलिस द्वारा लगातार ईंट मिट्टी परिवहन में प्रयुक्त होने वाले डंपर व ट्रैक्टर को रोककर उत्पीड़न किया जाता है। इतना ही नहीं अवैध वसूली भी की जाती है। रुपये नहीं दिए जाने पर वाहनों को बंद कर दिया जाता है।
शासन ने दिए आदेश

इस पर अपर मुख्य सचिव अवनीश अवस्थी ने प्रदेश के सभी पुलिस आयुक्त, डीएम व एसएसपी को लिखे पत्र में निर्देशित किया है कि जिन ईंट निर्माताओं ने भट्ठा संचालन के लिए विनियमन शुल्क जमा किया है उन्हें पुलिस अनावश्यक न तो रोके, ना ही जेसीबी से खुदाई का काम करने से रोका जाए।
मेरठ ईंट निर्माता एसोसिएशन के महामंत्री पवन मित्तल ने बताया है कि अवनीश अवस्थी द्वारा जारी किए गए पत्र की सूचना ईंट निर्माताओं को दे दी गई है। मेरठ के ईंट भट्ठा स्वामियों ने भी इस समस्या के बारे में प्रदेश नेतृत्व को अवगत कराया था।
ईंट निर्माता एसोसिएशन के महामंत्री पवन मित्तल ने बताया कि कोरोना संकट के चलते ईंट मलिक तमाम परेशानियों से जूझ रहे हैं। केंद्रीय व उत्तर प्रदेश प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड भी नए-नए कानून व प्रविधानों का ईंट निर्माताओं पर शिकंजा कस रहा है। वहीं, यह कारोबारी कड़ी शर्त व नए-नए कानून व करों में उलझ रहे हैं। जीएसटी काउंसिल की 14 वीं बैठक में ईंट पर पांच फीसद की जगह 12 फीसद जीएसटी कर दिया है। इससे ईंट की लागत और भी बढ़ गई है।
उत्तर प्रदेश ईंट निर्माता एसोसिएशन के समक्ष बढ़ी हुई जीएसटी का मेरठ के ईंट निर्माताओं ने विरोध किया है। तर्क भी दिया गया है कि कोरोना संकट के बीच ईंट निर्माताओं को भारी नुकसान का सामना करना पड़ा था।
अभी थानों में नहीं पहुंचा है ये आदेश-एसपी सिटी

वहीं, मेरठ के एसपी सिटी विनीत भटनागर ने बताया कि इस तरह के आदेश आए हैं। जिसमें पुलिस को ईंट बनाने के लिए जेसीबी से मिट्टी निकालने पर पुलिस हस्ताक्षेप ना करने के निर्देश दिए गए हैं, लेकिन अभी थानों में ये आदेश नहीं पहुंचे हैं।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

बड़ी खबरें

Corona Update in Delhi: दिल्ली में संक्रमण दर 30% के पार, बीते 24 घंटे में आए कोरोना के 24,383 नए मामलेSSB कैंप में दर्दनाक हादसा, 3 जवानों की करंट लगने से मौत, 8 अन्य झुलसे3 कारण आखिर क्यों साउथ अफ्रीका के खिलाफ 2-1 से सीरीज हारा भारतUttar Pradesh Assembly Election 2022 : स्वामी प्रसाद मौर्य समेत कई विधायक सपा में शामिल, अखिलेश बोले-बहुमत से बनाएंगे सरकारParliament Budget session: 31 जनवरी से होगा संसद के बजट सत्र का आगाज, दो चरणों में 8 अप्रैल तक चलेगाHowrah Superfast- हावड़ा सुपरफास्ट से यात्रा करने वाले यात्रियों को परिवर्तित मार्ग से करना पड़ेगा सफर, इन स्टेशनों पर नहीं जाएगी ट्रेनपूर्व केंद्रीय मंत्री की भाजपा में वापसी की चर्चाएं, सोशल मीडिया पर फोटो से गरमाई सियासतTrain Reservation- अब रेल यात्रियों के पांच वर्ष से छोटे बच्चों के लिए भी होगी सीट रिजर्व, जानने के लिए पढ़े पूरी खबर
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.